logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Mithilesh kumar
Member All India Media Association
Nalanda Bihar

हिलसा कोर्ट कैम्पस में डा. मानव ने चलाया अभियान, निशुल्क बांटे गए मास्क

हिलसा(नालंदा)। लापरवाही  के चलते क़ोरोना की तीसरी लहर आई है, जिसके कारण  फिर से परेशानी बढ़ चुकी है । अगर लोग पूरी तरह सावधानी बरतेंगे तभी क़ोरोना को हराना सम्भव है। उक्त बातें बुधवार को स्थानीय कोर्ट परिसर में  क़ोविड जागरुकता अभियान चलाते हुए समाजसेवी सह ब्राण्ड ऐंबेसडर डॉ. आशुतोष कुमार मानव ने कही। उन्होंने अनलॉक  के समय में महामारी से बचाव के उपाय भी प्रमुखता से लोगों को बताए।
इस दौरान लोगों को जागरूक करते हुए समाजसेवी डॉ. आशुतोष कुमार मानव ने कहा कि साबुन से बार-बार हाथ धोना, भीड़-भाड़ वाले स्थान से अभी दूर रहना, सार्वजनिक स्थान पर न थूकना ही कोरोना से बचाव का रास्ता है और मास्क जरुर लगाएं। लोगों को इस बात के लिए भी जागरुक किया और कई नागरिकों के बीच निशुल्क मास्क वितरित करते हुए जिला प्रशासन द्वारा दिए गये निर्देशों को सफल बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि जरूरी न हो तो यात्रा से बचें और मास्क लगाएं। आमजन से ज़ोर देकर कहा कि इस समय आप मास्क नहीं पहनेंगे तो बाद में बहुत पछताना पड़ेगा। इसके लिए लोगों को आपस में सहयोग करने की अपील की गई। और प्रण लिया की सब मिल कर करोना को हरायेंगे। मौक़े पर समाजसेवी  राज किशोर प्रसाद ने कहा कि कोरोना संक्रमण काल में तंबाकू का सेवन करने वाले व्यक्ति के लिए कोरोना का जोखिम बहुत बढ़ जाता है। तंबाकू के सेवन की वजह से कैंसर, दिल की बीमारी और सांस की बीमारियों का जोखिम भी बढ़ जाता है। तंबाकू सेवन केवल आपके फेफड़ों की परत को नष्ट ही नहीं करता, बल्कि इसे संक्रमण के प्रति अधिक संवेदनशील बना देता है। उन्होंने बताया कि तंबाकू जो कि गुटखा, पान, खैनी और अन्य तरीकों के द्वारा उपयोग किया जाता है। मुंह में चबाते समय लार का स्राव अधिक होने से बार-बार थूकना पड़ता है। इस तरह थूकने से कोरोना वायरस आसपास फैलने का खतरा ज्यादा होती हैं। इस लिए इसका सेवन नहीं करें। डॉ आशुतोष कुमार 
मानव ने कहा कि यदि जिले व प्रदेश में फिर पूर्ण लॉकडाउन लगता है तो भयंकर अर्थ-व्यवस्था प्रभावित हो जाएगी और जन जीवन अस्त व्यस्त हो जाएगा । इस तरह का जागरुकता अभियान विभिन्न जगहों में लगातार चलाया जा रहा है।

..........
6
171 views    0 comment
5 Shares

शिक्षकों को 15% के बदले 12% वेतन वृद्धि का लाभ मिलने पर शिक्षक संघ ने किया विरोध

नालंदा(बिहार)।   शिक्षा विभाग के मनमाने आदेश के कारण प्रत्येक वर्ष जुलाई माह में वेतन वृद्धि प्राप्त करने वाले शिक्षकों को 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि के बाद भी शिक्षकों के वेतनमान का वास्तविक स्वरूप अब तक नही मिलने पर परिवर्तनकारी प्रारम्भिक शिक्षक संघ के सदस्यों ने दुखद बताते हुए आपत्ति व्यक्त की है और छह माह तक वेतन वृद्धि के लिए शिक्षकों को इंतजार करने के लिए विवश करने को शिक्षा विभाग की मनमानी करार दिया है।उक्त बात की जानकारी परिवर्तनकारी प्रारम्भिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार ने प्रेस बयान में कहे है।उन्होंने कहा है कि सभी शिक्षकों को प्रत्येक वर्ष 03 प्रतिशत वार्षिक वेतन वृद्धि मिलती है ।राज्य सरकार ने 01 अप्रैल 2021 के प्रभाव से सभी शिक्षकों को 15 फीसदी वेतन वृद्धि का लाभ देने की घोषणा की है ,किंतु जिन शिक्षकों ने जुलाई में 03 प्रतिशत वार्षिक वेतन वृद्धि प्राप्त कर लिया,उनके द्वारा वेतन वृद्धि के फलस्वरूप प्राप्त किए गए वेतन को उसी 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि में सामंजित किया जा रहा है और इनके वार्षिक वेतन वृद्धि की तिथि जनवरी 2022 के लिए निर्धारित की जा रही है। इससे 15 फीसदी के बदले शिक्षकों को मात्र 12 फीसदी की वेतन वृद्धि का लाभ मिल  रहा है।उन्होंने कहा कि संघ के प्रदेश अध्यक्ष वंशीधर ब्रजवासी ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव, प्राथमिक शिक्षा निदेशक और मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर शिक्षकों के वेतन वृद्धि की तिथि जुलाई को ही अक्षुण्ण रखने की मांग की है । उन्होंने कहा है कि सरकार ने जिस 15 फीसदी वेतन वृद्धि की घोषणा की है वह वेतन संरचना में सुधार के दृष्टिकोण से है । इस वेतन वृद्धि के बाद भी शिक्षकों को वेतनमान का वास्तविक स्वरूप नहीं मिल पा रहा है । वैसी स्थिति में इस वेतन वृद्धि को वित्तीय उन्नयन या प्रोन्नति नहीं माना जा सकता और इसके आधार पर छह माह तक वेतन वृद्धि के लिए शिक्षकों को इंतजार करने के लिए विवश करना शिक्षा विभाग की मनमानी है। इसलिए शिक्षकों के इस वेतन वृद्धि के नियम संशोधन कर मूल वेतन में 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि का लाभ दें।उन्होंने कहा कि अगर शिक्षकों को 15 प्रतिशत का वेतन वृद्धि का पूर्ण रूप से नही मिला तो इसके खिलाफ संघ पटना उच्च न्यायालय में याचिका दायर करेगा।नराजगी व्यक्त करने वाले में सचिव सुनील कुमार, महासचिव मो0 इरफान मल्लिक, कोषाध्यक्ष मनोज कुमार,उपाध्यक्ष सुनैना कुमारी, सूचित कुमार,पंकज कुमार, संयुक्त सचिव शशिकांत कु0 वर्मा,अति उतम कुमार,भोली कुमारी,संयोजक प्रकाशचंद्र,सूरज चौहान,रविरंजन कुमार, रौशन कुमार, दिबसम्बल उर्फ बंटी सहित कई शिक्षक शामिल है।

..........
2016
71841 views    0 comment
1 Shares

गणतन्त्र दिवस की तैयारी को ले अनुमंडल कार्यालय में हुई बैठक
हिलसा ( नालन्दा )। अनुमंडल कार्यालय में सोमवार को गणतन्त्र दिवस की तैयारी को लेकर बैठक का आयोजन किया गया जिसमें सभी सरकारी/ ग़ैर सरकारी कार्यालयों से आए प्रतिनिधि के अलावे गणमान्य लोगों एवं समाजसेवियों ने हिस्सा लिया। भूमि सुधार उप समाहर्ता कृत्यानन्द रंजन की अध्यक्षता में आयोजित बैठक के दौरान इस बार किसी भी तरह का सांस्कृतिक कार्यक्रम अथवा झांकी आदि की प्रस्तुति नहीं करने का सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया। इसके अलावा रामबाबू हाई स्कूल में  प्रस्तावित मुख्य कार्यक्रम के दौरान पहुँचे आगंतुकों के लिए पर्याप्त मात्रा में मास्क एवं सेनेटाइज़र का प्रबंध करने की बात कही गई जिसकी जवाबदेही नगर परिषद को सौंपी गई. सभी कार्यक्रम स्थल एवं पूरे नगर की साफ़ सफ़ाई के साथ साथ पेय जल की व्यवस्था कराने का दायित्व भी नगर परिषद की दिया गया। बैठक में शामिल सभी सदस्यों ने गणतन्त्र दिवस झंडोत्तोलन कार्यक्रम के दौरान सामाजिक दूरी का पालन करते हुए क़ोविड 19 प्रोटोकॉल को शत प्रतिशत लागू करने सम्बंधी आवश्यक दिशा निर्देश दो दिन पूर्व जारी करने की बात कही। बैठक को सम्बोधित करते हुए डीसीएलआर ने कहा कि टीका के चलते हालाँकि क़ोरोना का ख़तरा कम हुआ है फिर भी तीसरी लहर को नज़रअंदाज नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि शहर के सभी निर्धारित स्थानों पर पूर्व की भाँति नियत समय पर झंडोत्तोलन किया जाएगा जिसमें लोगों को आमंत्रित करने के लिए ई - कार्ड का प्रयोग किया जाएगा. सभी आगंतुक सदस्यों के धन्यवाद ज्ञापन के बाद बैठक के समापन की घोषणा की गई. बैठक में ज़िला ब्राण्ड ऐंबेसडर सह समाजसेवी डा. आशुतोष कुमार मानव, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी संदीप कुमार, प्रभारी थानाध्यक्ष कुणाल कुमार सिंह,  डीएस आर के राजू, अर्जुन विश्वकर्मा, सत्येंद्र प्रसाद सिन्हा, अभयकान्त सिन्हा, राज किशोर प्रसाद, सन्तोष कुमार पार्थ, विकास कुमार दूबे, सुबोध कुमार, गणेश प्रसाद सिंह समेत सभी सरकारी कार्यालय के पदाधिकारी ने हिस्सा लिया।

..........
9
320 views    0 comment
1 Shares

सरकार अपनी विफलताओं की आड़ में शिक्षकों को ठगने की कोशिश न करे :- रौशन कुमार     
 

नालंदा(बिहार)। राज्य के हजारों अप्रशिक्षित शिक्षकों के आश्रित भुखमरी के कगार पर पहुंच गए हैं । राज्य सरकार की असंवेदनशीलता के कारण हजारों शिक्षक दर-दर की ठोकरें खाने को विवश हैं। परिवर्तनकारी प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर ब्रजवासी ने इस संबंध में राज्य सरकार को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि अप्रशिक्षित शिक्षकों की बर्खास्तगी पर रोक लगाई जाए और उनके स्थगित वेतन को अविलंब चालू करने की कारवाई की जाए । उक्त बात की जानकारी संघ के जिलाध्यक्ष रौशन कुमार ने प्रेस बयान में कहे है।उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव, मुख्यमंत्री और निदेशक, प्राथमिक शिक्षा को लिखे पत्र में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि एक मामले में माननीय उच्च न्यायालय पटना ने आदेश दिया है कि जब तक मामले की सुनवाई उच्च न्यायालय में चल रही है तब तक किसी भी शिक्षक को नहीं हटाया जाए और इस बाबत उच्च न्यायालय ने राज्य के महाधिवक्ता और भारत सरकार के सोलिसिटर जनरल को निर्देश दिया था कि वे इसकी समीक्षा करें कि किसी भी शिक्षक को तत्काल पद मुक्त नहीं किया जाएगा किंतु, महाधिवक्ता और सॉलीसीटर जनरल के द्वारा अप्रशिक्षित शिक्षकों के विरुद्ध कार्रवाई पर रोक लगाने हेतु कोई पहल नहीं की जा रही है । इस संबंध में उन्होंने महाधिवक्ता को भी ज्ञापन सौंपा है और उच्च न्यायालय के आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने का आग्रह किया है। 
ज्ञात हो कि प्राथमिक शिक्षा निदेशक ने राज्य के सभी अप्रशिक्षित शिक्षकों की बर्खास्तगी का आदेश जारी किया है जिसके अनुपालन में राज्य के विभिन्न जिलों में हजारों शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है और उनके कार्यरत अवधि का भुगतान भी नहीं किया गया है। उन्होंने कहा है कि इस लोक कल्याणकारी राज्य में माननीय उच्च न्यायालय को भी शिक्षा विभाग अंगूठा दिखा रहा है । यह माननीय उच्च न्यायालय की अवमानना ही नहीं है बल्कि शिक्षा विभाग के अधिकारियों की तानाशाही का प्रमाण भी है। उन्होंने चेतावनी दी है कि शिक्षकों की बर्खास्तगी पर तुरंत रोक नहीं लगाई गई और उनके बकाये वेतन का भुगतान नहीं किया गया तो पूरे राज्य के शिक्षक राष्ट्रपति और सर्वोच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश से भी गुहार लगाएंगे । राज्य में पूरा तंत्र केवल शराबबंदी अभियान में लगा हुआ है और इससे संबंधित लाखों मुकदमों की सुनवाई में उच्च न्यायालय के सारे जजों को लगा दिया गया है जिस कारण सेवा से संबंधित मामलों की सुनवाई नहीं हो पा रही है ।उन्होंने हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश से मांग की है कि अप्रशिक्षित शिक्षकों और शिक्षकों से संबंधित अन्य सभी मामलों की सुनवाई के लिए विशेष बेंच गठित किया जाए अन्यथा की स्थिति में सरकार की उदासीनता और विभागीय तानाशाही के कारण राज्य में हजारों मौत हो जाएगी ।जहरीली शराब से राज्य में जितनी मौत नहीं होती है उससे ज्यादा मौत भूखमरी के कारण शिक्षकों के आश्रितों की हो जाएगी।

..........
1909
56765 views    0 comment
2 Shares

एकंगरसराय(नालंदा)।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कोरोना संक्रमण से ठीक होने और राज्य एवं देश से कोरोना की मुक्ति को लेकर एकंगरसराय प्रखंड में जदयू के कार्यकर्ताओं ने जदयू के कार्यकारी अध्यक्ष सुभाष कुमार सिन्हा के नेतृत्व में भगवान भास्कर की नगरी औंगारी धाम में सूर्य मंदिर के बाहर हवन कार्यक्रम का आयोजन किया। इस  मौके पर नालंदा के सांसद कौशलेंद्र कुमार ने कहा कि पूरे देश एवं राज्य में कोरोना का संक्रमण चरम पर है, और हमारे नेता एवं राज्य के मुखिया नीतीश कुमार जी भी संक्रमण के शिकार हैं, ऐसी स्थिति में उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ के लिए इस हवन कार्यक्रम के माध्यम से हम लोग ईश्वर से प्रार्थना कर रहे हैं कि  जल्द से जल्द हमारे नेता जनता के बीच में आकर राज्य को कोरोना से मुक्त कराने की दिशा में कारगर पहल कर सकें। इस मौके पर सांसद कौशलेंद्र कुमार, पूर्व विधायक चंद्रसेन प्रसाद, नालंदा जिला जदयू अध्यक्ष सियाशरण ठाकुर, युवा जदयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य इंजीनियर राजन, एकंगर सराय दक्षिणी के जिला पार्षद प्रतिनिधि रामकृष्ण सिंह, औंगारी धाम ट्रस्ट के अध्यक्ष राम भूषण दयाल, सर्वेश प्रसाद, पंकज कुमार, नवल किशोर पांडे, रंजीत चंद्रवंशी,  समेत दर्जनों लोगों ने हवन कार्यक्रम में भाग लिया।

..........
62
2507 views    0 comment
36 Shares


गुटखा छोड़ो आंदोलन ने किया नशामुक्ति कार्यक्रम का आयोजन, बच्चों ने ली शपथ

हिलसा ( नालंदा )। नशा हर तरह के अपराध की जननी है। आजकल का युवा वर्ग पहले तो फ़ैशन के तौर पर नशीले पदार्थ का प्रयोग शुरू करता है लेकिन बाद में जाकर यह आदत बन जाती है। नशे की आदत मौत को दावत देकर बुलाने के बराबर है इसलिए ख़ासकर युवा वर्ग को नशे से बिल्कुल परहेज़ करना चाहिए . उक्त बातें बतौर मुख्य अतिथि ज़िला आइकॉन डा. आशुतोष कुमार मानव ने गुटखा छोड़ो आंदोलन द्वारा आयोजित नशामुक्ति अभियान सह संकल्प सभा के दौरान कही। अनुमंडल मुख्यालय समेत एकंगरसराय, मीना बाज़ार आदि जगहों में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए गुटखा छोड़ो आन्दोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. आशुतोष कुमार मानव ने कहा कि गुटखा, खैनी, तम्बाकू के सेवन से हर साल लाखों नौजवान बेमौत मारे जा रहे हैं। नशा बर्बादी का कारण है जिसका ख़ात्मा आपसी सहयोग के बल पर ही सम्भव है। डा. मानव ने छात्र युवाओं के साथ साथ आम नागरिकों से भी आह्वान किया कि वे नशा विरोधी मुहिम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लें और समाज को नशामुक्त बनाने में अपनी सशक्त भूमिका अदा करें। इस अवसर पर शुकदेव एकेडमी एकंगर सराय में आयोजित संकल्प कार्यक्रम में नशे से होने वाली हानियों पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए इसके ख़िलाफ़ अपने अपने घर से ही जंग शुरू कर देने की सलाह विद्यार्थियों को दी। इसके पूर्व सभी आगत अतिथियों का स्वागत शुकदेव एकेडमी की एचएम निवेदिता कुमारी द्वारा मोमेंटो भेंट कर किया गया . इस अवसर पर एचएम निवेदिता कुमारी , सत्येंद्र प्रसाद सिन्हा, राज किशोर , शैलेश सिंह , राकेश कुमार रवि, कमलेश कुमार, इंदू कुमारी, वीणा चंद्र आर्य, रजत जयंती, शशि भूषण प्रसाद, राजनीति कुमार , मंजू सिन्हा, रुपम कुमारी, विक्रांत उपाध्याय, गुड्डू यादव समेत दर्जनों कार्यकर्ता एवं शिक्षाविद उपस्थित थे।

..........
0
0 views    0 comment
1 Shares

एकंगरसराय(नालन्दा)। नालन्दा जिला स्थानीय प्राधिकार विधान परिषद का होने वाली चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल द्वारा घोषित प्रत्याशी नालन्दा जिला युवा राजद अध्यक्ष उर्फ विजय मुखिया जी ने अपने समर्थकों के साथ एकंगरसराय पहुंचकर पार्टी के नेताओं, कार्यकर्ताओ, पंचायत जनप्रतिनिधियों, बुद्धिजीवियों व महागठबंधन के नेताओं से मिलकर जनसम्पर्क अभियान चलाया, और आशिर्वाद प्राप्त किया।इस मौके पर राजद प्रत्याशी विजय कुमार यादव उर्फ विजय मुखिया, राजद जिलाउपाध्यक्ष बिनोद यादव, राजद के वरिष्ठ नेता रामेश्वर पहलवान,  एकंगरसराय उतरी जिला परिषद सदस्य के प्रतिनिधि संतोष यादव, किसान प्रकोष्ठ के प्रखंड अध्यक्ष अनिल उर्फ टुनटुन यादव, मदन मुखिया, अशोक यादव, प्रखंड प्रधान महासचिव दिनेश प्रसाद,अमोद मुखिया,  प्रखंड अध्यक्ष बलिराम मिस्त्री,राजद नेता शैलेश यादव, मो0 मोईन, समेत कई पंचायत जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

जरूरतमंदों के बीच हुआ कंबल वितरण

एकंगरसराय (नालंदा )। प्रखंड क्षेत्र में कई दिनों से लगातार पड़ रही घने कोहरे व भीषण ठंड के प्रकोप से ठिठुरते गरीब -असहाय एवं वंचित महिलाएं व बुजुर्गों को राहत पहुंचाने की भावना से प्रखंड क्षेत्र के समाजसेवी व भजनकारी महिला धनहर गाँव निवासी बबीता देवी के अथक प्रयास से औंगारीधाम ट्रस्ट द्वारा धनहर गांव के दर्जनों जरूरतमंद लोगों के बीच गर्म कपड़े व कंबल वितरण किया गया। इस अवसर पर औंगारीधाम ट्रस्ट के अध्यक्ष रामभूषण दयाल ने कहा कि यह एक सेवा का कार्य है। उन्होंने कहा कि औंगारी धाम ट्रस्ट के द्वारा प्रत्येक वर्ष ठंड के मौसम में हजारों जरूरतमंद लोगों के बीच गर्म कपड़े, कंबल एवं छात्र छात्राओं को खेल सामग्री ,किताब, कॉपी, कलम वितरण किया जाता है। एवं अन्य प्रकार की सामाजिक कार्य किया जाता हैं। समाजसेवी सह भजनकारी बबीता देवी ने कहा कि समाज के जरूरतमंदों की सहायता यदि सक्षम लोगों द्वारा की जाती है तो इससे समाज में आपसी भाईचारे व प्रेम के साथ-साथ क्षेत्र का अग्रणी विकास होगा। इस अवसर पर ट्रस्ट के अध्यक्ष रामभूषण दयाल, समाजसेवी व भजनकारी बबीता देवी , ट्रस्ट के उपाध्यक्ष बीएन यादव ,नवल किशोर पाण्डेय, एसके पाण्डेय,धीरज सोनी, दीपक सोनी समेत ट्रस्ट के कई लोग मौजूद थे। फोटो एकंगरसराय धनहर गांव में जरूरतमंदों के बीच कंबल वितरण करते औंगारी धाम ट्रस्ट के अध्यक्ष रामभूषण दयाल व भजनकारी बबीता देवी मौजूद थी।

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

देवस्थल के जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराने की मांग।
एकंगरसराय(नालन्दा)। प्रखंड क्षेत्र के चौरई गाँव मे कुछ दबंग लोगो ने गाँव के देवस्थल का जमीन को अतिक्रमण कर लिया है।जिससे ग्रामीणों को पूजा-अर्चना व सामाजिक कार्य करने में काफी कठनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।इस सम्बंध में  दर्जनों ग्रामीणों का हस्ताक्षर युक्त आवेदन एकंगरसराय सीओ महेंद्र प्रसाद गुप्ता को देकर अतिक्रमण मुक्त कराने की
मांग की हैं। ग्रामीण शशि भूषण प्रसाद, सुरेश प्रसाद, नरेश प्रसाद समेत दर्जनों ग्रामीणों ने बताया कि गाँव के ही कुछ लोग देवस्थल का जमीन को अतिक्रमण कर लिया है, जिससे लोगो को पूजा-अर्चना व सामाजिक कार्य करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।लोगों ने बताया कि इस सम्बंध में कई बार सीओ को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगा चुका हूँ।लोगों ने बताया कि 7 अगस्त 2021 को सीओ कार्यालय से नापी का तिथि निर्धारित किया गया, लेकिन चार महीने गुजर जाने के बाबजूद भी आज तक नापी नही हो सकी हैं, जिससे ग्रामीणों में काफी रोष व्याप्त है।लोगों ने बताया कि यदि एक हफ्ते के अन्दर न्याय नही मिला तो बाध्य होकर वरीय अधिकारियों व न्यायालय का दरवाजा खटखटाया जायेगा।जिसका सारी जबाबदेही स्थानीय अधिकारियों की होगी।

..........
6
230 views    0 comment
6 Shares

नृत्य प्रतियोगिता में छोटे बच्चों ने बिखेरा जलवा, हुए पुरस्कृत

करायपरसुराय ( नालंदा )। स्थानीय शानवी इंटरनेशनल स्कूल की नई शाखा के उद्घाटन के अवसर पर छोटे बच्चों के बीच नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें दर्जनों स्कूली छात्र छात्राओं ने हिस्सा लेकर दर्शकों की खूब तालियाँ बटोरीं। इसके पूर्व कार्यक्रम का विधिवत उद्घाटन ज़िला ब्राण्ड ऐंबेसडर डा. आशुतोष कुमार मानव एवं पूर्व मुखिया मो. ख़ालिद मुन्ना ने दीप प्रज्वलित कर किया। उद्घाटन समारोह को सम्बोधित करते हुए डा. मानव ने कहा कि पढ़ाई लिखाई के साथ साथ हर तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेते रहने से बच्चों की प्रतिभा निखरती है। बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए अभिभावको। को हमेशा सजग रहने की ज़रूरत है। मो. ख़ालिद मुन्ना ने नृत्य संगीत में बेहतर प्रदर्शन कर रहे प्रतिभागियों की हौसला आफ़जाई की तथा इस प्रकार के आयोजन में निरंतर भाग लेने का सुझाव दिया। इस मौक़े पर शानवी इंटरनेशनल के निदेशक राहुल कुमार ने कार्यक्रम में बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र छात्राओं को विशेष रूप से प्रोत्साहित किया तथा निशुल्क ट्रेनिंग की बात कही। मौक़े पर शानवी इंटरनेशनल के राहुल कुमार के अलावा नायरा सिंह, मधुमिता कुमारी, राज किशोर प्रसाद , सीमा हल्दर , शैलेश सिंह पवन कुमार समेत दर्जनो गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

..........
38
3026 views    0 comment
1 Shares

स्वच्छता अभियान में युवा वर्ग की भूमिका अहम : डा. मानव

हिलसा ( नालंदा )। स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को लेकर समाजसेवी सह ब्राण्ड ऐंबेसडर डा. आशुतोष कुमार मानव ने शहर के विभिन्न जगहों पर जागरुकता अभियान चलाया। इसी कड़ी में एसयू कॉलेज के निकट आरसीसी सभागार में छात्र - युवाओं के बीच एक संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि गंदगी के ख़िलाफ़ अपने घर से ही सघन अभियान छेड़े जाने की ज़रूरत है। स्वच्छता अभियान तभी सफल होगा जब सभी नागरिक अपनी ज़िम्मेवारी अच्छी तरह समझेंगे। कूड़ा कचरा जहां - तहाँ न फेंककर कूड़ेदान का प्रयोग करें और दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करें। डा. मानव ने युवा वर्ग से आह्वान किया कि वे पढ़ाई लिखाई के साथ साथ आम जन को गंदगी एवं प्रदूषण के चलते आने वाले ख़तरे के प्रति आगाह करने का मुहिम छेड़ दें। वक्ताओं ने कहा कि स्वच्छता में ही स्वर्ग का वास होता है। इस दौरान प्लास्टिक , पौलीथीन  के सम्पूर्ण बहिष्कार पर भी बल दिया गया। समाजसेवी प्रदुमन कुमार ने लोगों से नगर परिषद हिलसा द्वारा जारी स्वच्छता कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर भाग लेने की अपील की।

..........
3
1193 views    0 comment
15 Shares

डाइट नूरसराय में 8 दिवसीय कार्यशाला का समापन

नालंदा(बिहार)। लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन नई दिल्ली द्वारा नालंदा जिले के जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान, नूरसराय में यूनिसेफ बिहार के सहयोग से 8 दिवसीय कार्यशाला का आज समापन किया गया। यह कार्यशाला बुनियादी साक्षरता एवं संख्या ज्ञान पर आधारित क्षमतावर्धन कार्यक्रम था। जिसमे जिले के 35   जिला सन्दर्भ समूह सदस्यों को  प्रशिक्षण दिया जा रहा था, जिससे निपुण भारत मिशन को सफलता पूर्वक 2026-27 तक के लक्ष्य को आसानी से हासिल किया जा सके। इस प्रशिक्षण में मुख्य प्रशिक्षक के रूप में लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन दिल्ली से निधि काजी, अजय गुप्ता, सहदेव पँवार उपस्थित थे।
कार्यशाला में प्रतिभागियों को बुनियादी साक्षरता एवं संख्या ज्ञान, कक्षा शिक्षण प्रक्रिया, शिक्षण सामग्री निर्माण, रोचक शिक्षण गतिविधियों के बारे में विस्तार से समझाया गया ।

..........
189
5233 views    0 comment
113 Shares

स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को लेकर हिलसा में निकली विशाल जागरुकता रैली

हिलसा ( नालंदा )। स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 को लेकर मंगलवार को नगर परिषद हिलसा के द्वारा शहर में विशाल जागरुकता रैली निकाली गई। स्टेशन रोड स्थित नप परिसर से नगर कार्यपालक पदाधिकारी संदीप कुमार एवं ब्राण्ड ऐंबेसडर डा. आशुतोष कुमार मानव ने हरी झण्डी दिखाकर प्रभात फेरी सह जागरुकता रैली को रवाना किया। इस अवसर पर नगर वासियों को सम्बोधित करते हुए ब्राण्ड ऐंबेसडर डा. मानव ने कहा कि नगर की साफ़ सफ़ाई में जब तक आम जन की भागीदारी तय नहीं होगी तब तक स्वच्छ और सुंदर भारत का सपना साकार नहीं होगा। उन्होंने कहा कि हम लोग अपने अपने घर को तो साफ़ सुथरा रखते हैं लेकिन सड़क या गली में रोज़ गंदगी फैलाते हैं। कूड़े कचरे को हमेशा कूड़ेदान में ही फेंकने की आदत डालनी होगी।नगर कार्यपालक पदाधिकारी संदीप कुमार ने नगरवासियों से आह्वान किया कि वे गंदगी के ख़िलाफ़ जारी अभियान में साथ दें तथा इसके किए पड़ोसियों को भी जागरुक करें। उन्होंने 2022 के स्वच्छता सर्वेक्षण में हिलसा को सर्वोच्च स्थान दिलाने में अपनी अपनी ताक़त पूरी तरह झोंक देने की अपील की । बैनर पोस्टर के साथ साथ कई नारों से सुसज्जित तख़्तियों के साथ निकली जागरुकता रैली शहर के स्टेशन रोड से होते हुए वरुण तल, काली स्थान, सिनेमा मोड़, योगीपुर मोड़ होते हुए सूर्यमंदिर तालाब पर पहुँची। यहाँ से बड़ी संख्या में सफ़ाईकर्मियों ने भी अपना योगदान रैली में दिया। रैली में स्कूली बच्चों के अलावा सिटी मैनेजर मनीष कुमार, अलबेला कुमार, रवि कुमार, शिव जी प्रसाद, विजय कुमार, विजय कुमार विजेता, पिंटू कुमार, मिथलेश कुमार, बैजू कुमार, नगर परिषद के समस्त कर्मी, पदाधिकारी , जीविका दीदियों के साथ साथ आम नागरिक भी शामिल थे।

..........
35
3264 views    0 comment
32 Shares

परिवर्तनकारी प्रारम्भिक शिक्षक संघ की बैठक  में ली गई कई निर्णय 

नालंदा(बिहार)। 
परिवर्तनकारी प्रारम्भिक शिक्षक संघ के जिला कार्य समिति  की बैठक रविवार को स्थानीय मॉडल मध्य विद्यालय भैंसासुर के प्रांगण में जिलाध्यक्ष रौशन कुमार की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ तथा संचालन संघ के सचिव सुनील कुमार ने की। नालन्दा मोबाईल एप के माध्यम से शिक्षकों उपस्थिति बनवाने के निर्णय को संघ के सदस्यों ने सराहनीय पहल बताया। इसके लिए संघ के सदस्यों ने जिलाधिकारी योगेन्द्र सिंह तथा डीईओ केशव प्रसाद को धन्यवाद दिया।परन्तु इस एप में आ रहे समस्या से जल्द ही संघ के एक प्रतिनिधिमंडल जिलाधिकारी से मुलाकात करेंगे और ज्ञापन देकर अवगत कराएंगे। सदस्यों ने कहा कि जिले में कुछ शिक्षकों के पास एंड्रॉयड मोबाइल नही है।जिनके पास है भी तो रजिस्ट्रेशन नही हो रहा है। उनलोगों ने कहा कि अल्प वेतन पाने वाले नियोजित शिक्षक को मोबाइल खरीदने और डाटा के लिए खर्च का बोझ बढेगा।वैसे शिक्षक जिनका घर केवल वेतन से चलता वे इसके लिए राशि कहाँ से लाएगें।मोबाइल खरीदने और वार्षिक डाटा पैक के लिए अलग से राशि व्यवस्था करने की मांग करेगा।उन्होंने कहा कि वैसे विद्यालय जो एक शिक्षकीय और उत्क्रमित माध्यमिक विद्यालय जो शिक्षकों के प्रतिनियिजन से संचालित हो रहा है ,वे किस विद्यालय से अपना रजिस्ट्रेशन करायेंगें।बैठक में संघ के विस्तार के लिए सभी प्रखंडों में 31 जनवरी तक संकुल स्तरीय कमिटी का गठन करने तथा 31 मार्च तक प्रखंड स्तरीय कमिटी का पुनर्गठन करने का निर्णय लिया गया।साथ ही जिला कमिटी में परामर्श समिति और अनुशासन समिति बनाने,अवकाश तालिका-2022 का निर्माण कर डीईओ से अनुमोदन के भेजने,ईपीएफ में त्रुटि में सुधार के साथ साथ राज्य कर्मी का दर्जा और पुरानी पेंशन लागू करवाने के लिए राज्य संघ के द्वारा आंदोलन की घोषणा के लिए प्रस्ताव पारित कर निर्णय लिया गया है।संघ के सदस्यों ने कहा कि विभागीय आदेश के बाद नियोजित शिक्षकों के वेतन से ईपीएफ खाता में जमा करने के लिए प्रत्येक माह 1800 रुपया की कटौती सितम्बर 2020 से की जा रही है । परन्तु सैंकड़ों शिक्षकों को शुरुआती दो- तीन माह की राशि ईपीएफ खाता में स्थापना कार्यालय के द्वारा जमा नही किया गया है। इस सम्बंध में संघ के प्रतिनिधिमंडल डीईओ से मुलाकात कर ज्ञापन देकर अवगत कराएंगे तथा शिक्षकों के ईपीएफ की राशि खाता में ट्रान्सफर के लिए प्रतिनियुक्त शिक्षक के जगह पर कार्यालय के किसी कम्प्यूटर ऑपरेटर को अधिकृत करने की मांग करेगें। बैठक में मो0 इरफान मल्लिक,मनोज कुमार, सूचित कुमार, अतिउत्तम कुमार, शशिकांत वर्मा,रविरंजन कुमार, सूरज चौहान, दिबसम्बल उर्फ बंटी, दयानन्द कुमार, विनोद चौधरी, मुकेश कुमार, रूपा कुमारी, नवीन कु0सिंह,विश्वजीत कुमार, संतोष कु0 निराला,राकेश कुमार, प्रदीप कुमार, अजय कुमार, संजय कुमार,बाल्मीकि कुमार, विनीत कुमार सन्यासी इत्यादि शिक्षक मौजूद थे।

..........
914
26025 views    0 comment
1 Shares

लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन दिल्ली द्वारा आयोजित 4 दिवसीय कार्यक्रम का समापन

नालंदा(बिहार)। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान नूरसराय में जिला स्रोत समूह के शिक्षकों का क्षमता वर्धन हेतु 4 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया था,जिसका समापन शनिवार को किया गया। इस कार्यशाला में विभिन्न प्रखंडों से कुल 35 शिक्षक,बीआरपी तथा प्रधानाध्यापकों को प्रशिक्षण दी जा रही थी। वही  प्रशिक्षक अजय कुमार ,आकांक्षा त्यागी और सहदेव पवार ने बताया कि इसके बाद 4 दिनों को कार्यशाला दुबारा 21 दिसम्बर से 24 दिसंबर तक आयोजित की जाएगी। सफलता पूर्वक प्रशिक्षण पूरा करने वाले शिक्षकों को हमारे एनजीओ द्वारा सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। वही संस्था के प्राचार्य ने बताया कि जिले में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बहाल करने में आपसभी का बहुत बड़ा योगदान होने वाला है। पूरी निष्ठा से यहाँ बताये गए शिक्षण विधि का उपयोग करते हुए बच्चों का क्षमता वर्धन बढ़ाने का कार्य करें। वहीं प्रशिक्षण में भाग लिए सभी शिक्षक भी काफी उत्साहित दिखे।

..........
400
11898 views    0 comment
259 Shares

नालंदा जिले में एल.एल..एफ दिल्ली द्वारा चलाया जा रहा क्षमता वर्धन कार्यक्रम नालंदा (बिहार)। लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन दिल्ली द्वारा जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान नूरसराय में चार दिवसीय दो कार्यशाला शिक्षकों के क्षमता वर्धन हेतु कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम 15 दिसंबर से 18 दिसंबर और 21 दिसम्बर से 24 दिसंबर तक आयोजित की जाएगी। इस कार्यक्रम का उद्घाटन प्रभारी प्राचार्य श्री हेमचन्द पासवान द्वारा किया गया। मुख्य प्रशिक्षक के रूप दिल्ली से अजय गुप्ता,आकांक्षा त्यागी और सहदेव पँवार उपस्तिथ थे। इस कार्यशाला का आयोजन हिंदी शिक्षण की गुणवत्ता बढ़ाने और विद्यालय में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बहाल करने हेतु निपुण भारत मिशन के तहत किया जा रहा है।

..........
52
4296 views    0 comment
47 Shares

निर्वाचन साक्षरता क्लब के तहत हिलसा में कार्यक्रम का आयोजन


हिलसा ( नालन्दा )।
मतदान के प्रति सघन जागरूकता फैलाने के साथ साथ मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम को व्यापक बनाने के उद्देश्य से स्थानीय मई हाई स्कूल के प्रांगण में गठित निर्वाचन साक्षरता क्लब के तहत सोमवार को अभियान चलाया गया।

कार्यक्रम में शामिल छात्र- छात्राओं ने अपने परिवार, पड़ोस एवं आस पास के क्षेत्रों में सभी को वोटर बनने तथा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करने हेतु जागरुक करने का सामूहिक संकल्प लिया। मौक़े पर ज़िले के ब्राण्ड ऐंबेसडर डा. आशुतोष कुमार मानव ने कहा कि मतदाता सूची में सभी वोटरों का नाम पंजीकरण किए जाने और मताधिकार के प्रयोग के प्रति वोटरों खासकर महिलाओं, दिव्यांग एवं युवाओं को जागरुक करने के लिए विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में निर्वाचन साक्षरता क्लब का गठन किया गया है।

साक्षरता क्लब में शामिल विद्यार्थियों से आइकॉन डा. मानव ने कहा कि एक जनवरी 2022 को 18 साल की उम्र पूरी करने वाले को प्रेरित कर वोटर लिस्ट में नाम शामिल करने के लिए उनसे फ़ॉर्म -6 भरवाना होगा।

इस दौरान समाजसेवी शिक्षक अजीत कुमार सिंह ने भी क्लब के सदस्यों को जागरुक करते हुए वोटर पोर्टल एवं वोटर हेल्प लाइन ऐप के बारे में अद्यतन जानकारी दी तथा देश के लोकतन्त्र को सशक्त बनाने का संकल्प दिलाया।

 इस दौरान प्रतिभागियों को प्रशिक्षक द्वारा निर्वाचन प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यक्रम में प्राचार्य लोकपाल के अलावा रामाधार सिंह , समाजसेवी शिक्षक अजीत कुमार सिंह, धर्मराज कुमार , प्रियंका कुमारी , प्रदीप कुमार , रौशन राज , कल्याणी कुमारी , शम्भु कुमार, अखिलेश कुमार के अलावे दर्जनों प्रतिभागी उपस्थित थे।

..........
17
797 views    0 comment
8 Shares

"मैंने एक नग चुना और तुम्हें अर्पित कर दिया"

संतुलित बोलें

18 दिन के युद्ध ने, द्रौपदी की उम्र को 80 वर्ष जैसा कर दिया था। शारीरिक रूप से भी और मानसिक रूप से भी।

शहर में चारों तरफ़ विधवाओं का बाहुल्य था...
पुरुष इक्का-दुक्का ही दिखाई पड़ते थे।

अनाथ बच्चे घूमते दिखाई पड़ते थे और उन सबकी वह महारानी "द्रौपदी" हस्तिनापुर के महल में निश्चेष्ट बैठी, शून्य को निहार रही थी।

तभी, श्रीकृष्ण कक्ष में दाखिल होते हैं।
द्रौपदी कृष्ण को देखते ही दौड़कर उनसे लिपट जाती है... 
कृष्ण उसके सिर को सहलाते रहते हैं और कुछ देर उसे रोने देते हैं व थोड़ी देर बाद, उसे खुद से अलग करके समीप के पलंग पर बैठा देते हैं!

द्रौपदी: "यह क्या हो गया सखा? ऐसा तो मैंने नहीं सोचा था!"

कृष्ण : "नियति बहुत क्रूर होती है पांचाली...
वह हमारे सोचने के अनुरूप नहीं चलती! वह हमारे कर्मों को परिणामों में बदल देती है...
तुम प्रतिशोध लेना चाहती थीं और, तुम सफल हुईं।
तुम्हारा प्रतिशोध पूरा हुआ! सिर्फ दुर्योधन और दुःशासन ही नहीं, सारे कौरव समाप्त हो गए।
तुम्हें तो प्रसन्न होना चाहिए।"

द्रौपदी: "सखा, तुम मेरे घावों को सहलाने आए हो या उन पर नमक छिड़कने के लिए?"

कृष्ण: "नहीं द्रौपदी, मैं तो तुम्हें कर्मों के परिणाम की वास्तविकता से अवगत कराने आया हूँ।"

द्रौपदी : "तो क्या, इस युद्ध के लिए पूर्ण रूप से सिर्फ़ मैं ही उत्तरदायी हूँ?

कृष्ण: "नहीं! तुम स्वयं को इतना महत्वपूर्ण मत समझो... लेकिन अगर तुम अपने कर्मों में थोड़ी सी दूरदर्शिता रखतीं तो, इतना कष्ट कभी नहीं पातीं!

द्रौपद : "मैं क्या कर सकती थी कृष्ण?"

कृष्ण: "तुम बहुत कुछ कर सकती थीं!
जब तुम्हारा स्वयंवर हुआ... तब तुम कर्ण को अपमानित नहीं करतीं और उसे प्रतियोगिता में भाग लेने का एक अवसर देतीं तो, शायद परिणाम कुछ और होते! 
इसके बाद कुंती ने जब तुम्हें पाँच पतियों की पत्नी बनने का आदेश दिया, उस समय तुम अगर उसे स्वीकार नहीं करतीं तो भी, परिणाम कुछ और होते! 
उसके बाद तुमने अपने महल में दुर्योधन को अपमानित किया कि- 'अंधों के पुत्र अंधे ही होते हैं'... अगर ऐसा नहीं कहतीं तो, तुम्हारा चीरहरण नहीं होता और परिस्थितियाँ कुछ और होतीं! हे द्रौपदी, हमारे  *शब्द* भी हमारे कर्म होते हैं!" 
द्रौपदी अतीत के सागर में गोते लगाते हुए, कृष्ण के एक-एक शब्द को ध्यानपूर्वक 'गुनती' रही!

अतः, मित्रों, हमें अपने शब्दों को बोलने से पहले तौलना बहुत ज़रूरी होता है अन्यथा, उसके दुष्परिणाम सिर्फ़ स्वयं को ही नहीं, बल्कि पूरे परिवेश को दुःखी करते रहते हैं!
संसार में केवल मनुष्य ही एकमात्र ऐसा प्राणी है जिसका "ज़हर" उसके "दाँतों" में नहीं, 
"शब्दों " में है! 
इसलिए शब्दों का प्रयोग सोच समझकर करना चाहिए। 

ऐसे शब्दों का प्रयोग कीजिए जिनसे किसी की भावना को ठेस ना पहुँचे। 
क्योंकि सारा का सारा महाभारत, हमारे अंदर ही छिपा हुआ है

..........
39
3199 views    0 comment
18 Shares

कोविड का दूसरा टीका लगवाने वाले चयनित व्यक्तियों को किया गया पुरस्कृत 

एकंगरसराय (नालंदा)। 27 नवंबर से 31 दिसम्बर 2021 के दौरान कोविड-19 का टीका लगवाने वाले लक्की ड्रा विजेताओं को राज्य स्वास्थ्य समिति के तहत केयर इंडिया द्वारा सप्ताहिक पुरस्कार वितरण गुरुवार को प्रखंड कार्यालय में किया गया। इस अवसर पर एकंगरसराय बीडीओ सुश्री गीता एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ0 प्रमोद कुमार सिन्हा द्वारा संयुक्त रुप से लक्की ड्रा चयनित व्यक्तियों को प्रेशर कुकर एवं इंडक्शन चूल्हा देकर पुरस्कृत किया गया।

पुरस्कार पाने वालों में प्रखंड क्षेत्र के नराई गांव निवासी आशा देवी ,,निशनपूरा निवासी सचिन कुमार, धनगावा निवासी शैलेश कुमार, लाला बिगहा निवासी गीता देवी, एवं उदयपुर निवासी अरुण पासवान शामिल है।

इस अवसर पर बीडीओ सुश्री गीता ने कहा कि 27 नवंबर से 31 दिसंबर 2021 के दौरान कोविड-19 का टीका लगवाए और इनाम जीते। इस मौके पर बीडीओ सुश्री गीता, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ0 प्रमोद कुमार सिन्हा, डब्ल्यूएचओ सुनील कुमार, ब्लॉक मैनेजर मृणाल कुमार, जितेंद्र कुमार समेत कई लोग मौजूद थे। फोटो:-लक्की ड्रा में विजेताओं के बीच पुरस्कार वितरण करते बीडीओ गीता एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ प्रमोद कुमार सिन्हा।

..........
18
592 views    0 comment
4 Shares