logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

उपायुक्त, गढ़वा रमेश घोलप के निदेशानुसार अपर समाहर्ता गढ़वा, पंकज कुमार सिंह, निदेशक डीआरडीए दिनेश प्रसाद सुरीन एवं सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा नीतीश कुमार निशांत द्वारा समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में जनता दरबार का आयोजन किया गया। जनता दरबार में प्राप्त आवेदनों व शिकायत पत्रों के त्वरित निष्पादन हेतु संबंधित विभागों के पदाधिकारियों को भेजा गया। सर्वप्रथम सगमा प्रखंड के ग्राम कटहर कला के ग्रामीण जनता ने सामूहिक रूप से एक आवेदन पत्र समर्पित करते हुए राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय कटहर कला में बच्चों के बीच प्रतिपूर्ति राशि के वितरण में अनियमितता बरतने की शिकायत की है। आवेदन के माध्यम से बताया गया कि विद्यालय में बच्चों के बीच वितरण के लिए प्रतिपूर्ति की राशि सरस्वती वाहिनी संचालन समिति राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय कटहर कला के खाते में प्राप्त हुआ था, परंतु प्रधानाध्यापक एवं समिति के अध्यक्ष, संयोजिका आदि के द्वारा भारी अनियमितता बरतते हुए बच्चों के खाते में निर्धारित राशि के विरुद्ध कम राशि का वितरण किया गया है। उक्त मामले की जांच कराते हुए उचित कार्यवाही करने का अनुरोध किया गया है। इसी प्रखंड के कटहर कलां के उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय कदकवा के शिक्षक की शिकायत करते हुए राजेश विश्वकर्मा ने बताया कि शिक्षक द्वारा विद्यालय का संचालन मनमानी ढंग से कराया जाता है जिसके कारण बच्चों के पठन-पाठन कार्य बाधित हो रहा है। उन्होंने बताया कि कार्य दिवस में भी उक्त शिक्षक सूर्यदेव राम के द्वारा विद्यालय बंद रखा गया था जिसकी शिकायत प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी सगमा से की गई, लेकिन कोई कार्यवाही न होने के उपरांत जनता दरबार में आने की आवश्यकता हुई। उन्होंने उक्त विद्यालय से पदस्थापित शिक्षक सूर्यदेव राम को हटाकर किसी अन्य शिक्षक को पदस्थापित करने का अनुरोध किया है। मेराल प्रखंड के चटनिया निवासी राजेंद्र चौधरी ने आवेदन पत्र समर्पित करते हुए प्रधानमंत्री आवास का लाभ प्रदान करने के संबंध में अनुरोध किया है। उन्होंने बताया कि वे एवं उनकी पत्नी दोनों दिव्यांग एवं निर्धन है। रहने हेतु एक जर्जर मिट्टी का मकान है। सदर प्रखंड के लगमा एवं अकलवानी निवासी ग्रामीणों ने आवेदन पत्र समर्पित करते NH-75 अंतर्गत बनने वाले 4 लेन में जा रहे उनके जमीन की उचित मुआवजा हेतु आवेदन पत्र दिया है। उन्होंने बताया कि भू-अर्जन विभाग एवं अंचल कार्यालय द्वारा क्षतिपूर्ति के लिए निर्धारित राशि बाजार दर से कम है। मेराल प्रखंड के पिंडरा निवासी संजय कुमार मोची, प्रदीप राम, राजेश राम आदि ने आवेदन पत्र देते हुए अवैध तरीके से खुले डिमांड को जांच कराकर जमीन को अवैध कब्जे से मुक्त कराने के संबंध में आवेदन पत्र समर्पित किया है। उन्होंने बताया कि अंचल कार्यालय की गलती अथवा मिलीभगत से जमीन का डिमांड अन्य व्यक्तियों यथा- सरफुद्दीन अंसारी, मुंगवा देवी, रीना कच्छप, गीता देवी, करम कुशवाहा, मुहम्मद तुगलक खान आदि के नाम डिमांड खोल दिया गया है। उन्होंने उक्त मामले की जांच कराते हुए जमीन को अवैध कब्जा से मुक्त कराने का अनुरोध किया है। इससे इतर जनता दरबार में आए दिव्यांग प्रदीप विश्वकर्मा, मंझिआंव मोड़ गढ़वा एवं महेंद्र पासवान, तिलदाग गढ़वा को उनकी आवश्यकता अनुरूप उपायुक्त गढ़वा रमेश घोलप द्वारा मौके पर ही तत्काल ट्राईसाइकिल प्रदान किया गया। जनता दरबार में अन्य विषयों यथा- जमीन पर अवैध कब्जा, भूमि विवाद, जमीन संबंधी अन्य मामले, अतिक्रमण, राशन कार्ड निर्माण एवं आवास आदि से संबंधित मामले भी आएं जिन्हें त्वरित कार्रवाई हेतु संबंधित विभाग के पदाधिकारियों को भेजा गया। विदित हो कि माह के प्रत्येक सोमवार एवं शुक्रवार के दिन आम जनों की समस्याओं के समाधान हेतु उपायुक्त गढ़वा द्वारा जनता दरबार का आयोजन किया जाता है।

89
3845 views
  
1 shares