logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

जोगिन्द्रनगर.डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के शहीदी दिवस के अवसर पर जोगिन्द्रनगर भाजपा मंडल भाजपा कार्यालय मेें समारोह का आयोजन किया गया । जिसमें मंडल अध्यक्ष पंकज जमवाल ने मुखर्जी की फ ोटो पर पुष्प अर्जित करते हुये दीप जलाया। जमवाल ने कहा कि मुखर्जी दूरदर्शी सोच एंव एक पढे लिखे व्यक्ति थे। वह कलकता विश्वविद्यालय के कु लपति रहे। उनके कार्यकाल में ही दीक्षांत समारोह की परमंपरा को शुरू किया। वर्ष 1944 में वह हिंदू महासभा के अध्यक्ष नियुक्त हुये। 1947 में जवाहर लाल नेहरू वाली पहली केबनेट में वह इंडस्त्री एंव सप्लाई मंत्री बने। उनका ध्येय देश को एक सूत्र में पिरोना था। उन्होनें ही एक देश में दो विधान दो प्रधान और दो निशान नहीं चलने की बात कही थी। पंडित जवाहर लाल नेहरू की गलत नीतियों से तंग आ कर उन्होनें नेहरू मंत्रीमंडल से त्याग पत्र दे दिया था। वर्ष 1951 में उन्होनें राष्ट्रीय सेवक संघ की स्थापन की। उससे अगले साल हुये चुनावों में तीन सांसद जनसंघ के चुने गये उसमें मुख्र्जी भी एक थे। 23जून 1953 को रहस्यमय परिस्थितियों में उनका देहान्त हो गया। मां भारती का लाल दुनिया को छोड कर चला गया। जमवाल ने कहा कि मुखर्जी के बलिदान को यह देश कभी नही भुला पायेगा। इस अवसर पर प्रदेश भाजपा महिला मोर्चा की सदस्य आशा ठाकुर,जिला परिषद सदस्य ममता भाटिया,जिला भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष राकेश जमवाल,महासचिव अजय सकलानी,भाजयुमो अध्यक्ष गगन ठाकुर,कौषाध्यक्ष व मीडियाप्रभारी राजीव सूद तथा सहमीडिया प्रभारी अजय बाबा मौजूद रहे।

0
0 views
  
1 shares