logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

मऊ। जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक सम्पन्न स्वास्थ्य सेवाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता स्वीकार्य नहीं जिलाधिकारी ने समीक्षा के दौरान कई कार्यक्रमों में प्रगति खराब पाये जाने पर सैदाबाद, मऊ, रामनगर के एमओआईसी से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के दिये निर्देश जिलाधिकारी श्री संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में मंगलवार को संगम सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।

बैठक में जिलाधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना, परिवार कल्याण कार्यक्रम, नियमित टीकाकरण, आशा भुगतान, हेल्थ एण्ड वेल्नेस सेंटर, राष्ट्रीय क्षयरोग उन्मूलन कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ रोग उन्मूलन कार्यक्रम सहित अन्य योजनाओं की प्रगति के सम्बंध में बिंदुवार समीक्षा करते हुए कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही या उदासीनता क्षम्य नहीं है।

जननी सुरक्षा योजना की समीक्षा में मऊआइमा, रामनगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की प्रगति खराब पाये जाने पर प्रभारी चिकित्साधिकारी को स्पष्टीकरण देते हुए अगली बैठक तक इसमें तेजी लाये जाने का निर्देश दिया है साथ ही साथ यह भी हिदायत दी है कि अगली बैठक तक यदि प्रगति अच्छी नहीं पायी गयी तो कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

संस्थागत प्रसव की समीक्षा में करछना एवं मेजा स्वास्थ्य केन्द्र की प्रगति खराब पाये जाने पर सम्बंधित एमओआईसी से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व वंदना योजना के अन्तर्गत हाईरिस्क प्रेग्नेंसी के चिन्हीकरण में कौड़िहार, सैदाबाद एवं मेजा की प्रगति खराब पाये जाने पर जिलाधिकारी ने एमओआईसी कोरांव को चेतावनी देते हुए अगली बैठक तक इसमें सुधार लाये जाने का निर्देश दिया है।

टिटनेस तथा डिपथीरिया टीकाकरण की समीक्षा करते हुए कौंधियारा और सैदाबाद स्वास्थ्य केन्द्र की प्रगति खराब पाये जाने पर सम्बंधित एमओआईसी से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। इसी तरह पूर्ण टीकाकरण की समीक्षा में जसरा, धनूपुर और सोरांव की प्रगति खराब पाये जाने पर सम्बंधित एमओआईसी से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। आशाओं के भुगतान की प्रगति खराब पाये जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल भुगतान की कार्यवाही सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। हाईरिस्क प्रेग्नेंसी रजिस्टेªशन में हण्डिया, कौंधियारा और सोरांव की प्रगति की समीक्षा करने का निर्देश दिया है।

परफार्मेंस आफ फस्र्ट रेफरल की समीक्षा में करछना, फूलपुर के एमओआईसी से स्पष्टीकरण, सुरक्षित मातृत्व अभियान में कौड़िहार, सैदाबाद के एमओआईसी से स्पष्टीकरण देने एवं बच्चों का रजिस्टेªशन में लापरवाही पाये जाने पर एमओआईसी कौंधियारा से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिये है।

हेल्थ एवं वेल्नेंस सेंटर की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने नये बनने वाले वेल्नेस सेंटर के निर्माण की कार्यवाही शीघ्रता से सुनिश्चित कराये जाने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग से सम्बंधित अन्य कार्यक्रमों की समीक्षा करते हुए कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं के क्रियान्वयन में कोई भी लापरवाही स्वीकार्य नहीं होगी।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी श्री शिपू गिरि, मुख्य चिकित्साधिकारी श्री नानक सरन, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी के अलावा, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी तथा अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

0
52 views