logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

पिहानी(हरदोई)।  कस्बे मे दीपावली व करवाचौथ को लेकर बाजारों में बनी रौनक उत्साह को बढ़ा रही है। त्योहारों की खरीददारी के लिये प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग बाजार में पहुंच रहे हैं। इसको लेकर दुकानदार भी खुश हैं।

करवा चौथ, पुष्य नक्षत्र, धनतेरस और दीपावली के लिये सजे बाजार ग्राहकी से गुलजार हैं। घरों को सजाने की सामग्री से लेकर बही खातों की दुकानों भी तैयार हो चुकी है और व्यवसाय भी चल रहा है। अन्य व्यवसायियों ने भी दुकानों को सजाते हुए तैयारियां कर ली हैं।

प्रकाश गुप्ता, प्रदीप, नीरज रस्तोगी आदि व्यवसाइयों का कहना है कि नवरात्र के बाद से ही अच्छा व्यापार चल रहा है, आने वाले दिनों में और बेहतर व्यवसाय की उम्मीद है। दीपावली पर्व को लेकर बाजारों की रौनक लगातार बढ़ रही है।

कस्बे की मुख्य सड़कों पर सजावट और दीपावली पर खरीदे जाने वाले सामानों की दुकानें सजी हुई हैं। बाजार में प्रतिदिन बड़ी संख्या में लोग खरीदारी के लिए पहुंच रहे हैं। इससे शहर के मुख्य बाजार में रोज जाम की स्थिति भी बन रही है।

नवरात्र के बाद से ही बाजार गुलजार है। अब करवा चौथ पर्व को लेकर बाजार में खरीदारी चल रही है। पुष्य नक्षत्र, धनतेरस, रूप चतुर्दशी एवं दीपावली के शुभ मुहूर्त में ज्वेलरी, फर्नीचर और इलेक्ट्रानिक्स उपकरण की खरीदी के लिए लोगों द्वारा बुकिंग की जा रही है। वाहन शो रूम संचालकों के अनुसार पुष्य नक्षत्र, धनतेरस और दीपावली पर वाहन खरीदी के लिये अब तक 45 से अधिक वाहनों की बुकिंग हो चुकी है। ●सभी बाजारों में उत्साह● कस्बे के मुख्य बाजार सहित नई आबादी, बस स्टैंड, कटरा बाजार, बन्दर पार्क क्षेत्र में स्थित कपड़ा, जूते, किराना आदि वस्तुओं की दुकानों पर लोगों द्वारा खरीदारी की जा रही है। इसके साथ ही वाहन बाजार में भी उत्साह है। सराफा बाजार, बर्तन, इलेक्ट्रॉनिक्स, फर्नीचर बाजार में भी खूब ग्राहकी हो रही है। दुकानदारों का कहना है कि कोरोना से राहत के बाद अब बाजार में त्यौहारी उत्साह ने सभी सन्नााटा दूर कर दिया है। दीपावली पर रोशनी के लिए मिट्टी के दिये भी बड़ी मात्रा में निर्माता तैयार कर रहे है। घर-आंगन एवं दुकानों को सजाने की सामग्री की दुकानों पर भी खूब भीड़ उमड़ रही है। ●लॉकडाउन के बाद सुस्त बाजारों को त्यौहारी सीजन ने दी संजीवनी● इस वर्ष 24 अक्टूबर को करवाचौथ व चार नवंबर को दीपावली का त्योहार है। नवरात्र से ही बाजार में कारोबार बेहतर हो गया है। इससे लाकडाउन के बाद त्यौहारी ग्राहकी ने सुस्त बाजार को संजीवनी देने का काम किया है। लोग घरों को सजाने से लेकर कपड़ों व जूतों सहित अन्य खरीददारी में अभी से जुट गए हैं। इसके साथ ही धनतेरस के त्योहार को लेकर आभूषण विक्रेताओं ने तैयारी कर ली है। दुकानों पर लक्ष्‌मी-गणेश व अन्य देवी-देवताओं की मूर्तियों को मंगा लिया गया है। करवाचौथ से पहले कपड़ा बाजार में सबसे ज्यादा उत्साह है। मिट्टी के सुंदर करवे की दुकानें भी सजी है।

20
2157 views
1 comment  
2 shares
  • Mahesh Sharma

    करवाचौथ की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं।