logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....



गोंदिया शहर के ऐतिहासिक सामाजिक सौहार्द्र की परंपरा के साथ मुख्य मार्ग का ‘गुरु गोबिंद सिंह मार्ग’ नामकरण कर लोकार्पण संपन्न


गोंदिया शहर के गुरुद्वारा श्री गुरुसिंह सभा, श्री गुरु गोबिंदसिंह के सिख धर्मियों-अनुयायियों एवं अनेक सामाजिक संस्थाओं द्वारा बहुप्रतीक्षित माँग के अनुसार ऐतिहासिक सामाजिक सौहार्द्र की परंपरा के साथ रेलटोली स्थित मुख्य गुरुद्वारा चौक से पाल चौक तक के मुख्य मार्ग का नाम ‘गुरु गोबिंद सिंह मार्ग’ यह नामकरण घोषित कर कोणशिला का अनावरण करते हुए अशोक इंगले, अध्यक्ष नगर परिषद गोंदिया द्वारा लोकार्पित किया गया।*
इस अवसर पर नगराध्यक्ष श्री अशोक इंगले ने कहा कि सिख धर्म के दसवें महान गुरु श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के नाम से आज से इस मुख्य मार्ग को जाना जाएगा। तत्पश्चात उन्होंने गुरुद्वारा में श्री गुरु गोविंदसिंह को नमन कर अभिवादन किया। उन्होंने इस कार्य के पूर्ण होने पर प्रसन्नता व्यक्त की।
गुरुद्वारा श्री गुरुसिंह सभा की ओर से ग्रंथी सतपालसिंह एवं हजूरी रागी हरमिंदरसिंह खालसा द्वारा अरदास की गई एवं उपस्थित सभी नागरिकों ने ‘वाहेगुरुजी का खालसा, वाहेगुरुजी की फतेह’ का नारा देकर गुरु गोबिंद सिंह जी के चरणों में नमन कर जयकारा ‘ बोले सो निहाल सत श्री अकाल’ का उद्घोष किया।
इस अवसर पर बांधकाम सभापति राजकुमार कुथे, गटनेता शकील मंसूरी, गटनेता घनश्याम पानतवने, नगरसेविका रत्नमाला ऋषिकांत साहू, नगरसेवक सचिन गोविंदभाऊ शेंडे, जिला उपाध्यक्ष भाजपा नंदकुमार बिसेन, भाजपा वरिष्ठ सदस्य एवं मार्गदर्शक(समाज सेवक) श्री इंद्रकुमार (पप्पू) अरोरा, जिला सचिव भाजपा अमृत इंगले, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा गोंदिया शहर अध्यक्ष जसपाल सिंह चावला, जिला सचिव भाजपा ऋषिकांत साहू, आजिंक्य इंगले, मुख्य कार्यकारी अभियंता डॉली मदान, गुरुद्वारा श्री गुरुसिंह सभा के अध्यक्ष मंगतसिंह होरा , गुरभेजसिंह भाटिया, गुरुदयालसिंह रामानी, गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा के पूर्व अध्यक्ष हरजीतसिंह जुनेजा, दविंदरपालसिंह भाटिया, सतबीरसिंह मथारू, जसमीतसिंह भाटिया, गुरुद्वारा श्री गुरु तेग बहादर साहिब के अध्यक्ष प्रितपाल सिंह होरा, किशनगांधी (समाज सेवक), हरजीतसिंह चावला( समाज सेवक), सतनामसिंह चावला, प्रीतपालसिंह गुलाटी, तीरथसिंह भाटिया, गिनदरकुमार (मोती) अरोरा, मुरली राही , दलजीत सिंह बग्गा , राजू बग्गा ,हरलीनसिंह होरा, सुरेंद्रसिंह सलुजा, अवनीतसिंह भाटिया, धनवंतसिंह भाटिया, गुरुमीतसिंह भाटिया, जसपालसिंह बाले भाटिया, अमरजीतसिंह भाटिया, तनवीरसिंह वदन, इंदरसिंह रामानी, दलजीतसिंह राजा गुरुदत्ता, रोजी गुलाटी, सुरजीतसिंह सलुजा, सुरजीतसिंह भाटिया, बलवीरसिंह भाटिया, लखविंदरसिंह भाटिया, परमजीतसिंह होरा, दविंदरसिंह होरा, हरपालसिंह होरा, अमनदीपसिंह मथारू, सरबजीतसिंह मान, मीनू बग्गा, मरदानासिंह चावला, किरतसिंह गुलाटी, जसबीरसिंह मिसन, चंद्र पर्यानी ,चौजी गुरु दत्ता सहित सिख समाज के अनेक गणमान्य सदस्य सहित वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप मेमोरियल संस्था के अध्यक्ष सुभाषसिंह बैस, उदय प्रमर, विजयसिंह बैस, प्रदीपसिंह ठाकुर, मनमोहनसिंह ठाकुर, नीतीश शहा, आनंद ठाकुर, कमल ठाकुर, मनोज टेहरा, अशोक शर्मा, समीर बैस, अरविंद चौरसिया, संजय मुरकुटे, रिंकू शर्मा, गोविंद महाराज, नीरज ठाकुर, मनोज पारेख, प्रफुल्ल चावड़ा, राजेश चौहान, योगेश सोलंकी, अप्पाराव पंढरी इत्यादि प्रमुखता से उपस्थित थे।
लोकार्पण कार्यक्रम में सिख धर्म के अनुयायियों, नगर परिषद के बांधकाम विभाग के कनिष्ठ अभियंता श्री दाते, श्री कावड़े श्री जुनघरे, श्री डोंगरे तथा कर्मचारी, सहित शहर के नागरिक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

5
1763 views