logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

जरमुण्डी (दुमका, झारखण्ड)।  उत्क्रमित मध्य विद्यालय कैरो,जरमुण्डी (उत्तरी) के  प्रांगण में सभी शिक्षकों ने गुरुवार को उपस्थित होकर अन्तरराष्ट्रीय हाथ धुलाई दिवस  मनाया।

इस अवसर पर सभी शिक्षकों ने हाथ धोकर DIGI-SATH ग्रुप के द्वारा ये message देने की कोशिश की कि कोरोना बीमारी से बचने के लिए हाथ को कब और कैसे धोया जाय।साथ ही साथ zoom app   के द्वारा vebinar के माध्यम से बच्चों से हाथ धुलाई के कारण और परिणामों पर विस्तृत चर्चा हुई। 

इस अवसर पर शिक्षक पवन कुमार ने संबोधन में विद्यार्थियों को अपने ही घरों में हाथ धोने के सही तरीकों के बारे में बताया। साथ ही इससे होने वाले फायदों की जानकारी भी विद्यार्थियों को दी गई। विद्यालय के लगभग 50 छात्र-छात्राओं ने ऑनलाइन हाथ धुलाई कार्यक्रम में भाग लेकर इसके तरीके जाने और हाथ धुलाई का शपथ लिया। विश्व हाथ धुलाई दिवस के मौके पर शिक्षकों ने ऑनलाइन सभी छात्र-छात्राओं को हाथ धोने के अलग-अलग कदमों के बारे में प्रयोग कर के बताया। 

इस दौरान शिक्षकों ने विद्यार्थियों को बताया कि, 'इस दिवस का उद्देश्य बहुत व्यापक है। केवल हाथ धोना पर्याप्त नहीं है। हाथ कब और कैसे धोया जाए, यह बात मायने रखती हैं। सफाई को विद्यार्थी अपनी दिनचर्या बनाएं। खुद भी सफाई रखें और लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें।'

 उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि, 'गंदगी की वजह से कई तरह की संक्रामक बीमारियां होती हैं। सफाई रख कर हम कई बीमारियों से बचे रह सकते हैं।'

 मौके पर प्रभारी मो. अंसार आलम,  पवन कुमार राउत , नरेन्द्र कुमार ,  संतोष कुमार दरवे उपस्थित थे !

126
10347 views