logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Rajesh Surana
All India Media Association

नगर पालिका तेलिया तालाब में नौकायन परिवहन की सुविधा प्रारंभ करें
धर्मराजेश्वर क्षेत्र में होम स्टे योजना के लिए सर्वे कार्य किया जाए
कलेक्टर ने जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ली विशेष बैठक
  कलेक्टर श्री गौतम सिंह की अध्यक्षता में जिले में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए एक विशेष बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान कलेक्टर ने नगर पालिका अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि तेलिया तालाब में नौका परिवहन प्रारंभ किया जाए। इसके साथ ही तेलिया तालाब में जो प्रवासी पक्षी आते हैं, उनकी फोटो तेलिया तालाब के किनारे फ्रेम के अंदर लगाए जाए। जिससे लोग इन पक्षियों को देखकर समझ जाए, कि यह पक्षी कहां से और किस प्रजाति के पक्षी हैं। तेलिया तालाब के अंदर लाइट एवं बैठने की कुर्सियां, बेंच को ठीक किया जाए। धर्मराजेश्वर क्षेत्र के आसपास होम स्टे योजना के अंतर्गत सर्वे कार्य किया जाए। इसके माध्यम से कोई भी व्यक्ति अगर धर्मराजेश्वर क्षेत्र में रात रुकना चाहता है, तो इसके माध्यम से रुकने की सुविधा प्राप्त होगी। संजीत में स्थित कचहरी टापू के लिए एक प्रोजेक्ट तैयार किया जाए। प्रोफेसर श्रीमती उषा अग्रवाल को प्रोजेक्ट तैयार कर तुरंत प्रस्‍तुत करने के लिए निर्देश दिए। धर्मराजेश्वर मंदिर एवं वहां पर स्थित गुफाओं को देखने के लिए जो पर्यटक जाते हैं। उनके लिए कैंटीन की व्यवस्था हो एवं वहां पर सुविधा घर का निर्माण किया जाए। इसके साथ ही म्यूजियम बनाने के भी निर्देश प्रदान किए। लदुना पर्यटन क्षेत्र को विकसित करने एवं वहां पर साफ सफाई करने के निर्देश प्रदान किए गए। सोधनी पर्यटन केंद्र पर पहुंचने के लिए एप्रोच रोड को सुधारने के लिए निर्देश प्रदान किए गए। इसके साथ ही बैठक में पर्यटन के लिए विगत समय में क्या-क्या कार्य किए एवं आगामी 2 से 3 दिनों में क्या-क्या कार्य किए जाएंगे उस पर विचार विमर्श किया गया। बैठक के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पांडे, सीईओ जिला पंचायत श्री कुमार सत्यम, अपर कलेक्टर श्री आरपी वर्मा, पर्यटन विभाग के प्रभारी अधिकारी डॉ. जे. के. जैन, पुरातत्व विभाग एवं नगर पालिका के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट लगाने पर 2 लोगों पर की गई एफआईआर दर्ज : कलेक्टर श्री सिंह

कोविड़ -19 संक्रमण से मृत्यु पर अनुग्रह राशि प्राप्त करने के लिए तैयार की गई फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट

 कलेक्टर श्री गौतम सिंह द्वारा बताया गया कि कोविड़ -19 संक्रमण से मृत्यु पर अनुग्रह राशि प्राप्त करने के लिए 2 लोगो के द्वारा फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट तैयार की गई। फर्जी आरटीपीसीआर रिपोर्ट लगाने पर 2 लोगों पर नायब तहसीलदार टप्पा धुंधडका द्वारा एफआईआर दर्ज करवाई गई है। 

आवेदक प्रकाश पिता जुझारलाल निवासी झिरकन एवं आवेदक अम्बुगिर पिता वर्दीगिर निवासी झिरकन द्वारा प्रस्तुत आवेदन पत्र कोविड -19 से मृतक होने पर आर्थिक सहायता का प्रकरण प्रस्तुत किया गया है। दोनों प्रकरणों में आवेदकों द्वारा डॉ अग्निहोत्री पेथ लेब एण्ड डाग्योस्टिक सेंटन इन्दौर की आरटीपीसीआर रिपोर्ट लगाई गई है, जो कि समान पेशेंट आईडी क्रमांक 11121051की है। क्यूआर कोड स्केन करने पर ज्ञात हुआ है कि उक्त रिपोर्ट किसी शोभाराम उम्र 22 के नाम की होकर नेगेटिक रिपोर्ट है। लेब में दूरभाष पर सम्पर्क किया गया उनके द्वारा अवगत कराया गया है, कि उक्त रिपोर्ट के साथ छेड़खानी की गई है तथा कार्यालय को गुमराह कर शासन को आर्थिक क्षति पहुचानें हेतु उक्त कृत्य किया गया है। इस कारण दोनों आवेदकों के विरुद्ध एफआईआर रिपोर्ट दर्ज करने की कार्यवाही की गई है।

..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

कलेक्टर ने कोविड के मरीजों से व्हाट्सएप वीडियो कॉल के माध्यम से चर्चा की 

कोविड-19 कंट्रोल रूम का किया औचक निरीक्षण 

कलेक्टर श्री गौतम सिंह ने कोरोना कंट्रोल रूम डायट परिसर मंदसौर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान व्हाट्सएप वीडियो कॉल के माध्यम से कोविड-19 के मरीजों से चर्चा की। चर्चा के दौरान उनके स्वास्थ्य के बारे में विस्तार से पूछा। इसके साथ ही यह भी जानकारी ली कि कंट्रोल रूम द्वारा मरीजों को समय-समय पर फोन के द्वारा चर्चा की जाती है या नहीं। इसके साथ ही उन्होंने मरीजों से अस्पताल की व्यवस्था, कोविड कंट्रोल रूम की व्यवस्था आदि के बारे में भी जाना। मरीजों को दवाइयां समय पर मिल रही या नहीं मिल रही है। मरीजों की सर्दी खांसी, बुखार की स्थिति के बारे में भी पूछा। मरीजों की काउंसलिंग समय समय पर हो रही है या नहीं हो रही है। स्वास्थ्य विभाग वाले उनसे समय से बात करते हैं या नहीं करते हैं। इस बारे में भी मरीजों से पूछा। 

इस दौरान कलेक्टर ने कंट्रोल रूम पर ड्यूटी कर रहे कर्मचारियों से भी बैठक की। बैठक के दौरान उन्होंने व्यवस्था में और क्या-क्या कमियां हैं। उसको दूर करने के लिए सुझाव मांगे। जिस पर सभी कर्मचारियों ने कोविड-19 को दूसरी लहर के दौरान जो कमियां थी। उनको दूर करने के बारे में कलेक्टर को बताया। इस दौरान कलेक्टर ने कर्मचारियों से कहा कि कोविड-19 का उपचार करते हुए अगर कोई झोलाछाप डॉक्टर पकड़े जाते हैं, तो उनके विरुद्ध धारा 188 में प्रकरण पंजीबद्ध करें। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री कुमार सत्यम एवं कंट्रोल रूम पर ड्यूटी कर रहे कर्मचारी उपस्थित थे।

..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

1
849 views    0 comment
0 Shares

8 करोड़ कैश, करोड़ों के हीरे जवाहरात, 16 गाड़ियां- 10 हथियार जब्त, राय परिवार के ठिकानों पर दो दिन चली रेड में मिली 'अकूत' दौलत

छतरपुर/ दमोह
ज्वाइंट डायरेक्टर ने बताया कि इस कार्रवाई में शराब कारोबारी के यहां से करीब साढ़े 8 करोड़ रुपये कैश, साढे़ 5 करोड़ रुपए के हीरे जवाहरात मिले हैं। वहीं करीब 10 अलग-अलग प्रकार की गन भी जब्त की गई हैं। इसके साथ ही विभाग ने 16 गाड़ियों को भी जब्त किया है। 

गुरुवार और शुक्रवार के दिन आयकर विभाग ने शराब कारोबारी कांग्रेस नेता राजा राय, कांग्रेस नेता शंकर राय और भाजपा नेता कमल राय सहित इनके पूरे परिवार के यहां छापामार कार्रवाई की। आयकर विभाग की टीम ने राय परिवार के सभी ठिकानों पर अपनी कार्रवाई की‌, टीम ने बैंक में भी जांच की है कि राय परिवार का बैंकों में कितना पैसा जमा था और लॉकरों में क्या है।

बता दें कि आयकर विभाग ने जो कार्रवाई की है, उसमें एक बात निकलकर सामने आ रही है कि राय परिवार की जितनी भी अचल संपत्ति जमा की गई है, उसमें से अधिकतर दूसरों के नाम है और यह व्यक्ति इस परिवार के कर्मचारी भी हैं।

ज्वाइंट डायरेक्टर मुनमुन शर्मा ने मीडिया से रूबरू होकर सिर्फ इतना ही कहा कि पूरी जानकारी उनके वरिष्ठ अधिकारी ही दे पाएंगे। देर रात्रि में आयकर विभाग की यह सभी टीम वापस अपने-अपने जिलों के लिए रवाना भी हो गई और इसकी खबर मीडिया को भी नहीं लग पाई।

..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

नईदिल्ली। पांच राज्यो में होने वाले चुनाव की घोषणा.. 

मुख्य चुनाव आयुक्त ने मंजूर हाशमी का शेर पढ़कर अपनी कॉन्फ्रेंस शुरू की- 

यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है

कोविड सेफ इलेक्शन हमारा लक्ष्य है:- चुनाव आयोग

पांच राज्यों मे 690 सीटों पर होन्गे चुनाव:- चुनाव आयोग

कोरोना मे चुनाव चुनौतीपूर्ण है:- चुनाव आयोग

18•34 करोड लोग करेंगे वोट:- चुनाव आयोग

25•9 लाख वोटर पहली बार वोट करेंगे जिसमे 11•4 लाख महिलाएं हैं:- चुनाव आयोग

चुनाव मे कुल 2 लाख 15 हजार 368 पोलिंग बूथ बनाये गए हैं :- चुनाव आयोग

कोरोना के बीच चुनाव कराना हमारा कर्तब्य है:- चुनाव आयोग

चुनाव मे कोरोना के नियमो का सख्ती से पालन किया जायेगा

बुजुर्गों, दिव्यांगो और कोविड संक्रमितों के लिए पोस्टल वैलेट सुविधा होगी:- चुनाव आयोग

1500 की जगह इसबार सिर्फ 1250 लोग एक बूथ पर होन्गे:- चुनाव आयोग

बूथों की संख्या मे 16% का इजाफा किया गया है:- चुनाव आयोग

उम्मीदवार ऑनलाइन  परचा दाखिल कर सक्ते हैं:- चुनाव आयोग

यूपी समेत 5 राज्यों मे लागू हुई अचार संहिता:- चुनाव आयोग

आम आदमी गड़बड़ी की फोटो cvigil एप्प मे खीचे कर अपलोड करे, 100 मिनट के अन्दर करेंगे कार्यवाई:- आयोग

राजनीतिक दलों को भी अपने उम्मीदवारों की क्रिमनल हिस्ट्री अपनी वेबसाइट के होम पेज पर डालनी होगी। यह भी बताना होगा कि उनका चयन क्यों किया?:-आयोग

15 जनवरी तक कोई भी रैली, रोड शो, पद यात्रा की अनुमती नही है:- आयोग

पांचों राज्यों में पोलिंग का टाइम 1 घंटे बढ़ाया गया है। राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वह डिजिटल और वर्चुअल प्रचार को वरीयता देंः- चुनाव आयोग

रात 8 से सुबह 8 तक कोई कैम्पेन नहीं होगा,कैम्पेन कर्फ़्यू रहेगा:-आयोग

डोर टू डोर कैम्पेन में सिर्फ 5 लोग रहेंगे:-आयोग

सभी पार्टियां सोशल मीडिया पर कोई Hate Speech-Fake News को बढ़ावा ना दे :- चुनाव आयोग

10 फरवरी से शुरु होगा चुनाव,युपी मे  चरणो मे होन्गे चुनाव


..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

2
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

1
150 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

3 मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रु की आर्थिक सहायता स्वीकृत

 मंदसौर जिले के चंदवासा के समीप ग्राम तोलाखेड़ी में पानी में डूबने से 3 महिलाओं की दु:खद मृत्यु पर नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने शोक प्रकट किया है।
मंत्री श्री डंग द्वारा तत्काल इस मामले में कलेक्टर श्री गौतम सिंह से चर्चा कर परिवार को हर संभव सहायता उपलब्ध करवाने के निर्देश प्रदान किए गए। मंत्री श्री डंग के निर्देश पर तत्काल प्रशासन द्वारा कार्रवाई करते हुए मृतकों के परिवारों के लिए चार-चार लाख रुपए की आर्थिक सहायता की स्वीकृति प्रदान की गई है।  मंत्री श्री डंग ने कहा कि हादसा दु:खद है, मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं।

..........
1
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

मंदसौर। विश्वविद्यालयीन राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता के लिए 5 एथलीटों का हुआ चयन

 राजीव गांधी महाविद्यालय के खेल अधिकारी श्री राजू कुमार ने बताया कि 26 से 27 दिसंबर 2021 को अंतर महाविद्यालयीन एथलेटिक्स प्रतियोगिता का आयोजन उज्जैन के महानंदा खेल मैदान पर हुआ । जिसमें विक्रम विश्वविद्यालय के समस्त महाविद्यालयों से 750 खिलाड़ियों ने भाग लिया मंदसौर के राजीव गांधी कॉलेज और गर्ल्स कॉलेज के खिलाड़ियों ने एन.आई.एस. जिला एथलेटिक्स कोच श्री मुकेश भटेवरा के मार्गदर्शन में इस प्रतियोगिता में भाग लेते हुए 07 स्वर्ण, 04 रजत और 01 कांस्य पदक जीता विजेता खिलाड़ियों में पांच खिलाड़ी पूजा पंवार, मनीषा बामनिया गारिष्मा यादव, लोकेंद्र सिंह शक्तावत, संदीप पोरवाल अखिल भारतीय विश्वविद्यालयीन राष्ट्रीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता के लिए चयनित हुए हैं । पुरुष वर्ग के खिलाड़ियों की राष्ट्रीय प्रतियोगिता 04 से 07 जनवरी मेंगलोर (कर्नाटक) में आयोजित होगी । पुरुष प्रतिभागी 1 जनवरी को इस प्रतियोगिता के लिए रवाना होंगे और महिला खिलाड़ियों की प्रतियोगिता जनवरी माह में ही भुवनेश्वर में आयोजित होगी।।
खिलाड़ियों की इस उपलब्धि पर कलेक्टर श्री गौतम सिंह, जिला पुलिस अधीक्षक श्री सुनील कुमार पांडे, जिला खेल अधिकारी श्री विजेंद्र देवड़ा पीजी कॉलेज के प्राचार्य आर. के. सोहनी, खेल अनुदेशक श्री राजू कुमार, श्री मनीष पांचाल, एथलेटिक कोच श्री मुकेश भटेवरा ने खिलाड़ियों को बधाई और शुभकामनाएं दी।।

..........
1
0 views    0 comment
3 Shares

1
162 views    0 comment
1 Shares

1
304 views    0 comment
0 Shares

0
0 views    0 comment
0 Shares

1
342 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
0 Shares

1
0 views    0 comment
1 Shares

1
269 views    0 comment
0 Shares

18
841 views    0 comment
0 Shares

2
0 views    0 comment
0 Shares

छोटे, मंछले और भाषाई अखबारों से ही पत्रकारिता कायम रहेगी

 स्टेट प्रेस क्लब मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित राष्ट्रीय परिसंवाद में प्रेस क्लब आफ इंडिया के अध्यक्ष लखेडा ने कहा

 इंदौर  प्रेस क्लब ऑफ इंडिया नई दिल्ली के अध्यक्ष श्री उमाकांत लखेडा ने कहा है कि छोटे , मंछले और भाषाई अखबारों से ही पत्रकारिता कायम रहेगी । वर्तमान में देश में पत्रकारिता के समक्ष चुनौतियों का वह दौर आ गया है जो कि इससे पहले कभी नहीं रहा है । 

श्री लखेडा यहां स्टेट प्रेस क्लब मध्यप्रदेश के द्वारा आयोजित राष्ट्रीय परिसंवाद को संबोधित कर रहे थे । इस परिसंवाद का विषय था-  पत्रकारिता का वर्तमान दौर और चुनौतियां । उन्होंने कहा कि इस समय देश की जनता को सारी उम्मीद है केवल और केवल पत्रकारों से है । हमें यह जान लेना चाहिए कि देश का संविधान सर्वोपरि है । यदि उसके खिलाफ जाकर कोई भी व्यक्ति कुछ कर रहा है, कुछ बोल रहा है तो उसे उजागर करना हमारा कर्तव्य है। हमारे देश के संविधान में सभी नागरिक एक समान है। इस समय देश में धर्म की परिभाषा नहीं जानने वाले लोगों ने धर्म और राष्ट्र को एक मान लिया है। हमारे देश की संस्कृति पूरे विश्व को परिवार मानने की रही है । हमारा संविधान देश के हर नागरिक को अभिव्यक्ति की आजादी देता है । वर्तमान में जिस तरह से नई तरह की बहस शुरू हुई है वह घातक है । पत्रकारों के प्रति लोगों का जो भरोसा उठने लगा और जो उनकी इज्जत कम हुई है तो उसके पीछे एक ही कारण है कि वह अपना फायदा देखने लगे । देश में पत्रकारिता कायम रहेगी तो छोटे मंछले और भाषाई अखबारों के माध्यम से ।

वरिष्ठ पत्रकार एवं राज्यसभा टीवी के पूर्व संपादक श्री राजेश बादल ने कहा कि यह वक्त कठिन वक्त है। ऐसा दौर मैने पिछले 40 सालों में कभी नहीं देखा । पत्रकारिता में इंदौर के घराने का अपना महत्व है । आज जब यहां से पत्रकारिता के समक्ष मौजूद चुनौतियों पर बात होती है तो वह बात दूर तक जाएगी । आज हमारी साख पर सवाल उठ रहे हैं । पत्रकारिता की गाड़ी पटरी से उतर गई है । पहले अखबारों में संपादक हुआ करते थे लेकिन अब संपादक के नहीं होने से प्रबंधन का पूरा दबाव सीधे पत्रकार पर आता है । देश में आज हम बंट गए हैं आप हम किसी की भी सीधी और स्वस्थ आलोचना भी नहीं कर सकते हैं। बाजार के दबाव को दूर करना हमारे बस की बात नहीं है।

 वरिष्ठ पत्रकार जे पी दीवान ने कहा कि देश की आजादी में भी पत्रकारों का योगदान रहा है । आज देश में पत्रकारिता पर ही नहीं बल्कि देश के संविधान पर भी खतरा पैदा हो गया है । जिन लोगों का देश की आजादी से लेकर राष्ट्र के निर्माण में योगदान नहीं रहा , वह लोग आज संविधान की रीढ़ की हड्डी को कमजोर करने का काम कर रहे हैं । हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश  ने कहा कि खोजी पत्रकारिता कम हो रही है । ऐसा मेरा मानना है कि इससे लोकतंत्र कमजोर हो रहा है। वह भीड़ तंत्र के रूप में तब्दील हो रहा है । अब मीडिया कछुआ बन चुका है और संपादक मैनेजर बन गए हैं । अखबार अब इंडस्ट्री का रूप ले चुके हैं।

 नई दिल्ली के वरिष्ठ पत्रकार अरविंद कुमार सिंह ने कहा कि इससे ज्यादा जटिल दौर पत्रकारिता के सामने कभी नहीं आया । कोरोना काल में अपने कर्तव्य का निर्वहन करते हुए अपनी जान गवा देने वाले पत्रकारों के लिए जब श्रद्धांजलि