logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Ronak kumar shah
All India Media Association

    बड़ोदिया में वर्चुअल विज्ञान मेले का उदघाटन, माॅडल, क्विज और सेमिनार में प्रस्तुतिकरण की स्पर्धा


बड़ोदिया। राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद नई दिल्ली और राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उदयपुर तथा समग्र शिक्षा अभियान राजस्थान सरकार जयपुर के तत्वावधान में जिला स्तरीय वर्चुअल विज्ञान मेले का उदघाटन बुधवार को राउमावि बड़ोदिया में हुआ। 


मुख्य अतिथि संयुक्त निदेशक धर्मेंद्र जोशी, अध्यक्ष मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी समग्र शिक्षा दिनेशचंद्र पंड्या और विशिष्ट अतिथि डीईओ माध्यमिक मावजी खाट, सीबीईओ गोपालकृष्ण जोशी, एसीबीईओ नीरज दौसी ने की कार्य योजना प्रस्तुत की। वर्चुअल विज्ञान मेले में प्रादर्श प्रदर्शन जूनियर व सीनियर वर्ग, क्विज़ जूनियर वर्ग, सेमिनार प्रस्तुतिकरण सीनियर वर्ग की प्रतियोगिताएं हो रही है।

 विज्ञान मेले का वर्चुअल समापन गुरुवार को किया जाएगा, जिसमें प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों की घोषणा की जाएगी। वर्चुअल विज्ञान मेले में मनोज शाह, विमल चौबीसा, अनन्त जोशी, वीरेंद्र दौसी, संजय गुप्ता एवं भूपेंद्र सिंह राठौड़ सहित प्रतिनियुक्त अधिकारियों व कर्मचारियों का सहयोग प्राप्त हो रहा है। वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम का संचालन वैभव ठाकुर ने एवं और नीरज उपाध्याय ने जताया।


वर्चुअल विज्ञान मेले के उद्घाटन की घोषणा की। वर्चुअल उद्घाटन सत्र में उपस्थित अधिकारियों ने वैज्ञानिक सोच विकसित करने के संदर्भ में विचार व्यक्त किए। अतिथियों का संयोजक प्रधानाचार्य अनुभूति जैन ने शब्द सुमन से स्वागत कर तीन दिवसीय आयोजन

..........
0
738 views    0 comment
0 Shares

वहां से सड़क मार्ग से 3.30 बजे बांसवाड़ा आएंगी, जहां पूर्व राज्यमंत्री भवानी जोशी के घर पहुंचकर उनके भाई के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करेंगी।

 उसके बाद शाम 5 बजे रवाना होकर 5.30 बजे त्रिपुरा सुंदरी पहुंचेंगी। वहां दर्शन-पूजा करने के बाद त्रिपुरा सुंदरी के गेस्ट हाउस में रात्रि विश्राम करेंगी।

कलेक्टर अंकित कुमार सिंह ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री राजे दूसरे दिन बुधवार को त्रिपुरा सुंदरी हेलीपेड से सुबह 9 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा उदयपुर जिले के झाड़ोल तहसील के ब्राह्मणों का खेड़ा जाएंगी।

 यात्रा को लेकर प्रोटोकॉल एवं सुरक्षा व्यवस्था के लिए उपखंड अधिकारी गढ़ी (थालीतलाई) को और त्रिपुरा सुंदरी, बांसवाड़ा के लिए उपखंड अधिकारी बांसवाड़ा को प्रोटोकॉल/लाइजनिंग अधिकारी नियुक्त किया है।

..........
0
254 views    0 comment
0 Shares

 बांसवाड़ा।  पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे मंगलवार काे बांसवाड़ा आएंगी। वाे सुबह 10 बजे जयपुर से हेलीकाॅप्टर से रवाना हाेगा 11.15 बजे चित्ताैड़गढ़ के सावरिया सेठ मंदिर पहुंचेंगी।

यहां से फिर वाे लसाड़िया में 12.30 बजे पहुंचेंगी और वहां गाैतमलाल मीणा के निधन पर उनके परिजनाें के पास जाएंगी। दाेपहर 1.30 बजे वाे लसाड़िया से सीधे अरथूना आएंगी, जहां पूर्व मंत्री जीतमल खांट के निवास पर जाएंगी।

यहां से 3 बजे हेलीकाॅप्टर से तलवाड़ा हवाई पट्टी आएंगी और कार से बांसवाड़ा शहर आएंगी। शाम 4 बजे पूर्व मंत्री भवानी जाेशी के निवास पर बैठने के बाद शाम 5.30 बजे त्रिपुरा सुंदरी मंदिर पहुंचेंगी। 

दर्शन पूजा के बाद यहीं पर रात्रि विश्राम करेंगी। बुधवार सुबह 9 बजे त्रिपुरा सुंदरी से ही हेलीकाॅप्टर से उदयपुर के झाड़ाैल जाएंगी। दाे दिनाें तक पूर्व मुख्यमंत्री वागड़ और मेवाड़ में देव दर्शन का कार्यक्रम है। वसुंधरा की इस देव दर्शन यात्रा काे आगामी चुनाव की तैयारियाें के ताैर पर देखा जा रहा है। इसी यात्रा के जरिए वाे मेवाड़ और वागड़ में अपनी टीम से भी मिलेंगी

..........
0
244 views    0 comment
0 Shares

0
591 views    0 comment
0 Shares

0
240 views    0 comment
0 Shares

बांसवाड़ा।  समाधान  शिविर में भाजपा के ज़िला परिषद सदस्य हकरु मईडा और भाजपा कार्यकर्ता ने तब विरोध किया, जब शिविर में कई विभागों के अधिकारी ही नहीं पहुंचे। ख़ास तौर पर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों के ग़ैर मौजूदगी पर आक्रोश जताया। गांव के लोग खराब सड़कों से परेशान है, अधिकारियों के पास जवाब देने को नहीं इसलिए शिविर में नहीं आए। ऐसा आरोप भाजपा नेता हकरू मईडा ने लगाया। मईडा ने तहसीलदार को भी कहा कि वो मौके पर अधिकारियों को बुलाया।

लेकिन तहसीलदार ने विभागीय अधिकारियों के सीएम दौरे में व्यस्तता बता कर टाल दिया गया। विवाद बढ़ते देख उप जिला प्रमुख विकास बामनिया ने मामले को शांत कराया और सड़क निर्माण कराने का आश्वासन दिया। इस पूरे घटनाक्रम पर बामनिया ने कहा कि व्यवस्था बिगाड़ने से अच्छा है कि विपक्ष के नेता जन कार्यों में सहयोग करें व जनता के काम सर्वोपरि है।

..........
0
333 views    0 comment
0 Shares

0
395 views    0 comment
0 Shares

0
2025 views    0 comment
6 Shares

पुकार ग्रुप ने आज अपने अभियान के तहत राती तलाई में पौधारोपण किया और लगाये गए पुराने पोधों की देख रेख भी की। पोधों की सुरक्षा के लिए जो पौधे बड़े हो गए थे उनके ट्री गार्ड निकलकर नए पोधों के लिए लगाये। 

लगातार इस अभियान से लोगों में जागरूकता आ रही है और बार बार आह्वान करना की अपने घरों में पौधे लगाये गमलों में पौधे लगाये उससे वातावरण सकारात्मक होगा, जिसका आज नतीजा यह हो रहा है कि पिछले कुछ समय से लोग अपने घरों में पौधे लगा रहे है और पौधों का महत्व समझ आ रहा है, ऐसे ही अगर लोग पौधारोपण करते रहे तो हम अपने वातावरण को बचा पायेंगे। 

इस रविवार पुकार ग्रुप के सदस्य पंकज खण्डेलवाल, हसमुख जोशी, बरखा जोशी आदि मौजूद थे।

..........
0
220 views    0 comment
0 Shares

मदद के हाथ आगे बढाइये

बाँसवाड़ा। जिले के जौलाना गाँव निवासी श्री सुभाष उपाध्याय के सुपुत्र श्री प्रजेश के दोनों पुत्रों *प्रखर(प्रांशु)* एवं *तीर्थ* जिनकी क्रमशः आयु 11 वर्ष एवं 6 वर्ष है। उक्त दोनों बालको को दृष्टि सम्बन्धी समस्या है। तीर्थ जन्म से ही दृष्टि बाधित है यानी जन्म से ही नही देख सकता है और प्रांशु को *आंख के पर्दे में मोतियाबिंद* होने से दृष्टि सम्बन्धित समस्या हुई जिसपर अहमदबाद स्थित नागपाल नेत्र चिकित्सालय में ऑपरेशन करवाया गया जो कि 2016 में सम्पन्न हुआ जिसका खर्च कुल *4,00,000/-₹* हुआ था।

परिवार की आर्थिक स्थिति सामान्य है और बाजार से कर्ज लेकर उक्त ऑपरेशन करवाया गया है। उक्त ऑपरेशन पश्चात प्रांशु को आंशिक दृष्टि मिली।पिछले चार वर्षों से बच्चो की माँ भी उनके पिता के साथ नही रह रही है। नियति और भाग्य दोनों ही बच्चो के विरुद्ध है।बच्चों की किस्मत में भी माँ का प्यार और दुलार नही लिखा है।बच्चों को पिछले चार वर्षों से दादा-दादी सम्भाल रहे है।दोनों ही बच्चे दृष्टिहीन एवं आंशिक दृष्टिबाधित है ऐसी स्तिथि में बच्चों की देखभाल बहुत मुश्किल है।भाग्य इतना विपरीत है कि बच्चो के दादाजी को अप्रेल 2021में हार्ट अटैक जिससे उन्हें तुरंत ही गीतांजलि हॉस्पिटल,उदयपुर में उपचार हेतु भर्ती करना पड़ा और ऑपेरशन करवाना पड़ा और 2 स्टंट डालने पड़े ऐसी विपरीत परिस्थितियों में भी दादा-दादी दो दृष्टिहीन बच्चो की देखभाल कर रहे है।परिवार की आर्थिक स्थिति सामान्य होने से अस्थिरता है। भाग्य का खेल एक और बार उल्टा पड़ गया सितम्बर माह में प्रांशु को पुनः दृष्टि सम्बन्धित समस्या हुई और उदयपुर स्थित *कोठारी नेत्र चिकित्सालय* में दिखाने पर चिकित्सक की सलाह है कि चेन्नई स्थित चिकित्सालय में इनका इलाज संभव है और वही उक्त समस्या का ऑपरेशन द्वारा निदान किया जाएगा।इस ऑपरेशन ने कुल खर्च: *12,00,000/-₹* के आसपास है। आप सभी से निवेदन है कि आप महानुभावों से जो सहयोग हो सके जरूर कीजिए।आपका छोटा-बड़ा सहयोग इस अभियान को सफल बना सकता है। *बच्चों के नाम: प्रखर उपाध्याय(11वर्ष) व तीर्थ उपाध्याय(6वर्ष)* *संरक्षक-सुभाष उपाध्याय(बच्चो के दादाजी) जौलाना(गढ़ी),बाँसवाड़ा 9828161252* *ईलाज का कुल खर्च: 12,00,000/-₹* *शंकर नेत्र चिकित्सालय ट्रस्ट,चेन्नई* -प्रजेश उपाध्याय 97838 42510 *बैंक खाता विवरण:*-13870100002663 Bank of baroda IFSC- barb0(शून्य,जीरो)jaulan *आपका सहयोग किसी को दृष्टि दे सकता है,आगे आइये और मानवता दिखाइए*

..........
14
723 views    0 comment
2 Shares

पाला रोड पर फुटपाथ से सब्जी विक्रेताओं को हटाने का विवाद बुधवार को गरमा गया। नगर परिषद और ट्रैफिक पुलिस की संयुक्त कार्रवाई के बाद मौके से सब्जी विक्रेता महिलाओं को ठेला संचालकों को खदेड़ा गया। ऐसा ही हाल यहां गांधी मूर्ति और नगर परिषद से सटी दीवार पर ढेरा लगाए बैठे अतिक्रमियों के साथ किया गया। सख्ती के साथ जारी कार्रवाई में राजनीति घुस गई। पहले मामले में स्थानीय पार्षद पूनम बाथम घुसे तो बाद में उप जिला प्रमुख विकास बामनिया ने पुलिस और नगर परिषद के दल को कार्रवाई में नरमी बरतने की हिदायत दी। दलील दी कि त्योहार से पहले किसी की रोजी रोटी पर लात नहीं मारनी चाहिए। कार्रवाई दल ने बिना देर लगाए कलेक्टर के आदेश का हवाला देकर नए आदेश जारी कराने की बात कह दी। इस दौरान कार्रवाई से पीड़ित महिलाओं ने गांधी मूर्ति पर पहले ट्रैफिक पुलिस का घेराव किया। बाद में नगर परिषद कार्यालय के बाहर जाकर प्रदर्शन किया। करीब 3 घंटे तक हुई ड्रामेबाजी के बाद राजनीतिक दबाव के बीच नगर परिषद को फैसला बदलना पड़ा। राजनीतिक दबाव के बीच नगर परिषद ने एक महिला को केवल 3 टोकरियों के साथ फुटपाथ पर बैठने की मंजूरी दी। इसके बाद कहीं जाकर मामला शांत हुआ।

..........
3
490 views    0 comment
0 Shares

स्वास्थ्य विभाग की ओर से तंबाकु नियंत्रण कार्यक्रम के तहत लो इनफोर्सस ओरिएन्टेशन का आयोजन गुरूवार को हुआ। इस दौरान कार्यक्रम में मौजूद जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव दीपक दूबे ने कहा कि नशे की शुरूआत के प्रति जिम्मेदार कई हद तक परिवार भी है। उन्होंने कहा कि परिवार में पिता अपने बच्चांे के सामने ही गुटखा खा रहे है या तंबाकू का सेवन कर रहा है तो वह अपने बच्चे को भी अप्रत्यक्ष रूप से प्रेरित कर रहा हैै। उन्होंने कहा कि 16 से 18 वर्ष की आयु में नशे की शुरूआत होती है। हमने ऐसे हालात कर दिए कि घर बैठे-बैठे अभिभावक अपने बच्चों के साथ ही धूम्रपान की सामग्री मंगवाते है। ऐसे में बच्चे के दिमाग में भी नशे की बात प्रवेश करती है। इसलिए हम कितने भी इन नशे की वस्तुओं पर खतरनाक चित्र लगा ले, लेकिन जब तक स्वयं संकल्प नहीं लेंगे तब तक इस पर नियंत्रण करना आसान नहीं है। उन्होंने अपने परिवार की ही बात करते हुए कहा कि मेरे पिताजी तंबाकु खा रहे थे तो मैंने मजाक-मजाक में कह दिया कि आप हमें क्या सिखाओगे। उनको यह बात इतनी दिल पर लग गई कि तुरंत तंबाकु का डिब्बा फेंक दिया। वह आज अस्सी साल के है और स्वस्थ है। उन्होंने वो डिब्बा जो फेंका, उसके बाद से अब तक तंबाकू का सेवन नहीं किया। उन्होंने इस बात के माध्यम से कहना चाहा कि संकल्प लेना ही सबसे बड़ी शुरूआत है। उन्होंने कहा कि उस दौरान पिताजी को जब भी तलब लगती थी तो वह संतरे की गोलियां खा लेते, लेकिन तंबाकू को नकार दिया। उन्होंने आजकल टीवी पर चलने वाले विज्ञापनांे पर चिंता जताई। उन्होंने एक विज्ञापन को लाइव करके दिखाया और इस पर आपत्ति जताई। साथ ही कहा कि पुलिस विभाग को भी टीवी क्षेत्र ने बदनाम कर रखा है। पुलिस का कोई भी दृश्य हो तो उससे पहले पुलिस को धूम्रपान करते हुए दिखाते है। यह कहा तक सही है। क्या सभी पुलिस वाले धूम्रपान करते है। उन्होंने कहा कि टीवी क्षेत्र में पुलिस को बिना धूम्रपान किए हुए सीन फिल्माया जा सकता है, लेकिन छवि खराब बनाई जा रही है। हम सबको मालूम है नशा हम सबको नाश कर देता है, फिर भी इसको नियंत्रित नहीं कर पा रहे है। कार्यशाला में मौजूद अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि नशे को दूर करने के लिए हमें भी भूमिका अदा करनी होगी। हम हमारे पास आ रहे आम व्यक्तियों को भी इसके लिए प्रेरित कर सकते है। लेकिन इससे पहले हम सभी को दृढ़ संकल्प स्वयं के लिए लेना होगा। इस दौरान अध्यक्ष नंदलाल पुरोहित हेमंत जी पुरोहित ने भी संबोधन दिया। कार्यशाला में इन्होंने दी तंबाकू नियंत्रण के प्रभावी उपायों की जानकारी कार्यशाला में स्वास्थ्य विभाग की ओर से तंबाकू नियंत्रण के लिए हो रहे प्रयासों और काननू की जानकारी दी। मौजूद अधिवक्ताओं को सीएमएचओ डॉ एचएल ताबियार, डिप्टी सीएमएचओ डॉ दीपक निनामा और डीपीओ डॉ हेमलता जैन ने पीपीटी के माध्यम से तंबाकू सेवन से हो रहे दुष्प्रभाव और हमारी सामाजिक भागीदारी पर प्रकाश डाला।

..........
0
1135 views    0 comment
0 Shares

चाचाकाेटा भ्रमण के लिए अाए परिवार की कार से कुछ बदमाशाें ने नकदी व माेबाइल चुरा लिए।

पुलिस के अनुसार परतापुर हाल मुंबई रहने वाला परिवार रविवार काे चाचाकाेटा क्षेत्र में घूमने गया था। वे वहां अपनी कार काे पार्क नीचे पानी देखने गए। करीब पंद्रह बीस मिनट बाद वापस लाैटे ताे उनकी कार का कांच टूटा हुअा था।

कार में रखे दाे पर्स जिनमें कुछ नकदी थी तथा माेबाइल रखा था। वह गायब मिले। अास-पास पूछने पर पता चला कि उसी क्षेत्र के ईश्वर पुत्र मंगला, शैलू पुत्र मंगला व उधनके कुछ अन्य साथियाें ने यह वारदात की। इस पर हेमल पत्नी मनीष काेठारी ने काेतवाली पंहुच चाेरी का मामला दर्ज कराया।

क्षेत्राधिकारी भूंगड़ा थाना पुलिस का हाेने से काेतवाली मेंं जीराे नंबर की एफअाईअार दर्ज कर अग्रिम कार्रवाई के लिए भूंगड़ा थाने पर भिजवा दी गई।

..........
0
260 views    0 comment
0 Shares

बाँसवाड़ा। राष्ट्रीय तम्बाकू नियंत्रण कार्यक्रम के तहत हेल्थ प्रोफेशनल का एकदिवसीय ट्रेनिंग सोमवार को सम्पन्न हुई । इस दौरान कोटपा नियम के तहत होने वाली कारवाई और तंबाकू नियंत्रण के लिए उठाए जाने वाले आवश्यक कदमों पर चर्चा की।

ट्रेनिंग के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एचएल ताबियार ने कहा कि तम्बाकू का कहर, ज़िंदगी मे जहर है। उन्होंने कहा कि तम्बाकू से भारत मे प्रति वर्ष लगभग 13.5 लाख लोगों की मौत हो जाती है। राज्य में ही करीब 65 हजार लोगों की मौत हो जाती है।

उन्होंने कहा कि धूम्रपान से मरने वालों की संख्या प्रतिवर्ष अन्य वजह से मरने वालों की संख्या से अधिक है। उन्होंने गेट्स रिपोर्ट के आधार पर बताया कि हर दिन 300 से अधिक बच्चे तम्बाकू का सेवन करना शुरू करते है।

इस दौरान डॉ ताबियार ने सभी चिकित्सकों से कहा कि हमें हमारे क्षेत्र में अधिक से अधिक प्रयास कर धूम्रपान को कम करना है। इससे स्वास्थ्य ढांचे में भी सुधार होगा। उन्होंने कहा कि जब धूम्रपान कम होगा तो अपने आप ही कई बीमारियों का खात्मा होगा। जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ प्रवीण वर्मा ने तम्बाकू से पड़ने वाले दुष्प्रभाव पर प्रकाश डाला।

उन्होंने धूम्रपान से फेफड़ों पर पहुचने वाली हानियों पर संबोधन दिया। डॉ वर्मा ने टीबी मरीजों के इलाज के लिए हो रहे जिला स्तरीय प्रयास के बारे में अवगत कराया। उन्होंने टीबी का इलाज ले रहे मरीजों को सरकार की ओर से दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में भी बताया। साथ ही टीबी पेशेंट मिलने पर जिला स्तर पर भेजने की प्रक्रिया को बताया पुलिस प्रशासन को साथ लेकर कारवाई करें डिप्टी सीएमएचओ डॉ दीपक निनामा ने बताया कि अपने अपने क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने वालो पर कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने इस संबंधित नियमों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन को साथ लेकर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि चालान काटे और समझाइश भी करें। ताकि अगली बार वह गलती नहीं करें। उन्होंने कहा कि हमारा कर्तव्य बनता है कि स्वयं भी तम्बाकू का उपयोग नहीं करे और दूसरों को रोके। उन्होंने कहा कि सबसे पहले हमारे परिचितों को तम्बाकू छोड़ने के लिए प्रेरित करें। स्वास्थ्य चेतावनी अनिवार्य जिला कार्यक्रम अधिकारी डॉ हेमलता जैन ने ट्रेनिंग का समन्वय करते हुए तम्बाकू से होने वाली मुख्य बीमारियों के बारे में अवगत कराया। उन्होंने बताया कि यदि सिनेमाघरों में हेल्थ स्पोर्ट का प्रदर्शन नहीँ किया गया हो तो उसका लाइसेंस रद्द करने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि टेलीविजन पर स्वास्थ्य चेतावनी अनिवार्य है। उन्होंने राजस्थान सरकार की तम्बाकू नियंत्रण पर हो रहे प्रयास के बारे में भी अवगत कराया।

..........
0
857 views    0 comment
0 Shares

बांसवाड़ा।   जिले को मानगढ़ धाम व गुजरात की दूरी कम करने के लिए भैरवजी मंदिर के पास हाई लेवल ब्रिज के टेंडर दोबारा स्वीकृत हुए हैं।

इस संबंध में सार्वजनिक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता एनएच एंड पीपीपी डी आर मेघवाल ने अतिरिक्त मुख्य अभियंता सार्वजनिक निर्माण विभाग जोन सेकंड मुख्यालय बांसवाड़ा को भेजे पत्र में बताया कि भतार भैरवजी मंदिर के पास नाहली-भतार भैरवजी-पीछावाड़ा-नाहरपुरा जिला मुख्य सड़क -125 जिला बांसवाड़ा में ईपीसी मोड पर हाई लेवल पुल के अधूरे निर्माण कार्य की स्वीकृति दी जाती है। इसके लिए गुजरात की मैसर्स एनर्जी प्रोजेक्ट्स लिमिटेड निर्माण कंपनी को 22 करोड़ 99 लाख 88 हजार 444 रुपए की लागत से टेंडर स्वीकृत किया है।


गुजरात की निर्माण कंपनी को हाई लेवल पुल के निर्माण का टेंडर बीएसआर दर से 24.45 प्रतिशत ऊंची दर पर स्वीकृत किया गया है। इस संबंध में अब पीडब्ल्यूडी गढ़ी के एक्सईएन रामस्वरूप बैरवा द्वारा निर्धारित प्रक्रिया के तहत वर्क ऑर्डर जारी किए जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2011 में स्वीकृत हुए भैरवजी हाई लेवल पुल के लिए टेंडर हुए थे लेकिन तत्कालीन मैसर्स गेनन डंकरली कंस्ट्रक्शन कंपनी ने 10 साल में भी पुल का काम पूरा नहीं किया था। अब रिटेंडरिंग कर नए सिरे से गुजरात की कंपनी को हाई लेवल पुल निर्माण का टेंडर दिया गया।


विधायक मालवीया ने कहा-खुलेंगे विकास के रास्ते भतार भैरवजी हाई लेवल पुल के दुबारा टेंडर होने पर पूर्व कैबिनेट मंत्री और बागीदौरा विधायक महेंद्रजीत सिंह मालवीया ने खुशी जताई। उन्होंने बताया कि अब अनास नदी पर हाई लेवल पुल बनने से बांसवाड़ा के लोगों को कम समय व कम खर्च में कम दूरी से मानगढ़ धाम व गुजरात जा सकेंगे। साथ ही गुजरात की सीमा के पास भैरवजी मंदिर तीर्थ क्षेत्र पर हाई लेवल पुल का निर्माण होने से पर्यटन और भी अधिक बढ़ेगा।

..........
0
242 views    0 comment
0 Shares

54
1257 views    0 comment
0 Shares

0
952 views    0 comment
0 Shares

दानपुर थाना क्षेत्र में विवाहिता के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। करीब 15 दिन पहले विवाहिता का पति सोयाबीन की फसल काटने रतलाम (मध्य प्रदेश) गया था और वह बच्चों के साथ अकेली थी।

इस दौरान आरोपी रात को उसके घर आया और विवाहिता के पति के नाम से आवाज लगाई। इस दौरान गेट खोलने पर आरोपी जबरन घर में घुस गया और विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया। पति के रतलाम से लौटने पर विवाहिता ने आपबीती सुनाई। इसके बाद पति पीड़िता के साथ थाने पहुंचा और रिपोर्ट दी, जिसमें बताया कि 15 दिन पहले उसके रतलाम जाने के बाद ककाई डूंगरी निवासी दिनेश पुत्र जीवणा मईड़ा ने विवाहिता को अकेला जानते हुए रात में उसके घर पहुंचा। उसने बाहर से उसके नाम से आवाजें लगाई। इस पर विवाहिता ने उसके नहीं होने की बात कही। लेकिन आरोपी लगातार आवाज देता रहा। जब विवाहिता ने गेट खोलकर घर में पति के नहीं होने की बात कही, तो विवाहिता का हाथ पकड़ लिया और घर में घुस गया। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया। थानाधिकारी रमेशचंद्र ने बताया कि मामला 15 दिन पुराना है। विवाहिता का पति रतलाम गया था और उसके पास मोबाइल नहीं था। उसकी पत्नी के पास भी किसी तरह का संपर्क माध्यम था। पति हाल ही में घर लौटा, तो विवाहिता ने घटना की जानकारी दी। इस पर पति ने पत्नी के साथ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

..........
0
263 views    0 comment
0 Shares

 शहर के शहर विलास क्षेत्र में किशाेरी के साथ छेड़छाड़ संबंधी मामले में बीच बचाव के लिए गया युवक चाकू के वार से घायल हाे गया।

पुलिस के अनुसार किशाेरी के पड़ाैस में रहने वाला किशाेर युवक अाए दिन उसके साथ छेड़छाड़ करता था। रविवार काे भी उसने किशाेरी का हाथ पकड़ कर खींच ले जाने की काेशिश की।

इस बात की जानकारी किशाेरी की मां काे हुई ताे वह आराेपी किशाेर के पास शिकायत करने पहुंची। इसी दाैरान किशाेर ने चाकू निकाल उस पर हमले का प्रयास किया। पास ही माैजूद उनका परिचित युवक शहजाद पुत्र नजर माेहम्मद बचाव के लिए बीच में आया ताे चाकू उसके पेट में लगा। उसे तत्काल उपचार के लिए एमजी चिकित्सालय पहुंचाया गया, जहां तीन टांके आए हैं। डॉक्टरों के अनुसार इस वारदात में युवक बाल-बाल बचा है। चाकू थाेड़ा सा ऊपर लगता ताे मामला गंभीर हाे सकता था। सूचना मिलने पर काेतवाली से पुलिस भी अस्पताल पहुंंची, लेकिन घायल युवक ने रिश्तेदारी का हवाला देते हुए पुलिस में मामला दर्ज कराने से इनकार कर दिया। वहीं किशाेरी के साथ उसकी मां रिपाेर्ट दर्ज कराने काेतवाली 
पहुंंची, लेकिन इसी दाैरान समाजजनाें के फाेन आ जाने से मामला दर्ज नहीं हाे सका।

..........
0
232 views    0 comment
0 Shares

बांसवाड़ा।   त्रिपुरा सुंदरी मंदिर में इस बार भी नवरात्र में गरबे नहीं होंगे। मंदिर व्यवस्थापक मंडल की ओर से हुई बैठक में पंचाल समाज के सभी चौखरे की मौजूदगी में तय किया कि गाइडलाइन के अनुसार ही नवरात्र पर सार्वजनिक रूप से धार्मिक कार्यक्रम किए जाएंगे।

समस्त पदाधिकारी एवं समाजजनों को अलग-अलग दायित्व प्रदान किए जा रहे हैं। मंदिर व्यवस्थापक मंडल की बैठक में लिए निर्णय के अनुसार नवरात्र में सुबह 7 से शाम 7 बजे तक ही कोरोना गाइडलाइन के अनुसार ही श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति होगी। इस बार भी आरती में पुजारी एवं मंदिर व्यवस्थापक से जुड़े कार्मिकों के अलावा अन्य भक्तगण शामिल नहीं हो सकेंगे। त्रिपुर सुंदरी मंदिर में 7 अक्टूबर को दोपहर 12:05 से 12:49 बजे तक अभिजीत मुहूर्त में घट स्थापना पं. निकुंज मोहन पंड्या के आचार्यत्व में होगी। अध्यक्ष दिनेश पंचाल, पूर्व पुरोहित पंडित निकुंज मोहन पंड्या ने बताया कि नवरात्र में नौ दिवसीय विशेष अनुष्ठान संपन्न किए जाएंगे।

..........
0
377 views    0 comment
0 Shares

पुलिस काे सौंपे युवक माहीडेम रोड पर सोमवार दोपहर बाद एक कार सड़क पर काल बनकर दौड़ती रही। कार ने 5 बाइक सवारों को टक्कर मारी। वहीं करीब 10 लोगों को लहूलुहान किया। एक महिला की गोद से उसका दुधमुंहा छूटकर मरने से बचा। वहीं मां की रीढ़ की हड्डी टूट गई।


 बाइक चालक युवक का पैर टूटकर अलग हो गया। रास्ते में दो बकरियों को भी रौंदा। वहीं सवारी टैंपो को भी चपेट में ले लिया। इसके बाद भी वह गाड़ी भगाता रहा, जिसे लोगों ने पीछा कर यहां एसपी चौराहे पर पकड़ा। 


चालक की अच्छी खासी धुनाई भी कर दी। बाद में चालक सहित कार सवार तीन लोगों को कोतवाली पुलिस के हवाले किया।

 पुलिस ने मध्यप्रदेश पासिंग की कार भी जब्त की है।

..........
5
943 views    0 comment
0 Shares

बांसवाड़ा। एमजी अस्पताल के मेल वार्ड-एमसीएच विंग में पानी घुस गया। मोबाइल की टॉर्च जलाकर मरीज बैठे रहे। रात साढ़े आठ बजे माही बांध के दस गेट खोेले इस मानसून सीजन में अब तक की सबसे तेज बारिश सोमवार शाम 7 बजे हुई। शहर में 3 घंटे में 90 एमएम बारिश हुई। इस दौरान तेज हवा चलने से कई जगह पेड़ और बिजली के पोल गिर गए। इससे बिजली व्यवस्था ठप हो गई।

दिनभर गर्मी और उमस का अधिक असर होने के बाद शाम को बादल छा गए। गुलाब चक्रवात के असर से तेज तूफानी हवा चलने के साथ मूसलाधार बारिश का दौर प्रारंभ हुआ। इससे शहर के पाला रोड, उदयपुर राेड, दाहाेद राेड, पुराना बस स्टैंड के अलावा कई आवासीय कॉलोनियों में घुटनों तक पानी भर गया। वहीं क्रॉकरी मार्केट, महालक्ष्मी चाैक, कालिका माता, माेहन काॅलाेनी आदि क्षेत्राें में दुकानों के शटर तक पानी आ गया। रात में देबारी फीडर से बिजली सप्लाई कई घंटों तक बंद रही।

वहीं माही बांध के दस गेट सोमवार रात साढ़े आठ बजे खोले गए, लेकिन बांध पर बिजली सप्लाई बंद रहने से जनरेटर स्टार्ट करवा कर गेट ऑपरेशन का काम किया गया। इससे पहले दिन में गर्मी और उमस का असर बना रहा। दिन में अधिकतम तापमान 33 डिग्री और न्यूनतम 25 डिग्री रहा। दिन में अधिकतम अाद्रता 76 प्रतिशत रही और हवा की गति पिछले दिनों से 6 किलोमीटर कम होकर 8 किलोमीटर प्रति घंटा की दर से बनी रही। जिले में अब तक 779.50 एमएम बारिश का औसत रहा है। जबकि जिले में अब तक औसत 1000 एमएम बारिश होनी थी।

टूटे तार-खंभे, शहर में 7 घंटे बंद रही बिजली, सालिया में तार टूटने से 3 घंटे लगा रहा जाम। शहर की 8 कॉलोनियों और परतापुर के समीप सालिया गांव में बिजली के तार टूट गए। इससे डूंगरपुर मुख्य मार्ग करीब तीन घंटे तक जाम लगा रहा। पृथ्वीगंज इलाके में पेड़ गिरने से बिजली का तार और पोल गिरा। शहर की आठ कॉलोनियों में पांच घंटे तक बिजली बंद रही। इधर, बिजली कड़कने से एमजी अस्पताल के दरवाजों के कांच भी टूट गए।

..........
0
1010 views    0 comment
0 Shares