logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Nitin Kumar
All India Media Association

महाराष्ट्र में चल रहा सियासी घमासान का असर, शिवसेना ने की प्रदेश कार्यकारिणी भंग

मेरठ। गाजियाबाद में संपन्न हुई शिवसेना प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में प्रदेश प्रमुख ठा. अनिल सिंह ने शिवसेना प्रदेश कार्यकारिणी को भंग करते हुऐ कहा कि 20 जौलाई से पूर्व नई कार्यकारिणी का गठन कर लिया जायेगा।
इससे पूर्व बैठक तीन प्रस्ताव पास करके शिवसेना पक्ष प्रमुख व महाराष्ट्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को भेजें।

1. समस्त प्रदेश इकाई ने उद्धव ठाकरे को अपना पूर्ण समर्थन दिया।
2. यू.पी के निकाय चुनाव शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे व युवा सेना प्रमुख आदित्य ठाकरे के नेतृत्व में ही लडे जायेंगे।
3. अयोध्या से सिद्धिविनायक मंदिर (मुंबई) तक बालासाहेब संदेश यात्रा निकाली जाएगी।

बैठक की अध्यक्षता प्रदेश उप प्रमुख महेश आहुजा ने की तथा संचालन प्रदेश महासचिव व पश्चिमी यूपी प्रभारी धर्मेन्द्र तोमर ने किया।

बैठक में प्रदेश महासचिव नाजिया खान, अवधेश शर्मा, नरेश चंद्र शर्मा, रविदत शर्मा, जयराम बंसल, मांगें राम शर्मा, सर्वेश राणा, राकेश त्यागी, श्रीपाल राणा, अवनीश आर्य, विजय मोहन गुप्ता, वेद प्रकाश यादव, रितुल शर्मा आदि पदाधिकारी शामिल रहे।

..........
58
2772 views    0 comment
1 Shares

थाना कंकरखेड़ा मोहम्मदपुर रोड पर हथियारों के बल पर बदमाशों ने, पेट्रोल पंप मैनेजर से 7 लाख रूपए लूटे

मेरठ। थाना कंकरखेड़ा क्षेत्र व्यक्ति योगेंद्र कुमार निवासी मोदीनगर गाजियाबाद के द्वारा सूचना दी गई कि उसके दो मैनेजर जो उसके पेट्रोल पंप पर जो एनएच 58 मोहम्मदपुर रोड पर स्थित है पर काम करते हैं. वो 7 लाख रूपए मोटरसाइकिल पर पंजाब नेशनल बैंक में जमा कराने जा रहे थे. रास्ते में लगभग 3 मोटरसाइकिल सवार 7 युवक एक साथ आए और पहले उनकी मोटरसाइकिल पर टक्कर मार कर उनसे हथियारों के बल पर 7 लाख रूपए छीन लिए।

पीड़ित की तहरीर पर थाना कंकरखेड़ा में मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है. घटना की सूचना मिलते ही मेरठ के नए एसएसपी रोहित सिंह सजवान व आला अधिकारी मौके पर पहुंचे जांच में जुट गए एसएसपी ने कहा कि आसपास के क्षेत्र की सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है जल्द ही बदमाश पकड़े जाएंगे और लूट का खुलासा मेरठ पुलिस जल्द करेंगी।

..........
72
2330 views    0 comment
1 Shares

8
994 views    0 comment
0 Shares

गुजरात के राज्यपाल ने किया प्राकृतिक खेती से कृषि समृद्धि सेमिनार का उद्घाटन

मेरठ। मोदीपुरम स्थित कृषि विश्वविद्यालय में मंगलवार को प्राकृतिक खेती से कृषि समृद्धि विषय पर एक सेमिनार आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत पहुंचे तथा उन्होने रिबन काटकर सेमीनार का उद्घाटन किया।

गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने कहा कि देश की जमीन और किसान को प्राकृतिक खेती ही समृद्ध कर सकती है। उन्होंने कहा कि अब उत्तर प्रदेश में भी प्राकृतिक खेती की शुरुआत सरकार द्वारा की जाएगी। कार्यक्रम में कृषि राज्यमंत्री बलदेव सिंह औलख, मंत्री डा. संजीव बालियान, जिला पंचायत अध्यक्ष गौरव चैधरी आदि भी मौजूद रहे। विवि के कुलपति डा. आरके मित्तल ने बताया कि सेमीनार में प्राकृतिक खेती से जुड़े विभिन्न स्टाल लगाए गए हैं। इस दौरान मुख्य अतिथि ने आर्गेनिक खेती से उगाए गए प्राॅडक्ट के विभिन्न स्टाल का निरीक्षण किया

..........
1
1369 views    0 comment
0 Shares

51
2637 views    0 comment
0 Shares

22
1328 views    0 comment
1 Shares

18
916 views    0 comment
1 Shares

स्काउट गाइड का उद्देश्य नर सेवा ही नारायण सेवा है, युवा पीढ़ी को स्काउट गाइड से जोड़ना ही चाहिए - मनोज तिवारी

नई दिल्ली। हिंदुस्तान स्काउट गाइड के प्रतिनिधि मंडल ने नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी से उनके नई दिल्ली स्थित सरकारी आवास पर मुलाकात की मुलाकात में अभिषेक माथुर, दीपक शर्मा एवं आशीष कुमार रहे।

इस मुलाकात में सांसद मनोज तिवारी को हिंदुस्तान स्काउट स्काउट गाइड द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार पूर्वक बताया तथा कोरोना काल में स्काउट गाइड द्वारा किए गए कार्यों के बारे में भी बताया. सांसद द्वारा कार्य की सराहना करते हुए साथ देने का विश्वास दिलाया. तथा उनके आवास पर आगामी रक्षाबंधन पर होने वाले कार्यक्रमों पर चर्चा की. सांसद मनोज तिवारी ने कहा स्काउट गाइड का उद्देश्य नर सेवा ही नारायण सेवा है युवा पीढ़ी को स्काउट गाइड से जोड़ना ही चाहिए।

..........
30
3270 views    0 comment
1 Shares

मेरठ में गैस सिलेंडर फटने से तीन मकान ध्वस्त, महिला की मौत, मलबे में कई लोग दबे

मेरठ। मेरठ के लिसाड़ीगेट थाना क्षेत्र में सोमवार की दोपहर बड़ा हादसा हो गया। रसोई गैस सिलेंडर फटने से पूरा मकान धराशाई हो गया। धमाका इतना तेज था कि आसपास के मकान भी ध्वस्त हो गए। मकान के मलबे में कई लोग दबे हैं। तीन लोगों को निकाला गया है। इनमें एक महिला की मौत हो गई है। अपुष्ट सूत्र दो लोगों की मौत की बात कह रहे हैं। तीन मकानों में 10 से ज्यादा लोगों के दबने की आशंका है।

धमाके के कारण 3 मकान जमींदोज हो गए, जबकि आसपास के 6 मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। धमाके के वक्त पूरा परिवार घर में मौजूद था। पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन करके अब तक 3 लोगों को मलबे से बाहर निकाला है। एक की मौत हो गई। जबकि दो लोग अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहे हैं। अभी भी कई बच्चे और अन्य लोग मलबे में दबे हैं और इन्हें निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

हादसे के वक्त घर में करीब 10 लोग मौजूद थे। जिसमें 6 बच्चे भी हैं। धमाके की सूचना मिलते ही कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर जेसीबी मशीन मंगवा कर ऑपरेशन चलाया जा रहा है ।अब तक पुलिस ने 3 लोगों को मलबे के ढेर से निकाल लिया है, जिसमें एक की मौत हो गई।

धमाका होते ही पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई। लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस प्रशासन की टीम बचाव और राहत में लगी है। कई टीमों को लगाया गया है। जेसीबी से मकान का लिंटर काटकर मलबे में दबे लोगों को निकालने की कोशिश हो रही है।

कई थानों की पुलिस और दमकल विभाग की टीम लगी है। 2 बुलडोजर लगाकर मलबे को हटाने का काम किया जा रहा है। अपुष्ट सूत्रों के अनुसार दो लोगों की मौत हो गई है।

..........
81
4056 views    0 comment
0 Shares

मेरठ दिव्यांग प्रकोष्ठ भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल सी.एम.ओ से मिला

मेरठ। मेरठ दिव्यांग प्रकोष्ठ भाजपा के संयोजक मुकेश दीक्षित के नेतृत्व में अनुज शर्मा, शुएब, सुनील कन्नोजिया, आरिफ मेरठ सी.एम.ओ से मिले और आयुष्मान योजना का लाभ दिव्यांग जनों को दिलाने हेतु प्रार्थना की एवं उन्होंने आश्वासन दिया कि इसके लिए भविष्य में केंप का आयोजन किया जाएगा।

मेरठ सी.एम.ओ से मिलने के बाद दिव्यांग जन अधिकारी अनिल से मॉटोराएज ट्राई साईकिल की मरम्मत हेतु केंप की बात रखी जिस पर अधिकारी अनिल ने कहा कि प्रक्रिया जारी है बहुत जल्द केंप लगेंगे. एवं उन्होंने कहा कि रोजगार मेले का आयोजन भी किया जाएगा पर अभी तक केवल पांच दिव्यांग जनों ने ही हमारे विभाग में नाम लिखाया है. मुकेश दीक्षित का आग्रह है कि सभी दिव्यांग अपना डाटा विभाग में जमा कराए।

..........
13
1115 views    0 comment
1 Shares

ऊर्जा भवन पर गरजे किसान, नरेश टिकैत बोले - वादों से मुकर रही सरकार, नलकूपों पर नहीं लगने देंगे मीटर

मेरठ। किसान मजदूर संगठन का ऊर्जा भवन पर धरना जारी है। भाकियू आज उर्जा भवन पर पंचायत कर रही है। पीवीवीएनएल के प्रबंध निदेशक अरविंद मलप्पा बंगारी और एसीएम ने ऊर्जा भवन सभागार में किसानों के प्रतिनिधि मंडल के साथ वार्ता की।

बिजली कटौती, अधिक बिजली बिल और नलकूपों पर मीटर लगाए जाने से नाराज भारतीय किसान यूनियन के किसान आज ऊर्जा भवन पर महापंचायत करने पहुंचे। भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौ. नरेश टिकैत और युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष गौरव टिकैत किसानों के बीच पहुंचे। रविवार को किसानों ने गांव-गांव घूमकर जनसंपर्क किया और महापंचायत में अधिक से अधिक किसानों से पहुंचने का आह्वान किया।

ट्यूबवैल से मीटर उतार कर साथ लाए किसान

भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के नेतृत्व में मेरठ मंडल के जनपदों से किसान सुबह से ही ऊर्जा भवन पर पहुंचने शुरू हो गए। किसान अपने साथ अपने-अपने ट्यूबेल से बिजली के मीटर उतारकर भी लाए थे, जिन्हें जमा करने के लिए ऊर्जा भवन में जद्दोजहद चल रही है। किसान नेताओं ने चेतावनी दी है कि अगर आसानी से बिजली के मीटर विद्युत विभाग के अधिकारियों ने जमा नहीं किए तो सभी मीटर पीवीवीएनएल के प्रबंध निदेशक अरविंद मल्लप्पा बंगारी के कार्यालय में भर दिए जाएंगे।

दरअसल, सरकार ने किसानों की नलकूपों पर भी मीटर लगाने का निर्णय लिया है। कुछ ट्यूबवैलों पर मीटर लगाए भी जा चुके हैं। किसान इसका विरोध कर रहे हैं। भारतीय किसान यूनियन कई बार पीवीवीएनएल के अधिकारियों से मिलकर नलकूपों पर मीटर नहीं लगाने की मांग कर चुका है। वहीं दोपहर बाद भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत धरनारत किसानों के बीच पहुंचे और कहा कि सरकार ने किसानों को फ्री बिजली देने का वादा किया था लेकिन सरकार अपने वादे से मुकर रही है। नलकूपों पर मीटर बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे। सरकार किसानों के हित में नहीं सोच रही है।

भारतीय किसान यूनियन के मेरठ मंडल अध्यक्ष गुड्डू प्रधान, राजकुमार करनावल, बबलू जिटौली आदि का कहना है कि सरकार किसानों का उत्पीड़न कर रही है। न तो किसानों को पर्याप्त बिजली मिल रही है और जबरन नलकूपों पर मीटर लगाने का दबाव बनाया जा रहा है। किसान नेताओं ने कहा कि आज ऊर्जा भवन पर महापंचायत में मेरठ ही नहीं बल्कि मंडल के सभी जनपदों से किसान पहुंचे हैं।

किसान मजदूर संगठन का ऊर्जा भवन पर धरना रविवार को भी जारी रहा। पीवीवीएनएल के प्रबंध निदेशक अरविंद मलप्पा बंगारी और एसीएम ने ऊर्जा भवन सभागार में किसानों के प्रतिनिधि मंडल के साथ वार्ता की। एक घंटे तक चली बैठक में स्थानीय समस्याओं पर तो पीवीवीएनएल एमडी ने सहमति जताई, लेकिन नलकूपों पर मीटर लगाए जाने की योजना को बंद करने से हाथ खड़े कर दिए। उन्होंने कहा कि मामला शासन स्तर का है। किसानों ने लगातार आंदोलन की चेतावनी दी है।

किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अन्नू मलिक, ललित राणा, दीपक सोम, ठाकुुर अजब सिंह, कालूराम, संजय राघव, मनोज पुंडीर, प्रवीन आदि किसानों के प्रतिनिधि मंडल ने वार्ता के दौरान एमडी से कहा कि नलकूपों पर मीटर किसी भी कीमत पर नहीं लगने चाहिए। सोमवार को भी किसानों का धरना जारी रहा।

ऊर्जा भवन पर 30 जून तक आंदोलन जारी रहेगा। किसान नेताओं ने कहा कि अगर किसान की नलकूपों का बोरिंग फेल हो जाता है और वह कुछ मीटर दूर हटकर नया बोरिंग कराता है तो उससे शिफ्टिंग चार्ज लिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि देहात में जेई और लाइनमैन किसानों से अवैध वसूली कर रहे हैं। इसको तत्काल प्रभाव से बंद किया जाना चाहिए। एमडी ने कहा कि किसानों की स्थानीय स्तर की सभी मांगों पर विचार किया जाएगा।

..........
89
2392 views    0 comment
0 Shares

36
1657 views    0 comment
0 Shares

अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेसियों का धरना

मेरठ। जिला और महानगर कांग्रेस कमेटी की ओर से अग्निपथ योजना के विरोध में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर सभी विधानसभा क्षेत्रों में सत्याग्रह कर अग्नि पथ योजना को वापस लेने की माँग की गयी।
सत्याग्रह जिला मुख्यालय पर जिला अध्यक्ष अवनीश काजला और महानगर अध्यक्ष जाहिद अंसारी के नेतृत्व मे हस्तिनापुर मे संदीप चैधरी और महेंद्र शर्मा के नेतृत्व मे सरधना मे सैय्यद रेहानुद्दीन के नेतृत्व मे सिवाल खास विधानसभा का जगदीश शर्मा और दिनेश उपाध्याय के नेतृत्व में किठौर विधानसभा मे बबिता गुर्जर के नेतृत्व क्षेत्रों में सत्याग्रह किया गया।

मेरठ में मुख्य आयोजन जिला अधिकारी कार्यालय पर जिलाध्यक्ष अवनीश काजला,व शहर अध्यक्ष जाहिद आंसारी के नेतृत्व में किया गया।

इस अवसर पर सत्ताग्रह में महेंद्र शर्मा, नवनीत नागर, रोहित राणा, रंजन शर्मा ,अनिल शर्मा, मनजीत सिंह कोछड़ ,पीयूष रस्तोगी, राकेश सिंह कुशवाहा, युशूफ खिर्वा, तरुण शर्मा, मुगीश जिलानी, सुधीर कान्त शर्मा, रोबिन नाथ गोलू, शोएब साबरी, सलीम पठान, हरिकिशन अंबेडकर तनवीर इलाही, आदि उपस्थित थे।

..........
14
485 views    0 comment
0 Shares

9
567 views    0 comment
1 Shares

मेरठ के नये एसएसपी रोहित सिंह सजवान ने संभाला चार्ज

मेरठ। मेरठ जिले के नए कप्तान आईपीएस रोहित सिंह साजवान ने सोमवार को चार्ज ग्रहण किया। बरेली से मेरठ तबादला होकर आए एसएसपी रोहित सिंह ने इस समय बड़ी जिम्मेदारी कांवड़ यात्रा को बताया। कहा दो साल बाद कांवड़ यात्रा होगी पूरी टीम को साथ लेकर कांवड़ यात्रा को सकुशल संपन्न कराना है। जनता और कांवड़ियों को कोई परेशानी नहीं होने दी जाएगी।

2013 बैच के आईपीएस रोहित सिंह सजवान करीब पौने दो साल से बरेली में तैनात थे। चार्ज लेने के बाद उन्होने कहा कि भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और कानून व्यवस्था प्राथमिकता रहेगी। बेहतर पुलिसिंग करने की कोशिश रहेगी।

..........
71
2727 views    0 comment
0 Shares

पत्नी करती थी पति पर अवैध संबंध का शक, पति ने गला दबाकर मौत के घाट उतारा

मेरठ। सिविल लाइन थाने के मोहनपुरी में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक पति ने पत्नी को मौत के घाट उतार दिया बताया जा रहा है कि पत्नी पति पर अवैध संबंध को लेकर शक करा करती थी. इसी बात को लेकर सोमवार को दोनों में विवाद बढ़ गया विवाद इतना बढ़ गया कि पति-पत्नी में हाथापाई हो गई इसी बीच पति अजीत ने पत्नी का दुपट्टे से गला दबाकर मार दिया।

घटना को अंजाम देने के बाद अजीत सिविल लाइन थाने पहुंचा और थाने में सरेंडर करते हुए बोला कि मैंने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतार दिया है जाओ उसका शव ले आओ. इतना सुनते ही सिविल लाइन थाने में हड़कंप मच गया पुलिस ने आनन-फानन में अजीत को गिरफ्तार करते किया। अजीत की शादी सन 2012 में हुई थी और उनके दो बच्चे भी हैं।

पुलिस अजीत के घर पहुंची और शव को कब्जे में लेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई जब पुलिस से मीडिया ने बात की तो एसएचओ सिविल लाइन रमेश चंद ने बताया कि घटना में उपयुक्त दुपट्टा जिससे महिला का गला दबाया गया है वो बरामद कर लिया गया है आगे की जांच अभी जारी है।

..........
204
7113 views    0 comment
1 Shares

3
343 views    0 comment
0 Shares

87
3318 views    0 comment
1 Shares

रामपुर के दंगल में सपा को दी मात, कौन हैं आजमगढ़ में कमल खिलाने वाले घनश्याम सिंह लोधी ?

लखनऊ। रामपुर उपचुनाव में यूं तो टक्कर बीजेपी और समाजवादी पार्टी में थी. लेकिन यहां आमने-सामने थे आजम खान के दो शागिर्द. ये दो नेता हैं आसिम रजा और घनश्याम सिंह लोधी. आसिम रजा समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रहे थे तो घनश्याम सिंह लोधी भगवा खेमे का प्रतिनिधित्व कर रहे थे।

इन दोनों ही नेताओं ने आजम खान की छत्र-छाया में अपनी-अपनी सियासत को आगे बढ़ाया और सूबे की राजनीति में अपना मुकाम हासिल किया. यूं तो रामपुर कई सालों से सपा का गढ़ था और यहां आजम खान का सिक्का चलता था. लेकिन इस चुनाव में घनश्याम सिंह लोधी ने आजम खान के वर्चस्व को तोड़ दिया. घनश्याम सिंह लोधी ने सपा के आसिम रजा को 42192 वोटों से शिकस्त दी।

बीजेपी - बसपा और सपा के साथ रहे घनश्याम

घनश्याम सिंह लोधी ने अपनी सियासी जिंदगी में हर पार्टी के साथ प्रयोग किया है. उन्होंने राजनीति तो बीजेपी के साथ ही शुरू की लेकिन बीच-बीच में उनकी सियासी जिंदगी में भटकाव आता रहा. बीजेपी के बाद घनश्याम सिंह लोधी बसपा में गए. लोधी 2009 में बसपा से रामपुर सीट से लोकसभा का चुनाव लड़े मगर हार गए. इसके बाद वे कल्याण सिंह की पार्टी में पहुंचे फिर 2011 में समाजवादी पार्टी का दामन थामकर आजम खान के करीबी बन गए।

आजम खान ने हेलिकॉप्टर से भिजवाया था सिंबल

उत्तर प्रदेश की राजनीति में आजम और घनश्याम की खूब छनी. घनश्याम सिंह लोधी आजम खान के चहेतों में शामिल हो गए. इसकी बानगी 2016 में देखने को मिली जब धनश्याम सिंह लोधी को स्थानीय निकाय से विधान परिषद भेजने के लिए आजम खान ने पूरी ताकत लगा दी।

घनश्याम सिंह लोधी के लिए आजम खान ने सिर्फ सपा द्वारा पहले से तय MLC कैंडिडेट का टिकट कटवा दिया बल्कि उनके लिए लखनऊ से पार्टी का सिंबल हेलिकॉप्टर के जरिए रामपुर मंगवाया गया तब घनश्याम सिंह ने अपना नामांकन किया।

आजम खान के साथ दूरियां बढ़ने लगीं

विधानपरिषद का सदस्य बनने के बाद घनश्याम लोधी आजम खान के गुड बुक्स में आ गए और उनके राइट हैंड बन गए. लेकिन जैसा कि राजनीति में होता है समय बदलने के साथ आजम खान और घनश्याम लोधी के बीच दूरियां बढ़ने लगी. घनश्याम लोधी का एमएलसी का 6 साल का कार्यकाल खत्म होता इससे ठीक दो महीने पहले 2022 के शुरुआत में घनश्याम लोधी बीजेपी में शामिल हो गए।

बीजेपी ने आजम की सीट पर दिया मौका

इधर जब जेल से बाहर निकलने के बाद आजम खान ने दिल्ली की राजनीति न कर यूपी की राजनीति करने का निश्चय किया तो उन्हें अपनी लोकसभा सीट छोड़नी पड़ी इसके बाद रामपुर सीट पर उपचुनाव करवाने की जरूरत आ पड़ी।

बीजेपी ने इस मौके को भुनाया और घनश्याम लोधी को इसी सीट पर सपा के खिलाफ उतार दिया. इस सीट पर उनका मुकाबला सपा के उस कैंडिडेट से हुआ जिसे आजम खान ने खुद चुना था. हम बात कर रहे हैं कि आसिम राजा की. पूरे चुनाव के दौरान आजम खान और घनश्याम लोधी ने मर्यादा बनाए रखी और एक दूसरे के खिलाफ व्यक्तिगत प्रहार करने से बचते रहे।

..........
53
2239 views    0 comment
0 Shares

महाराष्ट्र सरकार में कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे का, जूतों से पीटते हुए पुतला फूंका

मेरठ, शिवसेना के साथ बगावत करने वाले महाराष्ट्र कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिन्दे का शिवसेना मेरठ इकाई ने जिला प्रमुख संदीप गर्ग के नेतृत्व में छीपी टैंक स्थित चेतन मैडिकल काम्प्लेक्स के सामने जूतों से पीटते हुए, गद्दार एकनाथ शिंदे मुर्दाबाद के नारों के साथ पुतला फूंक कर अपना विरोध जताया।

इस अवसर पर शिवसेना प्रदेश महासचिव व पश्चिमी यूपी प्रभारी धर्मेन्द्र तोमर ने कहा कि जिस ठाकरे परिवार ने एकनाथ शिंदे को आटो चालक से कैबिनेट मंत्री तक पहुंचाया। उस एकनाथ शिंदे ने ठाकरे परिवार से उस वक्त गद्दारी करके छोड़ा जब शिवसेना के पक्ष प्रमुख व मुख्यमंत्री महाराष्ट्र उद्धव ठाकरे तीन माह से बीमार थे, उनकी बीमारी का फायदा उठाकर भाजपा से मिलकर गद्दारी करने वाले ऐसे लोगों को महाराष्ट्र व‌ देश के शिवसैनिक माफ नहीं करेंगे।

पुतला फूंकने वालों में अवनीश आर्य, प्रदीप सक्सेना, कमल प्रजापति, मनोज शर्मा, दीपक कुमार, राम सिंह यादव, दीपक वैश्य, रविन्द्र ध्यानी,सनी प्रधान, अमित पाल, डा विनित जैन, नरेश कुमार, आकाश कन्नौजिया, स्वामी सोमदेव महाराज, परवेज, मोहनदेव, यासीन खान, हसनैन, मुकेश शर्मा, अमरनाथ, आर्यन कन्नौजिया, राजीव, दीपक दायमपुर, दिनेश कुमार आदि शिवसेना पदाधिकारी शामिल रहे।

..........
46
1913 views    0 comment
0 Shares

किन्नरों के जीवन की जटिलताओं पर आधारित नाटक देख छलक उठी दर्शकों की आंखें

मेरठ। किन्नरों के जीवन पर आधारित ‘इप्टा’ की शानदार प्रस्तुति ‘मेरा वजूद’ दर्शकों के दिलों पर गहरी छाप छोड़ गई। कलाकारों ने किन्नरों के जीवन की जटिलताओं का ऐसा मार्मिक मंचन किया कि दर्शकों की आंखें छलक उठीं।

आजादी का अमृत महोत्सव और भारतीय जन नाट्य संघ (मेरठ) के भीष्म पितामह महान रंग योद्धा शांति वर्मा की स्मृति में शनिवार को गढ़ रोड स्थित बुद्धा गार्डन में मेरठ इप्टा से जुड़े कलाकारों ने नाटक ‘मेरा वजूद’ का मंचन किया। शांति वर्मा स्मृति नाट्य समारोह का उद्घाटन मुख्य अतिथि सेवानिवृत्त आईएएस डा.आरके भटनागर ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। उन्होंने शांति वर्मा को मेरठ इप्टा का भीष्म पितामह बताते हुए श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि शांति वर्मा ने रंगमंच को जिंदा रखा। उन्होंने ऐसे किरदार गढ़े तो आज बॉलीवुड तक मेरठ की छाप छोड़ रहे हैं। आज युवा पीढ़ी को रंगमंच से जुड़ने और भारतीय संस्कृति को बचाने के लिए आगे आने की आवश्यकता है। अन्य अतिथियों और रंगकर्मियों ने भी रंगमंच की विधा को जीवित रखने की बात कही और शांति वर्मा का भावपूर्ण स्मरण किया। इसके बाद कलाकारों ने नाटक मेरा ‘वजूद’ का शानदार मंचन किया।

नाटक में दिखाया गया कि किस प्रकार किन्नरों को अपने जीवन में जटिलताओं का सामना करना पड़ता है ? उनके प्रति समाज का नजरिया क्या होता है ? कैसे अपना वजूद बचाने के लिए किन्नरों को संघर्ष करना पड़ता है ? नाटक में दिखाया गया कि कोई जन्म से किन्नर नहीं होता है, मजबूरी में किन्नर बनना पड़ता है। पिता की बीमारी के दौरान जरूरत पड़ने पर जब पूरा समाज नायक का साथ छोड़ देता है तो किन्नर उसका साथ देते हैं। इसके बाद तो मजबूरी में वह किन्नर ही बन जाता है।

सभी कलाकारों ने इस नाटक में जीवंत अभिनय कर दर्शकों के दिलों पर अपनी छाप छोड़ी. नाटक के पात्रों में अवनी वर्मा, धीरज आहूजा, अमन अब्बासी, राजीव चौहान, एंजिल वर्मा, संयम वर्मा, रजत बत्रा, आलोक मौर्य, मयंक वैद्यान, अक्षत सूर्यवंशी, माइकल टिसावर्ड, शाहिद गौरी, अपर्णा चित्तोड़िया, कुसुम, बिनेशपाल चौधरी, पूनम शर्मा, सिमरन पंजाबी, प्रशांत शर्मा, शिवा पंजाबी, सुल्तान मिर्जा, जफर हसन अमरोही शामिल रहे। ‘मेरा वजूद’ का निर्देशन अवनी वर्मा ने किया।

इसके लेखक अमूल सागर, परिकल्पना एवं संगीत हरीश वर्मा कोषाध्यक्ष अवनी वर्मा, सलाहकार विजय भोला, सांस्कृतिक सचिव धीरज आहूजा रहे। अन्य उपस्थित लोगों में बीके डोभाल, संजीव मलिक, रमेश खन्ना, निमिष भटनागर, मुखिया गुर्जर, कुलविंदर सिंह, विनोद बेचैन, सुरेंद्र शर्मा, आकाश कौशिक, गुड्डू चौधरी आदि शामिल रहे।

..........
28
1436 views    0 comment
1 Shares

सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चॉपर की इमरजेंसी लैंडिंग, पक्षी से हेलिकॉप्टर के टकराने के बाद इमरजेंसी लैंडिंग की गई

वाराणसी। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चॉपर की वाराणसी में इमरजेंसी लैंडिंग की गई है. बताया जा रहा है कि पक्षी से हेलिकॉप्टर के टकराने के बाद इमरजेंसी लैंडिंग की गई है. फिलहाल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पूरी तरह से सुरक्षित बताए जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि स्टेट प्लेन से सीएम योगी आदित्यनाथ अब लखनऊ के लिए रवाना होंगे।

बताया जा रहा है कि योगी आदित्यनाथ गुरु पूर्णिमा महोत्सव कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के लिए वाराणसी पहुंचे थे. इसके अलावा पीएम मोदी के प्रस्तावित कार्यक्रम की तैयारियों को भी देखने के लिए वे यहां पहुंचे थे. योगी आदित्यनाथ ने यहां काशी विश्वानाथ मंदिर में पूजा भी की थी।

बताया जा रहा है कि रविवार को वाराणसी से लखनऊ के लिए उड़ाने भरने के कुछ देर बाद ही उनका हेलिकॉप्टर एक पक्षी से टकरा गया. इसके बाद हेलिकॉप्टर में मौजूद सुरक्षा अधिकारियों ने सीएम योगी के हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी कराई गई. बताया जा रहा है कि पक्षी से हेलिकॉप्टर के टकराने के बाद किसी हादसे की आशंका को देखते हुए सुरक्षाकर्मियों ने हेलिकॉप्टर के लैंडिंग के आदेश दिए।

जानकारी के मुताबिक, हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग के बाद योगी आदित्यनाथ वाराणसी के सर्किट हाउस में कुछ देर के लिए ठहरे थे. बताया जा रहा है कि सीएम योगी स्टेट प्लेन के जरिए अब लखनऊ के लिए रवाना होंगे. लखनऊ में योगी आदित्यनाथ कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

..........
20
2255 views    0 comment
0 Shares

30 जून तक विधि व्यवसायी व अधिवक्ता पैनल अधिवक्ता के चयन किये जाने हेतु करें आवेदन - अन्जू काम्बोज

मेरठ। अध्यक्ष चयन, मानीटरी समिति सचिव (पूर्णकालिक) जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अन्जू काम्बोज ने बताया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा जारी अधिसूचना के निर्देशों के क्रम में व मा0 जनपद न्यायाधीश के कार्यालय आदेश के अनुसार विधिक सेवा प्राधिकरण अधिनियम 1987 की धारा-12 के अनुसार निःशुल्क विधिक सेवा प्रदान किये जाने हेतु के लिए तहसील मवाना, सरधना व सदर मेरठ हेतु पैनल अधिवक्ताओ का चयन किये जाने के लिए विधि व्यवसायियों, अधिवक्ताओ से आवेदन पत्र आमंत्रित किये जाने हेतु तिथि बढायी जाती है। आवेदन पत्र जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मेरठ के कार्यालय में रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से अथवा व्यक्तिगत रूप से दिनांक 30 जून 2022 की सांय 05.00 बजे तक ही स्वीकार किये जायेंगे। उक्त पद का चयन हेतु आवश्यक योग्यता एवं शर्तें आवेदन पत्र में ही अंकित की गयी है। उक्त आवेदन पत्र जनपद न्यायालय की वेबसाईट https://districts.ecourts.gov.in/meerut से डाउनलोड किया जा सकत है।

..........
14
1286 views    0 comment
1 Shares