logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से निर्देश देते हुए कहा कि 18 व 19 अगस्त को दो दिन के लिए जिलों में शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के सभी डिपो में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत अन्नोत्सव को बड़े ही धूमधाम तरीके से मनाना है।

उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से कोरोनाकाल का दौर गुजर रहा है जिस वजह से लोगों में एक भय का माहौल बना रहा और लोगों के चेहरे पर निराशा झलकने लगी लेकिन अब कुछ समय से स्थिति सामान्य होने पर प्रदेश सरकार द्वारा हर गरीब को राशन उपलब्ध करवाने के लिए इस उत्सव को बड़े ही हर्षोउल्लास के साथ मनाना है। समाज में ऐसे उत्सवों की परम्परा शुरू से ही चली आ रही है।

इसलिए इस संकट में किसी के पास अन्न की कमी ना हो और हर गरीब व्यक्ति को भोजन उपलब्ध हो इसी सोच के साथ प्रदेश सरकार ने यह फैसला लिया है।

उन्होंने सभी जिला उपायुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि वन नेशन-वन राशनकार्ड के तहत हर पात्र व्यक्ति को इसका लाभ मिलना चाहिए व टीमे बनाकर तथा सामाजिक संगठनों का सहयोग लेकर ऐसे लाभार्थियों को तय सीमा में चयनित करके 18 और 19 अगस्त को पात्र व्यक्तियों को इस योजना का लाभ मिलना चाहिए।

उन्होंने बताया कि इस दिन 5 किलोग्राम और 10 किलोग्राम राशन के थैले सभी लाभार्थियों को बाटे जाएंगे। प्रधानमंत्री का यह संकल्प है कि हर परिवार सशक्त हो सम्पूर्ण हो और संकट के समय में निश्चित हो। इसी संकल्प के तहत प्रदेश सरकार द्वारा हर घर को राशन सम्पूर्ण आहार स्वस्थ परिवार के साथ यह सुनिश्चित किया गया है कि हर गरीब का पेट भरा जा सके।

उन्होंने सभी जिला उपायुक्तों को निर्देश देते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा हर डिपो पर यह निगरानी रखी जाए कि किसी भी लाभार्थी को राशन मिलने में कोई कठनाई ना हो। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अन्तोदय योजना, परिवार उत्थान योजना के तहत सर्वे करवाकर उन परिवारों का पता लगाया जाए जिनकी आय वार्षिक एक लाख से कम है। प्रदेश सरकार 2024 तक प्रदेश को रोजगार युक्त बनाने की दिशा में काम कर रही है।

बैठक के उपरान्त जिला उपायुक्त सुशील सारवान ने सभी अधिकारियों को आदेश देते हुए कहा कि इस उत्सव को मनाने के दौरान कोविड नियमों का पालन अच्छी प्रकार से होना चाहिए और खाद्य एवं पूर्ति विभाग व लोकसम्पर्क विभाग द्वारा प्रचार अच्छी प्रकार से होना चाहिए ताकि गरीब लोगों को इस योजना का लाभ ज्यादा से ज्यादा मिल सके। उन्होंने कहा कि कोई भी गरीब व्यक्ति इस योजना से वंचित ना रह सके इसलिए सामाजिक संगठनों का भी सहयोग लिया जाएगा तथा बरसात के मौसम के कारण राशन को भीगने से बचाने के लिए उचित व्यवस्था व प्रबंध होने चाहिए। उन्होंने बताया कि डिपोधारकों द्वारा भी यह सुनिश्चित किया जाए कि हर डिपो पर कार्यक्रम शुरू करने से पहले दीप प्रज्जवलित किया जाए और कोविड नियमों का पालन अच्छी प्रकार से किया जाए। इस मौके पर डीएफएससी सुभाष सिहाग, जिला सूचना एवं जनसम्र्पक अधिकारी देवेन्द्र कुमार, सहायक खाद्य एवं पूर्ति अधिकारी देवेन्द्र काद्यान व अन्य सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे।

17
3344 views
  
37 shares