logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

गौ चरागाह भूमि पर पट्टे जारी करने के सरकार के निर्णय के विरोध में गोवंश प्रेमियों ने मुख्यमंत्री के नाम तहसील मुख्यालय पर दिया ज्ञापन।
खंडार तहसील मुख्यालय पर 13 जनवरी 2022 को गोवंश प्रेमी एवं गोवंश सेवकों ने गौ चरागाह भूमि पर पट्टा जारी करने के राजस्थान सरकार के निर्णय के खिलाफ में खंडार तहसील मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन के साथ में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम ज्ञापन दिया है। गोवंश प्रेमी एवं सेवकों का कहना है कि गौ चरागाह भूमि सिर्फ गोवंश के लालन-पालन के लिए ही होनी चाहिए। राजस्थान सरकार ने गौ चरागाह भूमि पर पट्टा जारी करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय बहुत ही गलत लिया गया है। इसीलिए राजस्थान सरकार को गौ चरागाह भूमि पर पट्टा जारी करने के निर्णय को वापस लेना होगा। गौ चरागाह भूमि गोवंश के लालन पालन के लिए रहना बहुत ही जरूरी है। इसीलिए आज हम सब गोवंश प्रेमी एवं गौ सेवकों ने एकजुट होकर सरकार के निर्णय को अस्वीकार करते हुए सरकार से वापस लेने के लिए तहसील मुख्यालय पर मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन के देते हुए। गौ चरागाह भूमि पर पट्टे जारी करने के निर्णय को सरकार से वापस लेने की मांग की है। साथ ही में गोवंश प्रेमी एवं गोवंश सेवकों ने बताया कि अगर सरकार ने अपना यह निर्णय वापस नहीं लिया तो हम उग्र आंदोलन करने पर मजबूर हो जाएंगे।क

0
0 views