logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Rakeshkumar Ramteke
All India Media Association

*परिसर के विकास के लिए राष्ट्रवादी काँग्रेस को विजयी करे - सौ. वर्षाताई पटेल*

आज आमगांव तालुका के चुनावी  भेट कार्यक्रम दरम्यान किकरिपार जिल्हापरिषद, कट्टीपार पंचायत समिति व अंजोरा पंचायत समिति के भेंट कार्यक्रम में श्रीमती वर्षाताई पटेलजी ने राष्ट्रवादी काँग्रेस पार्टी के उम्मीदवारों को विजयी बनाने का आवाहन किया। यह चुनाव शेतकरी, शेतमजूर व समस्त नागरिकों के दृष्टीकोन से अत्यंत महत्वपूर्ण है। इस क्षेत्र का विकास करणे एंव कठीण समस्याओं का निराकरण करणे की क्षमता रखने वाले श्री पटेल जी एंव राष्ट्रवादी काँग्रेस पक्ष के उम्मीदवार के साथ जनता ने खडे रहने की जरुरत है। सांसद श्री प्रफुल पटेल जी जैसे विकासात्मक नेतृत्व इस जिले को मिले है। जिले मे जलसिंचन सुविधा का काम पूर्ण करणे से किसानो को लाभ मिलेगा। पिछले दो साल से किसानो को ७०० रूपये बोनस दिलाने का काम श्री पटेल जी ने किया है। इस साल भी धान को बोनस मिलने वाला है। चालु हंगाम में धान को बोनस देणे का आश्वासन श्री पटेल जी ने दिया है, इसलीयै किसानो का हित कोन देख रहा है यह आपको समजना पडेगा। जिले मे किसानो को धान का उचित मुल्य मिले इसलिये धान के खरेदी केंद्र की संख्या श्री पटेल जी के प्रयासो से बढाई गयी।  जिले के आम आदमी को उत्तम आरोग्य सेवा उपलब्ध व्हो इसहेतू  गोंदिया में शासकीय वैद्यकीय महाविद्यालय की मंजुरी श्री पटेल जी के प्रयासो से हुयी है। इसकी प्रशस्त इमारत का जल्द ही निर्माण होगा। पिछले साल कोरोना संक्रमण काल मे आरोग्य सेवा की व्यवस्था चरमरा गयी थी। जिले मे ऑक्सीजन तुटवडा निर्माण हुआ था। श्री पटेल जी के प्रयासो से ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण हुआ है, रेमडेशिविर इंजेक्शन एंव मेडीसीन का तुटवडा निर्माण होने से असुविधा हुयी थी,  अपणे गोंदिया जिले के नागरिकों को असुविधा न हो इस हेतु प्रफुल पटेल जी ने कोवीड मरीजों को बेड की सुविधा, आँक्सीजन प्लाँंट व रेमडेशिवीर इंजेक्शन उपलब्ध कराने का काम किया . यह चुनाव आगामी ५ वर्ष के जिले एंव क्षेत्र के विकास की दृष्टीकोन से महत्वपूर्ण है। राष्ट्रवादी काँग्रेस पक्ष की ओर से उम्मीदवार किकरिपार जिल्हापरिषद के उम्मीदवार राजेश भक्तवर्ती, कट्टीपार पंचायत समिति सौ. मिना यशवंतराव गौतम व अंजोरा पंचायत समिति के उम्मीदवार किशोर रहांगडाले इनके घड्याळ चिन्ह की बटन दबाकर  राष्ट्रवादी काँग्रेस के उमेदवार को भरघोष मतो विजयी करे। भेंट कार्यक्रम में श्रीमती वर्षा पटेल के साथ सर्वश्री नरेश माहेश्वरी, राजेश भक्तवर्ती, चुन्नीलाल सहारे, रवि श्रीसागर, रमन डेकाटे, कविता रहांगडाले, सिंधुताई भूते, टीकाराम मेंढे, दुर्योधन बोपचे , यादव मेश्राम पदाधिकारी , कार्यकर्ता व नागरिकगण उपस्थितीत थे।

..........
1
0 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया वन विभाग के अंतर्गत आने वाले जिले के नागजीरा नवेगांव टाइगर रिजर्व फॉरेस्ट के तहत अर्जुनी मोरगांव तहसील के नवेगांवबांध अभयारण्य क्षेत्र में प्रतापगढ़ पहाड़ी के पास रामघाट बीट के कक्ष क्रमांक 254 ब संरक्षित क्षेत्र में एक शेर की करंट लगाकर शिकार किए जाने का मामला गुरुवार 13 जनवरी को सामने आया। वन विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रामघाट बीट भाग 1 के कक्ष क्रमांक 254 संरक्षित वन में 13 जनवरी 2022 की सुबह वन विभाग के वनरक्षक आरडी राने व वन मजूर को वन्य प्राणी शेर मृत अवस्था में दिखाई दिया जिसके पश्चात कर्मचारियों द्वारा इस घटना की जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी।
जानकारी प्राप्त होते ही गोंदिया के वनसंरक्षक तथा क्षेत्र संचालक नवेगांव नागझिरा व्याघ्र प्रकल्प गोंदिया आर एस रामानुजम, उप वन संरक्षक वन विभाग गोंदिया कुलराज सिंह , सहायक वनसंरक्षक आरआर सदगीर, मानद वन्यजीव रक्षक मुकुंद धुर्वे घटनास्थल पर पहुंचे।
घटनास्थल पहुंचने के पश्चात मृतक शेर के शव का निरीक्षण किए जाने पर उसका शिकार 2 दिनों पूर्व किए जाने की प्राथमिक जानकारी सामने आई तथा मृतक शेर के सामने के 2 दांत व कुछ अंग भी गायब दिखाई दिए एवं मृतक शेर नर प्रजाति का होने के साथ अंदाज़ 5 वर्ष आयु का प्राथमिक रूप से सामने आया तथा उसकी मौत विद्युत करंट लगने से हुई है। मृतक शेर का शव विच्छेदन करने के लिए पशु संवर्धन विकास विभाग के अधिकारी घटनास्थल पर शाम 4:30 बजे पहुंचे किंतु ठंड के दिनों में सूर्यास्त जल्दी होने के चलते शव विच्छेदन का कार्य पूर्ण रूप से नहीं हो पाने के कारण 14 जनवरी की सुबह शव विच्छेदन करने का तय किया गया है ।
मृतक शेर के शव को सुरक्षित रख सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए तथा मृतक शेर का शव विच्छेदन राष्ट्रीय व्याघ्र संवर्धन प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा जारी किए गए नियमानुसार किया जाएगा तथा शव विच्छेदन के पश्चात प्राप्त रिपोर्ट से शेर की मृत्यु की अधिक जानकारी सामने आ पाएंगी उपरोक्त शेर के शिकार के प्रकरण में अपराध दर्ज कर गोंदिया वन विभाग के स्निफर डॉग की सहायता से आरोपियों की तलाश शुरू की गई है।
मामले की जांच उप वनसंरक्षक वन विभाग गोंदिया कुलराज सिंह के मार्गदर्शन में अर्जुनी मोरगांव के वन परीक्षेत्र अधिकारी बीटी दुर्गे द्वारा की जा रही है।

..........
1
0 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया :- राज्य व जिले में कोरोना के संक्रमण की बढ़ती हुई स्थिति को देखते हुए जिलाधिकारी व अध्यक्ष आपदा प्रबंधन विभाग नयना गुंडे द्वारा नई गाइडलाइन जारी की। जिसमें 15 फरवरी तक जिले की सभी स्कूलों एवं महाविद्यालय को बंद किया गया है, तथा शासकीय व निजी कार्यालयों में कर्मचारियों की संख्या 50% तक मर्यादित की गई है इसके साथ ही अन्य नियम भी जारी किए गए हैं ।
गौरतलब है कि राज्य व जिले में कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है जिस पर प्रतिबंधक उपाय योजना के तहत नयना गुंडे जिलाधिकारी व जिला दंडाधिकारी तथा अध्यक्ष जिला आपदा व्यवस्थापन प्राधिकरण गोंदिया द्वारा नई गाइडलाइन 10 जनवरी को जारी की गई है । जिसके अंतर्गत संचार बंदी सुबह 5:00 से रात 11:00 बजे तक जिसमें 5 से अधिक व्यक्ति जमा नहीं हो सकते, तथा रात 11 से सुबह 5:00 बजे तक बिना कारण के बाहर निकलने पर प्रतिबंध ,जिले की सभी स्कूल एवं महाविद्यालय 15 फरवरी 2022 तक बंद की गई है तथा 10वीं और 12वीं की शैक्षणिक कार्य के लिए शिक्षा बोर्ड से समय समय पर प्राप्त दिशा निर्देशों के अनुसार कार्यवाही की जाएंगी तथा शासकीय, वाणिज्य कार्यालय व प्रतिष्ठानों में कर्मचारियों की संख्या 50% तक मर्यादित की गई है । उपरोक्त स्थानों पर कार्य करने वाले सभी नागरिकों का दोनों टीकाकरण अनिवार्य है।
पूर्ण रुप से बंद
स्कूल कॉलेज महाविद्यालय 15 फरवरी तक बंद स्विमिंग पूल, स्पा वैलनेस सेंटर आगामी आदेश तक बंद
50% मर्यादित संख्या के साथ शुरू
शासकीय कार्यालय जिसमें कोई भी नागरिक संबंधित कार्यालय प्रमुख से लिखित परवानगी के सिवाय कार्यालय में प्रवेश नहीं कर सकता तथा नागरिकों से चर्चा के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा उपलब्ध करवाई जाए सभी शासकीय कार्यालयों के प्रवेश द्वार में थर्मल स्कैनर, सैनिटाइजर मशीन उपलब्ध करवाई जाए बिना मास्क के प्रवेश पर कड़ा प्रतिबंध, निजी कार्यालय में कर्मचारियों की संख्या कम करने तथा कार्य समय में बदलाव वह work-from-home की सुविधा उपलब्ध कराने कार्यालय में 50% से अधिक कर्मचारियों की उपस्थिति पर प्रतिबंध,कोविड-19 दोनों डोज लेने वालों को ही प्रवेश तथा प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनर सैनिटाइजर व मास्क की व्यवस्था
शादी विवाह में 50 लोगों की मर्यादित संख्या उल्लंघन किए जाने पर 50000 का जुर्माना
सामाजिक धार्मिक सांस्कृतिक राजकिय कार्यक्रम में 50% की मर्यादित संख्या तथा कार्यक्रम के लिए संबंधित तहसीलदार से लिखित मंजूरी तथा नियमों का उल्लंघन करने पर 50000 का जुर्माना व गुनाह दर्ज
व्यामशाला ब्यूटी पार्लर सलून 50% क्षमता के शुरू
क्रीडा स्पर्धा इत्यादि राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पूर्व नियोजित स्पर्धा नियमों के अंतर्गत आयोजित की जाएंगी जिसमें दर्शकों पर प्रतिबंध केंद्र शासन के सभी निर्देश जारी प्रत्येक 3 दिनों के अंतर पर rt-pcr की जांच अनिवार्य गांव शहर तहसील जिला स्तर पर किसी भी प्रकार की क्रीडा स्पर्धा पर पूर्ण प्रतिबंध ।
पूर्ण रुप से बंद बगीचे प्राणी संग्रहालय दर्शनीय स्थल आदि
50% क्षमता के साथ वह कोविड-19 का पालन करते हुए शॉपिंग मॉल बाजार संकुल रेस्टोरेंट उपहार गृह होटल नाट्यगृह सिनेमा आदि 50% क्षमता के साथ शुरू रह सकते हैं किंतु उन्हें कोविड-19 नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा ।
इसके अलावा अति आवश्यक सेवा, स्वास्थ्य सेवा पूर्ण रूप से शुरू रहेंगे लेकिन उन्हें भी नियमों का पालन करना होगा इस प्रकार का आदेश जिलाधिकारी, जिला दंडाधिकारी व अध्यक्ष आपदा प्रबंधन प्राधिकरण नयना गुंडे द्वारा जारी किया गया है तथा जिले के नागरिकों से आव्हान किया है कि संक्रमण की इस महामारी में नियमों का पालन कर मास्क का उपयोग सामाजिक अंतर व सैनिटाइज करने के साथ ही अनावश्यक भीड़ ना की जाए ।

..........
1
0 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया -बल्लारपुर रेलवे मार्ग के बीच गोंदिया जिले का संरक्षित वन क्षेत्र आता है जिसमें आए दिन वन्यजीवों की ट्रेन से टक्कर व कट कर मौत हो जाती है ।इसी प्रकार का एक मामला गोरेगांव से सौंदड के बीच आने वाली गराड़ा रेलवे चौकी के समीप जंगली भैंसे की ट्रेन से टक्कर होने से उसकी मौत हो गई।
गौरतलब है कि गोंदिया -बल्लारपुर रेल लाइन के मध्य गोरेगांव से सौंदड तक आने वाला क्षेत्र वन विभाग के अंतर्गत व वन विभाग की मालकियत के अंतर्गत आता है, तथा यह क्षेत्र संरक्षित वन क्षेत्र के अंतर्गत होने से अति संवेदनशील क्षेत्र बन चुका है। इस मार्ग से रेलवे लाइन के आवागमन के दौरान आए दिन वन्यजीवों की ट्रेन से टक्कर होने व कटकर मौत होने की घटनाएं घटित होती है। 9 जनवरी की सुबह 8:00 बजे के दौरान एक 9 से 10 वर्ष के जंगली भैंसे की ट्रेन से टक्कर हो गई तथा वह 50 मीटर तक घसीटा गया उपरोक्त घटना गराड़ा रेलवे चौकी से 5 किमी अंतर पर पोल क्रमांक 1027 के पास घटित हुई ।
उल्लेखनीय है कि इसी क्षेत्र में 8 मार्च 2021 को एक तेंदुए की भी मालगाड़ी से टक्कर होने के चलते मौत हो गई थी यह क्षेत्र संवेदनशील होने तथा गोरेगांव वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने के बावजूद उपरोक्त दोनों घटना के समय गोरेगांव के वन परिक्षेत्र अधिकारी घटनास्थल पर अनुपस्थित थे, जंगली भैंसे की मौत होने के घटनास्थल पर वन्यजीव विभाग के आरएफओ भोंसले, वन विभाग के एसएस सदगीर आरो धुर्वे व अन्य वन कर्मचारियों के साथ मानद वन्यजीव रक्षक मुकुंद धुर्वे ने पहुंचकर पंचनामा कर मृत जंगली भैंसे का अंतिम संस्कार करवाया।

रेलवे विभाग ने किया सर्वे लेकिन नहीं हुई कार्रवाई
उपरोक्त क्षेत्र संरक्षित वन क्षेत्र के अंतर्गत आने के कारण अनेक बार वन्यजीवों की ट्रेन से टक्कर होने के कारण जख्मी होने के साथ-साथ मौत भी हो जाती है। गत वर्ष तेंदुए की ट्रेन से कटकर मौत होने के पश्चात वन विभाग, मुकुंद धुर्वे व रेलवे के अधिकारियों द्वारा सर्वे कर अंडर पास देने के लिए प्रस्ताव भेजा गया था जिसके लिए रेलवे द्वारा अब तक किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई जिसके चलते आए दिन दुर्घटना होने का प्रमाण बढ़ रहा है।
– मुकुंद धुर्वे मानद वन्यजीव रक्षक गोंदिया जिला

..........
1
132 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया जिले में कोविड-19 टीकाकरण अभियान जिलाधिकारी नयना गुंडे, जिला परिषद के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अनिल पाटिल के मार्गदर्शन व दिशा निर्देशों के अनुसार चरणबद्ध तरीके से शुरू है। जिस पर दोनों प्रशासकीय अधिकारियों द्वारा जिले के टीकाकरण केंद्र में जाकर भेंट देते हुए निरीक्षण किया।
गौरतलब है कि 3 जनवरी 2022 से जिले में 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के बालकों के टीकाकरण की शुरुआत की गई है। जिसके लिए जिले के प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, केटीएस जिला चिकित्सालय, 6 ग्रामीण चिकित्सालय ,उप जिला चिकित्सालय तिरोड़ा तथा नागरी स्वास्थ्य केंद्र कुंभारे नगर इस प्रकार कुल 49 टीकाकरण केंद्र शुरू किए गए हैं। किंतु इस पर भी टीकाकरण में बच्चों की भीड़ को देखते हुए प्रत्येक स्कूल कॉलेजों में टीकाकरण केंद्र निर्माण किया गया है। तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर वेद प्रकाश चौरागढ़ के उत्कृष्ट नियोजन से स्कूलों में टीकाकरण शुरू हो चुका है। उपरोक्त टीकाकरण का निरीक्षण जिला परिषद के मुख्य कार्यपालन अनिल पाटिल द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खमारी के टीकाकरण केंद्र में जाकर निरीक्षण किया तथा जिलाधिकारी नयना गुंडे, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ नितिन कापसे, अतिरिक्त जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ दिनेश सुतार, गोरेगांव तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डॉ विनोद चौहान, गोंदिया तहसील स्वास्थ्य अधिकारी डॉ वेदप्रकाश चौरागढ़े द्वारा गोरेगांव तहसील के अंतर्गत आने वाले शहीद जाम्या तिम्या हाई स्कूल को भेंट दी साथ ही गोंदिया तहसील की सिंधी हाई स्कूल में भेंट देकर निरीक्षण करते हुए बच्चों को टिका दिए जाने का नियोजन किस प्रकार किया गया है इस संदर्भ में जानकारी प्राप्त कर स्वास्थ्य विभाग, स्वास्थ्य सेविका, आशा सेविका व कर्मचारियों की प्रशंसा की साथ ही निर्देश दिया कि स्कूलों के टीकाकरण केंद्रों में बाहर से आने वाले बच्चों का भी टीकाकरण किया जाए जिससे जिले का एक भी बच्चा कोविड टीकाकरण से वंचित ना रहे साथ ही स्कूल व्यवस्थापन समिति, मुख्याध्यापक, शिक्षकों को निर्देश दिया कि शत प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण होना चाहिए इस पर उचित नियोजन किया जाए। दिनांक 8 जनवरी की कोविड-19 रिपोर्ट के अनुसार 15 से 18 आयु वर्ग के 68321 बच्चों में से 37563 बच्चों को कोवैक्सीन का पहला टीका दिया गया है जिसका प्रमाण 54. 98% है।

..........
1
0 views    0 comment
1 Shares

केंद्र शासन के दिशा निर्देशों के अनुसार हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर व 60 वर्ष व उससे अधिक के अन्य बीमारियों से ग्रसित व्यक्तियों को कोरोना से बचाव के लिए बूस्टर डोज सोमवार 10 जनवरी 2022 से दिया जाएगा जिसके लिए जिले में 32787 लाभार्थी है।
गौरतलब है कि हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्य कर्मचारी संक्रमण काल के दौरान रात दिन कार्य कर रहे हैं। जिन्हें केंद्र शासन के दिशा निर्देशों के अनुसार प्रिकॉशन के रूप में बूस्टर डोज दिया जाएगा ।
इसके साथ ही संक्रमण के पहले व दूसरे चरण में 60 वर्ष के नागरिक जिन्हें अन्य बीमारी भी थी ऐसे मरीजों को संक्रमण बड़े पैमाने पर सामने आया था जिसके चलते उन्हें भी टीकाकरण का तीसरा डोज प्रिकासन के रूप में दिया जाएगा इसके लिए गोंदिया जिले मैं 60 वर्ष से अधिक के नागरिक तहसील अनुसार इस प्रकार है।
गोंदिया ग्रामीण 7163, गोंदिया शहर 3194, आमगांव 3341, तिरोडा 4287, गोरेगांव 3048, सालेकसा 2297, देवरी 2920, सड़क अर्जुनी 2877, अर्जुनी मोरगांव 3659 का समावेश है।
                            10 जनवरी से दिए जाने वाले प्रिकॉशन डोज के नियम
 
यदि स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता और फ्रंटलाइन कार्यकर्ता दोनों ने खुराक ली है, तो उन्हें 10 जनवरी, 2022 से सटीक खुराक दी जानी चाहिए। संबंधित लाभार्थी को ऐहतियाती खुराक देते हुए दूसरी खुराक की तारीख से नौ महीने या 39 सप्ताह पूरे कर लेने चाहिए।
 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के व्यक्तियों को इलाज करने वाले डॉक्टर की सलाह पर 10 जनवरी, 2022 से एहतियाती खुराक दी जानी चाहिए। संबंधित लाभार्थी को ऐहतियाती खुराक देते हुए दूसरी खुराक की तारीख से 9 महीने या 39 सप्ताह पूरे कर लेने चाहिए।
 वैक्सीन की पहली और दूसरी खुराक ऐहतियाती खुराक में दी जाएगी।
 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों को एहतियाती खुराक देते समय टीकाकरण केंद्र में कोई प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने या दिखाने की आवश्यकता नहीं है। केवल ऐसे व्यक्तियों को अपने डॉक्टर की सलाह पर टीकाकरण का निर्णय लेना चाहिए।
 सरकारी टीकाकरण केन्द्रों पर सभी नागरिकों का निःशुल्क टीकाकरण किया जायेगा
 स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता, फ्रंटलाइन कार्यकर्ता और 60 वर्ष और उससे अधिक की विकलांगता वाले नागरिक अपने वर्तमान कोविन खाते से सटीक खुराक के लिए पंजीकरण कर सकते हैं।
 दूसरी खुराक के बाद नौ महीने या 39 सप्ताह पूरे करने वाले लाभार्थी सटीक खुराक के लिए पात्र होंगे।
 लाभार्थी जो सभी स्वास्थ्य देखभाल कार्यकर्ता, फ्रंटलाइन कार्यकर्ता और 60 वर्ष से कम आयु के हैं, उन्हें सटीक खुराक के लिए पात्र होने के लिए निर्धारित प्रपत्र में नौकरी प्लेसमेंट प्रमाणपत्र जमा करना आवश्यक है। साथ ही ऐसे व्यक्तियों का टीकाकरण केवल सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर साइट पर ही उपलब्ध होगा।
ऐसे व्यक्तियों को कोविन प्रणाली से एक एहतियाती खुराक संदेश (एसएमएस) प्राप्त होगा।
 पंजीकरण और टीकाकरण का समय ऑनलाइन या चलते-फिरते (वॉक इन) लिया जा सकता है।
 सटीक खुराक लेने के बाद कोविन सिस्टम से प्रमाण पत्र प्राप्त किया जा सकता है।

..........
1
1556 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया। गोंदिया जिले व शहर में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का प्रकोप बढ़ने लगा है। इसके चलते मरीजों की संख्या में प्रतिदिन बढ़ोतरी हो रही है।
संक्रमण पर नियंत्रण पाने व नागरिकों को इस महामारी से बचाने के लिए मारवाड़ी युवक मंडल गोंदिया द्वारा शनिवार 8 दिसंबर की शाम को शहर के जयस्तंभ चौक व सुभाष गार्डन परिसर में विशेष जन जागृति अभियान चलाते हुए निशुल्क मास्क का वितरण किया ।
उपरोक्त कार्यक्रम का शुभारंभ मारवाड़ी युवक मंडल ट्रस्ट बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष हुकुमचंद अग्रवाल व मारवाड़ी युवक मंडल के नवनिर्वाचित अध्यक्ष महेश (मनु) गोयल द्वारा किया गया।
इस अवसर पर गोंदिया मारवाड़ी समाज के व कार्यकारिणी के सदस्यों द्वारा बड़ी संख्या में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया तथा भविष्य में भी इस प्रकार के जनजाग्रति व जनहित के कार्य करने का निश्चय किया । कार्यकारिणी अध्यक्ष महेश गोयल ने शहर वासियों को जिले वासियों से आव्हान किया है कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सावधानी बरतें शासकीय नियमों का पालन करते हुए सामाजिक अंतर वहमास्क का नियमित इस्तेमाल करें जिससे इस महामारी से शहर व जिले के सभी नागरिक सुरक्षित रह सके।

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

कवि चिरंजीव बिसेन के मराठी व हिन्दी काव्य-संग्रह विमोचित, सरस काव्य गोष्ठी

गोंदिया.:- स्थानीय राजस्थानी ब्राह्मण सभा भवन में भिन्न भाषी साहित्य मंडल गोंदिया द्वारा नववर्ष का अभिनंदन एवंं कवि चिरंजीव बिसेन के ख्वाब सुहाने हिन्दी व काव्य सुमन मराठी दो काव्य संग्रहों का विमोचन साहित्यकार कवि व पूर्व प्राचार्य डा. हरिनारायण चौरसिया के हाथों किया गया. अध्यक्षता पं. बजरंगलाल शर्मा ने की. बतौर प्रमुख अतिथि मराठी के वरिष्ठ कवि माणिक गेडाम, वरिष्ठ कवि एवं समीक्षक युवराज गंगाराम व योगेन्द्र राहांगडाले उपस्थित थे.
विमोचन कार्यक्रम की प्रस्तावना बिसेन ने रखी.
अतिथियों ने मां सरस्वती के छायाचित्र का पूजन, दीप प्रज्जवलन किया. कवि समीक्षक युवराज गंगाराम ने मराठी काव्य-संग्रह का समीक्षात्मक विवेचन किया. अतिथि माणिक गेडाम, डा. हरिनारायण चौरसिया, पं. बजरंगलाल शर्मा, योगेन्द्र राहांगडाले ने समयोचित उद्गार व्यक्त करते हुए काव्य-संग्रह के प्रकाशन पर कवि बिसेन को बधाई व शुभकामनाएँ दी.
पश्चात कवि गोष्ठी का शुभारंभ वरिष्ठ कवि शशि तिवारी के मधुर स्वरों में मां सरस्वती की वंदना से हुआ. जिसमें भानेगांव किरनापुर के श्री कृष्णकुमार मिश्रा के अलावा शहर के सर्वश्री वसंत गवली, सुरेन्द्र जगने, रूपचंद जुम्हारे, नरेश गुप्ता, सोनाली खरतड़े,मनोज बोरकर मुसव्विर,निखिलेशसिंह यादव, चिरंजीव बिसेन, प्रकाश मिश्रा, छगन पंचे छगन, शशि तिवारी, रमेश शर्मा, युवराज गंगाराम, माणिक गेडाम की कविताओं ने समा बांधा. संपूर्ण  कार्यक्रम का रोचक संचालन कवि व प्रखर  वक्ता रमेशं शर्मा ने किया, आभार मंडल के सचिव मनोज एल जोशी ने माना. इस प्रसंग पर वरिष्ठ कवि  प्रमोद सोनी, ओम शर्मा चुलेट,पं. कन्हैयालाल तिवारी, हरीश गुरुनानी, यशवंत तागडे,देवकिनदंन गुप्ता, भोजलाल ठाकरे, प्रकाश शाम कुंवर, सहित  अन्य काव्य-रसिक
उपस्थित थे.

..........
1
510 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया शहर से 20 किलोमीटर दूर बिरसी हवाईअड्डे (birsi airport) के जीर्णोद्वार के 10 वर्ष बीत गए हैं. इस बीच यात्री विमान सेवा करने की मांग जोर पकड़ती जा रही है. अब फ्लाई बिग एयरलाइंस कंपनी ने रूचि दिखाई है. जनवरी महीने के अंत तक गोंदिया से यात्री विमान शुरू होने की संभावना है. इसके लिए कंपनी के विभाग प्रमुख द्वारा हवाईअड्डे का निरीक्षण किया गया.

बिरसी हवाईअड्डा निर्माण के बाद यहां से यात्री विमान शुरू करने की मांग पिछले 10 वर्ष से की जा रही है. लेकिन विविध समस्याओं की वजह से यात्री सेवा संभव नहीं हो सकी. अब फ्लाई बिग यात्री विमान कंपनी द्वारा बिरसी हवाईअड्डे से यात्री विमान सेवा शुरू करने की जा रही तैयारी अंतिम चरण में है. इंदौर-बिरसी-हैदराबाद-चेन्नई के लिए यात्री विमान सेवा जनवरी के अंत तक शुरू हो जाएगी. कंपनी के 72-80 सीटर एयरक्राफ्ट सप्ताह में चार दिन बिरसी हवाईअड्डे से रवाना होंगे. आगामी कुछ ही दिनों में दूसरे चरण में बिरसी हवाईअड्डे से विमान सेवा का विस्तार किया जाएगा.

फ्लाई बिग कंपनी के विभागीय प्रमुख रतन आंभोरे ने कहा कि इंदौर-बिरसी-हैदराबाद-चेन्नई विमान सेवा के बाद गोंदिया से पुणे, गोवा, रायपुर-गोंदिया-पुणे-गोवा आदि मार्ग के लिए भी यात्री विमान शुरू होने की संभावना है. विभागीय प्रमुख ने टिकट काउंटर से लेकर अन्य सभी सुविधाओं का निरीक्षण भी किया. विमान सेवा शुरू होने के विषय को लेकर 20 जनवरी को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक भी होगी. हवाईअड्डे के निरीक्षण के दौरान सांसद सुनील मेंढे, गजेंद्र फुंडे, विमानतल व्यवस्थापक के.वी. बैजु उपस्थित थे.

यात्री विमान सेवा; इस समय उड़ान भरेगी फ्लाइट

फ्लाइट इंदौर से सुबह 7.15 बजे गोंदिया के लिए रवाना होगी और सुबह 8 बजे गोंदिया पहुंचेगी. यह गोंदिया से सुबह 8.25 बजे हैदराबाद के लिए रवाना होगी. दिव्यांग और बुजुर्ग यात्रियों के लिए व्हीलचेयर, बस सेवा और रनवे की दूरी, यात्री प्रवेश और निकास, यात्री सामान की व्यवस्था, टिकट काउंटर के साथ फ्लाई बिग के कार्यालय आदि पर चर्चा की गई.

..........
1
732 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया :- राज्य व जिले में कोरोना संक्रमण बढ़ने के चलते जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना की जांच तेज कर दी है। लेकिन इस जांच के दौरान अनेक खामियां वह लापरवाही सामने आ रही है।
गोंदिया तहसील के अंतर्गत आने वाले मोरवाही सेंटर में कोरोना की आरटी पीसीआर जांच करवाने वाले नागरिकों को वहां पर कार्यरत कर्मचारियों के अफलातून व लापरवाही पूर्ण कार्य के चलते सभी को 130 वर्ष का वृद्ध नागरिक बनाने के साथ ही पुरुष नागरिकों को भी महिला केटेगरी में दर्शाने के साथ सभी नागरिकों के मोबाइल नंबर एक ही दिए गए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार मोरवाही सेंटर पर 5 जनवरी को करीब 14 नागरिकों की जांच की गई थी जिसमें सभी को 130 वर्ष की आयु का दर्शाने के साथ आठ पुरुष नागरिकों को भी महिला केटेगरी में दिखाया गया है । हालांकि इस जांच में सभी नागरिक नेगेटिव पाए गए हैं लेकिन यदि कोई मरीज नागरिक पॉजिटिव आता तो उपचार मैं उसे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता क्योंकि आईसीएमआर पोर्टल पर एक बार जो डाटा दर्ज हो जाता है उसे बदला नहीं जा सकता है ।
जिससे उपरोक्त सेंटर पर कार्य करने वाले कर्मचारियों की लापरवाही साफ उजागर हो रही है क्योंकि उनके द्वारा नागरिकों की जांच के दौरान उनकी जानकारी सही तरीके से पोर्टल पर दर्ज नहीं की जा रही है। जिससे अब प्रश्न निर्माण हो रहा है कि कोरोना के rt-pcr जांच में इस प्रकार की लापरवाही बरती जा रही है तो इसका खामियाजा कौन भुगतेंगा। इस प्रकार की लापरवाही करने वाले कर्मचारियों पर प्रशासन द्वारा कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए क्योंकि यह गंभीर मामला होने के साथ ही नागरिकों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने जैसी जैसा कार्य है। इस प्रकार के मामले इसके पूर्व में भी सामने आए हैं लेकिन इसमें किसी भी प्रकार का सुधार कर्मचारियों द्वारा करना उचित नहीं समझा है।

इस मामले में नोटिस दिया है
कोरोना की जांच rt-pcr करते समय संबंधित नागरिक का डाटा पोर्टल पर देना जरूरी होता है लेकिन इस प्रकार की खामी पहले भी सामने आने पर अब तक 5 बार नोटिस दिया गया है तथा जल्द ही इस मामले की जांच कर कार्यवाही की जाएंगी
डॉ दिलीप गेडाम वीआरडीएल जांच विभाग शासकीय मेडिकल कॉलेज गोंदिया।

..........
6
478 views    0 comment
1 Shares

आचार्य बालशास्त्री जांभेकर की स्मृति में श्रमिक पत्रकार संघ ,गोंदिया ने मनाया  पत्रकार दिवस                          दर्पणकार आचार्य बालशास्त्री जांभेकर  -  पत्रकार दिवस  के उपलक्ष्य में श्रमिक पत्रकार संघ ,गोंदिया के कार्यालय में सभी सदस्यों की उपस्थिति में 6 जनवरी 2021 , गुरूवार को   दर्पणकार बालशास्त्री जांभेकर के छायाचित्र को माल्यार्पण का कार्यक्रम दोपहर 2.00 बजे इंगले चौक स्थित कार्यालय मे आयोजित किया गया। इस अवसर पर श्रमिक पत्रकार संघ , के सचिव संजय राऊत ने संस्था की ओर से दर्पणकार बालशास्त्री जांभेकर के छायाचित्र  पर  माल्या अर्पण कर कार्यक्रम की शुरुवात की। इस अवसर पर वक्ताओं ने आचार्य  बालशास्त्री जांभेकर के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनके संघर्ष को याद किया। व पत्रकारिता के बदलते  मूल्य पर विचार मंथन किया.                              इस अवसर पर  श्रमिक पत्रकार संघ के  सचिव संजय राऊत, विकास बोरकर, रवी सपाटे, हरीश मोटघरे, मोहन पवार,राकेश रामटेके, मुनेश्वर कुकडे, रुची, नवीन अग्रवाल,शाहिद पठाण, देवेंद्र बिसेन, बाळू माने, प्रमोद गुडधे,आकाश वालदे,साहिल बावडकर, खन्ना आदी पत्रकार बंधू उपस्थीत थे.

..........
0
353 views    0 comment
1 Shares

गोंदिया। जिले में फिर से कोरोना की दस्तक हो चुकी है तथा नए मरीज सामने आ रहे हैं जिस के संक्रमण से बचने के लिए नागरिकों को नियमों का कड़ाई से पालन करना अत्यंत जरूरी है साथ ही टीकाकरण करवाना महत्वपूर्ण है क्योंकि अब कोरोना ओमीक्रोन के नए संक्रमित रूप में सामने आ रहा है । तथा जिले में फिर से कोरोना के मरीज जांच में पाए जाने लगे हैं बुधवार 29 दिसंबर को जिला शल्य चिकित्सक व शासकीय प्रयोगशाला से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 5 नए मरीज सामने आए हैं जिसमें गोंदिया तहसील 2 , गोरेगांव तहसील 1 ,तिरोड़ा तहसील 1 व सालेकसा तहसील1 मरीज का समावेश है। संक्रमण से बचने के लिए प्रशासन द्वारा विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है जिसमें अधिक से अधिक नागरिक कोरोना की वैक्सीन ले ऐसा आवाहन प्रशासन द्वारा किया गया है।

..........
1
0 views    0 comment
1 Shares

*गोंदिया रेलवे स्टेशन में रिजर्वेशन टिकट काउंटर बढ़ाने व राजलक्ष्मी चौक पदचारी पुलिया खोलने के लिए एसीएम आनंद को दिया ज्ञापन*

ददक्षिण पूर्व मध्य रेलवे गोंदिया स्टेशन रेल सलाहकार समिति सदस्य स्मिता शरणागत ,भेरूमल गोप्लानी, लक्ष्मण लधानी एवं इंजीनियर जसपाल सिंह चावला ने गोंदिया शहर यात्रियों की उपस्थिति में यात्रियों को हो रही असुविधा को देखते हुए गोंदिया रेलवे स्टेशन में टिकट काउंटर की संख्या पहले की तरह बहाल करने के लिए एसीएम अविनाश आनंद को दिया ज्ञापन! एसीएम आनंद ने समिति सदस्यों का ज्ञापन ऊपर उच्च अधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दीया है ! ज्ञापन में दुर्गा चौक से राजलक्ष्मी चौक तक का पदचारी पुलिया शीघ्र खोलने की भी मांग की गई है समिति सदस्यों का कहना है कि ऑनलाइन टिकट कराने में पैसे ज्यादा लगते हैं जिस वजह से मध्यमवर्गीय यात्री रिजर्वेशन काउंटर पर आकर विंडो टिकट करवाने को प्राथमिकता देते हैं विंडो रिजर्वेशन टिकट काउंटर की संख्या कम होने की वजह से रेल यात्रियों द्वारा निरंतर सलाहकार समिति सदस्यों को शिकायतें मिल रही थी की विंडो टिकट करवाने के लिए घंटों कतार में खड़े रहकर इंतजार करना पड़ता है जिस पर संज्ञान लेते हुए समिति सदस्यों ने खुद स्टेशन जाकर दौरा किया जिस पर यात्रियों द्वारा की गई शिकायत सत्य पाई गई! बुजुर्ग, महिलाएं एवं दिव्यांग सभी एक ही कतार में खड़े रहकर विंडो टिकट रिजर्वेशन करवा रहे थे जिसमें महिलाओं, बुजुर्गों एवं दिव्यांगों को  सबसे ज्यादा तकलीफ हो रही थी इसलिए यात्रियों को हो रही असुविधा को देखते हुए समिति सदस्यों ने मंडल रेल प्रबंधक नागपुर विभाग को ज्ञापन भेज तत्काल प्रभाव से विंडो टिकट रिजर्वेशन काउंटर की संख्या  पहले की तरह बढ़ाकर शुरू करने व राजलक्ष्मी चौक पदचारी पुलिया शीघ्र खोलने की मांग की है

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

सर्वोच्च न्यायालय में दाखिल रिट याचिका पर 15 दिसंबर को सुनवाई के पश्चात पारित किए गए आदेश में राज्य चुनाव आयोग को दिए गए निर्देश के अनुसार वर्तमान में शुरू चुनावी प्रक्रिया में ओबीसी प्रवर्ग के लिए आरक्षित स्थानों को का चुनाव स्थगित किया गया था । उपरोक्त सीटों को तत्काल अनारक्षित कर सर्वसाधारण प्रवर्ग में शामिल कर चुनाव कराने के निर्देश दिए गए जिसके अनुसार 23 दिसंबर को ओबीसी प्रवर्ग की सीटों को सामान्य वर्ग में शामिल कर सामान्य महिलाओं का आरक्षण निकाला जाएगा तथा 18 जनवरी को उपरोक्त सीटों पर मतदान करवाने के पश्चात 19 जनवरी 2022 को जिले की सभी जिला परिषद व पंचायत समिति का परिणाम घोषित किए जाएंगे तब तक जिले में आचार संहिता जारी रहेंगी ।
गौरतलब है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 15 दिसंबर को सुनवाई के पश्चात जारी किए गए आदेश के अंतर्गत राज्य चुनाव आयोग को दिए गए दिशा निर्देश के अनुसार सुरू जिला परिषद व पंचायत समिति की चुनावी प्रक्रिया में ओबीसी प्रवर्ग की आरक्षित सीटों के चुनाव स्थगित किए गए थे जिन्हें तत्काल अनारक्षित कर सर्वसाधारण प्रवर्ग में करते हुए चुनाव प्रक्रिया करने का निर्देश दिया गया था। जिसके तहत राज्य चुनाव आयोग द्वारा 17 दिसंबर को जारी किए गए आदेश के तहत उपरोक्त सीटों के लिए चुनावी कार्यक्रम घोषित किया गया है ।जिसमें सर्वसाधारण महिला प्रवर्ग के लिए जिला अधिकारी द्वारा 20 दिसंबर को अधिसूचना जारी की जाएंगी, 23 दिसंबर को सामान्य महिला के लिए आरक्षण निकाला जाएगा ,29 दिसंबर को चुनावी कार्यक्रम की घोषणा जिलाधिकारी द्वारा की जाएगी तथा 29 दिसंबर से 3 जनवरी 2022 तक नामांकन दाखिल किए जाएंगे ,4 जनवरी को नामांकन पत्रों की छंटाई व उस पर निर्णय तथा वैद्य उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित की जाएंगी ,10 जनवरी को नामांकन की वापसी की अंतिम तिथि तथा दोपहर 3:30 बजे के पश्चात उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह का वितरण किया जाएगा तथा 18 जनवरी 2022 मंगलवार को उपरोक्त सीटों के लिए मतदान होगा तथा 19 जनवरी 2022 बुधवार को जिले की सभी जिला परिषद व पंचायत समिति की सीटों के परिणाम घोषित किए जाएंगे तब तक जिले में आचार संहिता जारी रहेंगी।

..........
4
63 views    0 comment
0 Shares

सर्वोच्च न्यायालय में दाखिल रिट याचिका पर 15 दिसंबर को सुनवाई के पश्चात पारित किए गए आदेश में राज्य चुनाव आयोग को दिए गए निर्देश के अनुसार वर्तमान में शुरू चुनावी प्रक्रिया में ओबीसी प्रवर्ग के लिए आरक्षित स्थानों को का चुनाव स्थगित किया गया था । उपरोक्त सीटों को तत्काल अनारक्षित कर सर्वसाधारण प्रवर्ग में शामिल कर चुनाव कराने के निर्देश दिए गए जिसके अनुसार 23 दिसंबर को ओबीसी प्रवर्ग की सीटों को सामान्य वर्ग में शामिल कर सामान्य महिलाओं का आरक्षण निकाला जाएगा तथा 18 जनवरी को उपरोक्त सीटों पर मतदान करवाने के पश्चात 19 जनवरी 2022 को जिले की सभी जिला परिषद व पंचायत समिति का परिणाम घोषित किए जाएंगे तब तक जिले में आचार संहिता जारी रहेंगी ।
गौरतलब है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा 15 दिसंबर को सुनवाई के पश्चात जारी किए गए आदेश के अंतर्गत राज्य चुनाव आयोग को दिए गए दिशा निर्देश के अनुसार सुरू जिला परिषद व पंचायत समिति की चुनावी प्रक्रिया में ओबीसी प्रवर्ग की आरक्षित सीटों के चुनाव स्थगित किए गए थे जिन्हें तत्काल अनारक्षित कर सर्वसाधारण प्रवर्ग में करते हुए चुनाव प्रक्रिया करने का निर्देश दिया गया था। जिसके तहत राज्य चुनाव आयोग द्वारा 17 दिसंबर को जारी किए गए आदेश के तहत उपरोक्त सीटों के लिए चुनावी कार्यक्रम घोषित किया गया है ।जिसमें सर्वसाधारण महिला प्रवर्ग के लिए जिला अधिकारी द्वारा 20 दिसंबर को अधिसूचना जारी की जाएंगी, 23 दिसंबर को सामान्य महिला के लिए आरक्षण निकाला जाएगा ,29 दिसंबर को चुनावी कार्यक्रम की घोषणा जिलाधिकारी द्वारा की जाएगी तथा 29 दिसंबर से 3 जनवरी 2022 तक नामांकन दाखिल किए जाएंगे ,4 जनवरी को नामांकन पत्रों की छंटाई व उस पर निर्णय तथा वैद्य उम्मीदवारों की सूची प्रकाशित की जाएंगी ,10 जनवरी को नामांकन की वापसी की अंतिम तिथि तथा दोपहर 3:30 बजे के पश्चात उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह का वितरण किया जाएगा तथा 18 जनवरी 2022 मंगलवार को उपरोक्त सीटों के लिए मतदान होगा तथा 19 जनवरी 2022 बुधवार को जिले की सभी जिला परिषद व पंचायत समिति की सीटों के परिणाम घोषित किए जाएंगे तब तक जिले में आचार संहिता जारी रहेंगी।

..........
2
81 views    0 comment
0 Shares