logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
LADHABHAI BHAVABHAI DABHI
All India Media Association

खाकी वर्दी में पुलिसकर्मी का कार में नाचते हुए एक वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने की कार्रवाई।

पूर्वी कच्छ पुलिस का विवादित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसने कई सवाल खड़े किए। वर्दीधारी पुलिसकर्मियों का कार में डांस करते हुए वीडियो वायरल हो गया। जिसमें 4 पुलिस कर्मी गाने पर जूम रहे थे। उन्होंने खाकी वर्दी की गरिमा को बनाए बिना लगभग 3 से 4 मिनट तक गाया। मस्ती के लिए बनाया गया यह वीडियो वायरल हो गया और मीडिया में छा गया। जिसके बाद अब कार्रवाई की गई है। तीन पुलिसकर्मियों को तत्काल निलंबित कर दिया गया है। इस विडिओ का AIMAMEDIA पुष्टि या समर्थन नहि करता है।
दो दिन पहले, एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें गुजरात पुलिस के चार जवान एक कार के म्यूजिक सिस्टम पर गाना बजा रहे थे। यह एक बहुत ही स्वाभाविक घटना है। कहानी पर एक टिप्पणी में, जवान ने लिखा कि वीडियो दो साल पुराना है, लेकिन वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद, कच्छ पुलिस ने चार में से तीन जवानों को निलंबित कर दिया, जबकि एक पुलिस जवान बनासकांठा का था और बनासकांठा के पुलिस प्रमुख को उसके खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा गया है।
पुलिस की ड्यूटी टालने की वजह पुलिस की छवि खराब करना बताया जा रहा है. उनके खिलाफ पुलिस की वर्दी में होने के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है, लेकिन भारतीय सेना के जवान और अधिकारी कई मौकों पर सैन्य वर्दी में नाचते देखे जाते हैं, लेकिन अगर कोई पुलिसकर्मी वर्दी में नृत्य करता है तो इसे अनुशासनहीन माना जाता है। महाराष्ट्र पुलिस पिछले कई सालों से साल में एक कार्यक्रम आयोजित कर रही है। इस कार्यक्रम में कई हस्तियां भी मौजूद रहते है। गीत संगीत के यह कार्यक्रम में भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से लेकर गृह मंत्री, डीजीपी भी मौजूद रहते है।
सवाल यह है कि अगर सोशल मीडिया पर पुलिस की आलोचना होती है तो वरिष्ठ पुलिस अधिकारी यह दिखाने के लिए तत्काल कार्रवाई करते हैं कि वे सतर्क हैं और एक छोटे पुलिस अधिकारी को निलंबित करना भी उचित नहीं है। घटना को देखते हुए पुलिस भी आखिर इंसान है। लगातार तनावपूर्ण नौकरी से थक जाना स्वाभाविक है लेकिन पुलिस को कभी-कभी खुश देखा जाए तो इसका मतलब है कि खुश रहना अपराध है। गुजरात पुलिस के पास तनाव में काम कर रही पुलिस के मनोरंजन के लिए महाराष्ट्र जैसा कोई प्रावधान नहीं है।
गुजरात पुलिस का अपना पुलिस बैंड भी है, जो सरकारी कार्यक्रमों के अलावा शादियों में जाता है। इस प्रकार गुजरात पुलिस की भी संगीत की परंपरा रही है। संगीत की परंपरा को समझें तो अगर कोई पुलिसकर्मी बिना किसी परेशानी के अपनी निजी कार में जाने का आनंद लेता है, तो यह स्पष्ट नहीं है कि राज्य के सिर पर कौन सा पहाड़ गिरा। सिर्फ विश्वास करना। इनके पहले भी कई पुलिस कर्मियों को इस तरह से सस्पेंड किया जा चुका है, लेकिन अनुशासित बल के नाम पर उन्हें अपने विचार रखने का अधिकार नहीं है।ईनको को भी कानूनन तहत अपनी खुशी जाहिर करने यहा अपनी बात रखने की स्वतंत्रता होनी चाहिए।

..........
20
615 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा एलसीबी ने खींमत हाईवे से शराब जब्त की।

बनासकांठा एलसीबी ने पांथावाड़ा थाना परिसर से खींमत रोड से महिंद्रा वेरिटो कार GJ-06-EH-8245 जब्त की।कार से के साथ शराब भी जब्त कई गई। चालक सहित एक अन्य व्यक्ति के पास से 60,000 रुपये से अधिक मूल्य की विदेशी शराब जब्त की गई।एलसीबीए कार की तलाशी लेने पर उसके पास से विदेशी शराब की 65 बोतल बरामद हुई। पुलिस ने 61,260रु मूल्य की शराब, कार और मोबाइल बरामद किया गया और ईस तरह कुल मिलाकर मुद्दामाल के साथ रु2,11,760 जब्त किए गए  है। जबकि सुरेशभाई भीखाजी बारोट (रहे. मंडार पावलिया फला, ता. रेवदर, जिला शिरोही) और जगदीशभाई जयंतीभाई परमार (रहे. लीलाधारी मंदिर रोड मंडार, रेवदर, जिला शिरोही) को पकड़ लिया गया है।और उसी वक्त वहा से हबीभाई भाग निकला था। आगेगी कानून कार्रवाई शरु कर दी गई है।

..........
21
712 views    0 comment
0 Shares

बाजार से बने स्मार्ट आधार कार्ड मान्य नहीं होंगे: UIDAI सावधान रहने के लिए कहा।

बाजार से बना हुआ आधार स्मार्ट कार्ड रखने पर यह मान्य नहीं होगा। इसके लिए आप पर बिना किसी सहारे के विचार किया जा सकता है। आधार कार्ड सेवाएं मुहैया कराने वाली भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने कहा है कि बाजार से बने पीवीसी कार्ड वैध नहीं हैं।उन्होंने कहा कि इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता क्योंकि इसमें सुरक्षा का बहुत अभाव था। सोशल मीडिया पर एक बयान में, यूआईडीएआई ने कहा, "हम इस कार्ड को अस्वीकार और हतोत्साहित करना चाहते हैं क्योंकि इसमें कोई सुरक्षा विशेषता नहीं है।" अगर आप आधार पीवीसी कार्ड बनाना चाहते हैं तो 50 रुपये देकर इसे ऑफिशियल वेबसाइट से एप्लाई कर सकते हैं।यूआईडीएआई ने कहा आप यूआईडीएआई से आधार लेटर या आधार डाउनलोड कर सकते हैं। आधार पीवीसी कार्ड मूल रूप से एक डिजिटल रूप से हस्ताक्षरित सुरक्षित क्यूआर कोड और फोटोग्राफ है। इसमें जनसांख्यिकीय विवरण भी हैं। यह सभी सुरक्षा सुविधाओं के साथ आता है। यह यूआईडीएआई द्वारा केवल डाक द्वारा भेजा जाता है।
यूआईडीएआई के अनुसार, कार्ड में सुरक्षित क्यूआर कोड, होलोग्राम, माइक्रो टेक्स्ट, जारी करने की तारीख और कार्ड का प्रिंट और अन्य जानकारी होती है। इसके लिए आप यूआईडीएआई की वेबसाइट की मदद ले सकते हैं। इसके लिए आप https://myaadhaar.uidai.gov.in/ पर जा सकते हैं। इसके बाद ऑर्डर आधार पीवीसी कार्ड पर क्लिक करें। 12-अंकीय आधार संख्या या 28-अंकीय ऐनरोलमेन्ट आईडी दर्ज करें। सिक्योरिटी कोड डालने के बाद मोबाइल फोन पर ओटीपी आएगा उस ओटीपी दर्ज करना है। फिर नियम और शर्तों को स्वीकार करना होगा।
फिर आप सबमिट बटन दबाकर ओटीपी सत्यापन कर सकते हैं। इस प्रक्रिया के बाद आपको पेमेंट का विकल्प मिलेगा। इसमें आपको पेमेंट गेटवे पर ले जाया जाएगा और वहां आपको युपीआई, क्रेडिट, डेबिट या नेट बैंकिंग से पेमेंट करना होगा। भुगतान के बाद आपको एक रसीद प्राप्त होगी।और सात दीन के भीतर आपको अपने पते पर डाक द्वारा मील जायेगा। 

..........
46
435 views    0 comment
0 Shares

मुंबई में आईएनएस रणवीर में ब्लास्ट: आज एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना में युद्ध पोत आईएनएस रणवीर पर एक आंतरिक डिब्बे में विस्फोट में नौसेना के 3 कर्मियों की जान चली गई और 11 जवान घायल हो गए हैं। जहाज के चालक दल ने तुरंत प्रतिक्रिया करते हुए स्थिति को नियंत्रण में कर लिया। इसके चलते घटना में इसके बाद कोई बड़ी सामग्री की क्षति नहीं हुई है।भारतीय नौसेना के अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से कहा कि आईएनएस रणवीर नवंबर 2021 से पूर्वी नौसेना कमान से क्रॉस कोस्ट ऑपरेशनल पर तैनात था और जल्द ही बेस पोर्ट पर लौटने वाला था। कारण की जांच के लिए एक बोर्ड ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया गया है। घायल हुए ग्यारह नाविकों का इलाज स्थानीय नौसैनिक अस्पताल में चल रहा है। जहाज के चालक दल ने तुरंत प्रतिक्रिया करते हुए स्थिति को नियंत्रण में लाया और अब तक किसी बड़े नुकसान की सूचना नहीं है।

..........
24
233 views    0 comment
0 Shares

12
404 views    0 comment
0 Shares

LRD और PSI की भर्ती मे भ्रष्टचार करवाले दो आरोपीओ का पर्दाफाश 

राजकोट में एक महिला समेत दो आरोपियों ने एलआरडी-पीएसआई भर्ती के साथ ही शारीरिक कसौटी मे झांसा देकर 12 अभ्यर्थियों से धोखाधड़ी की है।8 अभ्यर्थी ग्रेजुएट और 4 अभ्यर्थी 12वी पास थे।जुनागढ की कृष्णा भरवाड नाम की एक महिला ने उम्मीदवारों को भर्ती में पास करवाने के लिए 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक वसूले। इस घोटाले में अन्य लोगों के भी शामिल होने की संभावना है, जिसकी पहचान मौजूदा नेता की भतीजी के रूप में की गई है। आरोपी जुनागढ की कृष्णा भरवाड और जामनगर के जेनिस परसाणा को गिरफ्तार कर लिया गया है।
पूरे सौराष्ट्र से कृष्ण और जेनीश ने परीक्षार्थियों को आकर्षित किया। आरोपी ने अपनी पहचान पुलिस महकमे में बड़ी पहचान के रूप में की। उन्होंने कहा कि बिना पुलिस रनिंग और लिखित परीक्षा दिए सीधे ज्वाइनिंग लेटर प्राप्त होगा। उसने 10 उम्मीदवारों से एक लाख दस हजार रुपये और दो उम्मीदवारों से चार चार लाख रुपये लिए। कृष्णा और जनीश को पैसे देकर आवेदक शारीरिक परीक्षण के लिए नहीं गए। अभ्यर्थी आरोपित को बुलावा पत्र देकर बैठ गए और फिजिकल टेस्ट में शामिल नहीं हुए।
जिसके बाद कृष्णा भरवाड और जेनिस परसाणा को पुलिस हिरासत में लेकर गहन पूछताछ की गई।पूरे मामले को राजकोट पुलिस ने ध्यान मे रखकर तुरंत कानूनन कार्रवाई शरु कर दी गई। 
भ्रष्टचार की भरमार गुजरात मे अभी समाप्त नहि हुई
गांधीनगर से एक और घोटाले की आशंका जताई जा रही है। जिसमें पीएसआई का शारीरिक परीक्षा मे छेडछाड पाया गया है। जिसमे पास हुए  छात्रों  फैल करने और फैल हुए छात्रों को  पास करने की साजिश का पर्दाफाश हुआ है। गौरतलब है कि जो उम्मीदवार मैदान में पास हुए हैं वे ऑनलाइन फेल हो गए हैं। और कुछ उम्मीदवारों की कैटेगरी में भी बदलाव किया गया है। साथ ही कुछ पुरुषों के नाम के पीछे बेन का नाम लिखा होता है। यह मेहनत करवाले छात्रों के लिए अच्छा नहि है।

..........
31
780 views    0 comment
0 Shares

थराद में एसबीआई के सहायक मेनेजर ने बैंक मे 2.85 करोड़ रुपये का किया भारी-भरकम भ्रष्टाचार।

बनासकांठा जिले के थराद में एसबीआई के एक बडे कर्मचारीने कुछ किसानों के फसल ऋण के नाम पर अपने अधिकार से अधिक ऋण स्वीकृत किए, उन्हें किसानों को नहीं दिया,किसानों के फॉर्म और वाउचर में फर्जी हस्ताक्षर किए। ऑडिट के दौरान बैंक के प्रधान कार्यालय के संज्ञान में आने पर रुपये के गबन का मामला सामने आया।जीसमे बैंक मे से फर्जी हस्ताक्षर करके 2,85 88,997 रूपये का भ्रष्टाचार किया गया है।उनमे उपरी हेड ऑफिस के तपास मे आने पर थराद पुलिस स्टेशन मे 1,30,49,665 रूपये के भ्रष्टाचार के तौर पर गुना दाख़िल हुआ है।गिरीशभाई मणिलाल प्रजापति स्टेट बैंक ऑफ इंडिया थराद में फील्ड ऑफिसर कृषि सहायक प्रबंधक थे। ड्यूटी के दौरान उन्हें कृषि से संबंधित कीसानो के लिए लोन करने और उनकी वसुली करने का काम करना होता है। इस बीच, उन्होंने किसी ग्राहक की लोन नियम से उपर कर दी। कोई भी बडी लोन की स्वीकृति बडे अधिकारी से लेनी पडती है लेकिन इस अधिकारी ने स्वीकृती नहीं मांगी,और बिना स्वीकृति के कृषकों का ऋण स्वीकृत कर कृषक ऋण प्रपत्र स्वीकृत कर एवं वाउचर में जाली हस्ताक्षर कर कृषक के खाते से अधिक ऋण राशि स्वीकृत कर अपने निजी आर्थिक लाभ के लिए सबसे बडा भ्रष्टाचार कर लिया।ईस घटनाक्रम मे बारे मे सहायक जनरल मेनेजर घनश्याम भक्तिराम सोलंकी ने थराद पुलिस स्टेशन मे गिरीशभाई मणिलाल प्रजापति के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कानून ​कार्रवाई की गई।

..........
33
1086 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा जिले के थराद में किसानों ने फसलों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए आंदोलन शुरू किया।

बनासकांठा जिले के थराद में किसानो ने नहर मे पानी छोडने के लिए आंदोलन किया था। आंदोलन से किसानों को सफलता भी मिली लेकिन आंदोलन वापस लेने के साथ ही पानी फिर से बंद कर दिया गया। यानी चार दिन चांदनी और फिर अंधेरी रात। मिली जानकारी के अनुसार थराद के किसान पिछले 4 साल से जलापूर्ति के लिए आंदोलन कर रहे हैं. किसानों को उनकी गांधीगिरी का फल भी मिला और गाँव में पानी आ गया जिससे किसानों में खुशी की लहर फैल गई थी।लेकिन पानी सिर्फ आवाजाही रोकने के लिए छोड़ा गया।लेकिन आंदोलन समाप्त हो जाता है तो पानी भी बंदहो जाता है। इसलिए नर्मदा विभाग द्वारा ठगे जाने की भावना से आक्रोशित किसानों ने आने वाले दिनों में एक नहीं चार गाँवों के किसानों के साथ आने की धमकी दी गई है और इससे किसानों में भारी रोष है। जहां नर्मदा निगम के एस.ओ दिनेशभाई पटेल और एन.आर. पटेल नहर का निरीक्षण करने पहुंचे और समाधान किए बीना ही वहा से वापस चले गए ईसी बात से किसान आक्रोशित होकर साबा, गडसीसर, जामपुर और पीरगढ़ के तमाम किसानों ने आने वाले दिनों में आंदोलन के साथ कार्यालय जाने की धमकी दी गई है।

..........
28
492 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा डीसा से चाकू की नौक पर व्यापारी के 7 लाख की लूट लिए 

पूरी घटना का विवरण इस प्रकार है:डीसा ओम पार्क में रहने वाले रसिकभाई कांतिलाल चोखावाला (मोदी) डीसा के जीआईडीसी में मिर्च की फैक्ट्री चलाते हैं और अपनी जीविका चलाते हैं। पुल पार कर रहे दो अजनबियों ने ईको-वाहन को रोका तो चालक ने इको-वाहन के शांतिकुजी ने रसिकभाई चोखावाला से पूछा कि क्या यात्री को बैठना है।तब रसिकभाई चोखावाला ने कहा कि बैठा दे जिसके बाद दो अजनबी डीसा जा रहे थे, इसलिए उन्होंने उन्हें इको कार में बैठा दिया। 

इस बीच, ज़ेरडा के पास अज्ञात लोगों ने व्यापारी के गले में चाकू दिखाकर और धाक धमकी देकर उससे उसने ईको-वाहन के चालक शातुनजी दरबार को भी धमकी दी, जिसके बाद ईको-वाहन की सीट के नीचे 7 लाख रुपये, रसिकभाई चोखावाला से 50,000 रुपये और दो मोबाइल और रसिकभाई चोखावल से 1500 रुपये ले लिए। इस तरह कुल 7,53,150 रुपये लूट लिए। व्यापारी ने डीसा तहसील पुलिस को सूचित किया। लिहाजा पुलिस ने अलग-अलग टीमें गठित कर कुछ ही घंटों में लुटेरों के गिरोह को पकड़ लिया।
पुलिस ने बताया की लूट की पूरी साजिश ड्राइवर शांतूजी ने रची थी। ड्राइवर शांतूजी को पता था कि व्यापारी के पास कीतनी रकम है ईसकी पुरी जानकारी थि। रोज व्यापारी के साथ जा रहे थे और व्यापारी भी व्यापार की वसूली के साथ ही आ रहा था इसलिए चालक ने अपने ही गाँव के अन्य लोगों के साथ व्यापारी को लूटने की योजना बनाई।
इस तरह पुलिस ने पूरे ऑपरेशन को अंजाम दिया डीसा तहसील पुलिस ने डीसा डीवाईएसपी डॉ कुशल ओझा के मार्गदर्शन में तहसील के पीआई एम जे चौधरी और पी.एस.आई. एस एस राणे ने अलग-अलग टीमों का गठन कर जांच की और घंटो में लूट के मामले को सुलझाया और कुल पांच आरोपितों को गिरफ्तार भी कर लिया गया।

..........
56
1310 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा धानेरा तहसील के जड़िया में सामूहिक आरोग्य केंद्र में ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया गया 

कोराना वायरस से लडने के लिए सरकारी तंत्र की पूर्व तैयार हो रही है।ईसी के तहत धानेरा तहसील के जडीया मे धानेरा तहसील के प्रांत अधिकारी योगेशभाई  ठक्कर,मामलतदार और स्वास्थ्य अधिकारी के साथ जड़िया सामूहिक केंद्र पहुंचे और ऑक्सीजन प्लांट के संचालन की गुणवत्ता का निरीक्षण किया गया। स्थिति बिगड़ने पर जड़िया गाँव के अत्याधुनिक सामुदायिक केंद्र में बेड की व्यवस्था भी चेक की गई है।ऐसे में धानेरा प्रशासन कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के लिए कमर कस कर तैयार नजर आ रहा है।

..........
20
444 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा: गाँवों में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए पालनपुर में कलेक्टर श्री आनंद पटेल की अध्यक्षता में सरपंचों की बैठक बुलाई 

पालनपुर में बैठक बुलाई जिसमे कलेक्टर आनंद पटेल ने नवनियुक्त सरपंच को बधाई देते हुए कहा कि जहां गाँव प्रकृति के लोगों ने आपको सेवा का अवसर दिया है वहीं विपरीत परिस्थिति में लोगों की सेवा करने का यह अवसर है।आइए उन 100 प्रतिशत ग्रामीणों का टीकाकरण करके गाँव की रक्षा करें जिन्हें अभी भी टीकाकरण की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि गाँव के मुख्यीया के रूप में आपको गाँव का विशेष ध्यान रखना होगा ताकि जब लोग शादियों, सभाओं, डायराओ या प्राण प्रतिष्ठान में इकट्ठा हों तो यहा सुपर स्प्रेडर न बन जाए ईसी का आपको ध्यान देने की जरूरत है।उन्होंने स्वास्थ्य टीम से समन्वय स्थापित करने को भी कहा ताकि गाँव के 15 से 18 साल के बच्चों का टीकाकरण जल्द से जल्द पूरा हो सके।
इस बैठक में जिला विकास अधिकारी श्री स्वप्निल खेर ने कहा कि देश में तीसरी लहर में मामले बढ़ रहे हैं। पहली और दूसरी लहर में भी सरपंचों ने अपने हौसले से जबरदस्त उत्साह दिखाया था।जिले में टीकाकरण की बहुत अच्छी व्यवस्था हो रही है। उन्होंने कहा, "जब जिले में कोरोना के मामले लगातार सामने आ रहे हैं, तो हमारे गाँव के दुकानदारों, डेरी कर्मचारियों और शहर के ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन की दोनों वैक्सीन डोज लेनी चाहिए और अनिवार्य मास्क और सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए।"इस बैठक में प्रान्तीय पदाधिकारी श्री एस. डी गिलवा,मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारी श्री एस.एन. देव, आर.सी.एच.ओ जिग्नेश हरियाणी, तहसीलदार श्री परमार, चिकित्सा अधिकारी और सरपंचो बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

..........
25
1049 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा: घायल पक्षियों को बचाने के लिए करुणा अभियान-2022 की बैठक का आयोजन किया गया।

14 जनवरी को उत्तरायण का त्यौहार है। और लोग इस त्यौहार मे पतंगबाज़ी करेगे जिसमे पतंग कि दोरी से आकाश मे उड रहे अनेको पक्षी घायल होगे।ईन घायल पक्षीओ के उपचार के लिए अनेक सेवाभावी संस्थान आगे आएगे और ईसी के भागरुप पहले से ही बनासकांठा कलेक्टर आनंद पटेल के निर्देश अनुसार उत्तरायण के अवसर पर वन विभाग द्वारा घायल पक्षियों को बचाने के लिए करुणा अभियान-2022 की बैठक का आयोजन किया गया। घायल पक्षियों के इलाज के लिए व्हाट्सएप हेल्पलाइन नंबर 8320002000 शुरू किया गया है। जिससे घायल पक्षियों का उपचार केन्द्रों पर संपर्क कर उपचार किया जा सके।

..........
14
891 views    0 comment
0 Shares

फुटवियर पर जी.एस.टी रेट 5 पर्सेन्ट से बढ़ाकर 12 पर्सेन्ट करने पर पालनपुर फुटवियर एसोसिएशन द्वारा कलेक्टर को आवेदन पत्र सौंपा।  

पालनपुर के फुटवियर व्यापारियों ने सरकार द्वारा जूते पर जी.एस.टी रेट 5 पर्सेन्ट से बढ़ाकर 12 पर्सेन्ट करने पर पालनपुर फुटवियर एसोसिएशन द्वारा विरोध-प्रदर्शन किया गया और दुकाने बंद रखकर सभी ने मिलकर कलेक्टर को आवेदन पत्र दिया। जूते पर जी.एस.टी के बढ़ोतरी से फुटवियर के व्यापार पर बडा असर पड़ेगा क्योंकि जी.एस.टी को 5% के बजाय 12% कर दिया गया तो व्यापारीओ के धंधे ही टुट जाएगे।फुटवियर एसोसिएशन के प्रमुख ठाकोरदास खत्री ने कहा की कोरोनाकाल मे पहले ही धंधे व्यापार टुट गए है और ईस तरह सरकार फुटवियर मे जी.एस.टी मे बढ़ोतरी करते है तो सब का व्यापार चौपट हो जाएगे और बाजार मे टीक पाना नामुमकिन है।इस व्यापार को बिखरने से सरकार ही बचा सकती है। सरकार फुटवियर मे जी.एस.टी बढ़ोतरी ना करे तो व्यापार के लिए अच्छा रहेगा।

..........
7
366 views    0 comment
0 Shares

15
594 views    0 comment
0 Shares

गुजरात में पहली बार टेक्नोलॉजी से पेपर लीक हुआ 

गुजरात में सौर ऊर्जा के लिए ऑनलाइन पेपर लिया जा रहा था।इस ऑनलाइन पेपर में टीमव्यूअर-(TeamViewer) जैसे सॉफ्टवेयर की मदद से बिचौलिए परीक्षार्थी के पेपर को ऑनलाइन पास करने के लिए तकनीक का इस्तेमाल करते थे। मोडस ऑपरेटिंग हैकिंग साइबर एक्सपर्ट सिस्टम का इस्तेमाल किया गया है। एक्सपर्ट पेपर के उत्तर कंट्रोल रूम में ही ऑनलाइन लिखकर पेपर पुरा कर देते थे।कंट्रोल रूम मे ही कंपनी के सुपरवाइज़र परीक्षार्थी से उनका कम्प्यूटर मे पासवर्ड और कोड से उनके उतर लिख कर पेपर को पुरा कर देते थे। गुजरात मे कही हार्ड कॉपी के पेपरलीक होते आए है लेकिन पहलीबार टेक्नोलॉजी से पेपर लीक होने वाला मामला साबरकांठा अरवल्ली बायड मे यह पेपर लीक करने वाले तो  इतिहास रच दिया।


..........
25
1216 views    0 comment
0 Shares

बीस लाख मे बना स्वर्ग जैसा अद्भुत चिड़ियाघर।

जेतपुर तहसील के सांकली गाँव के एक व्यक्ति ने 20 लाख रुपये की लागत से पक्षियों के लिए एक चिड़ियाघर बनाया है। इन्जीनियर को भी पीछे छोड दे ऐसे देशी आम आदमी ने बनाया है स्वर्ग जैसा चिड़ियाघर। करोड़ों के बंगले का मालिक भी इस परिंदे के स्वर्ग से ईर्ष्या करने लगेगा।ऐसा है अद्भुत चिड़ियाघर। जेतपुर तहसील के नवी सांकली गाँव के निवासी भगवानजीभाई रूपापरा ने एक अनोखा कार्य किया है। इनके इस तरह के कारनामे देखकर आप दंग रह जाओगे।
भगवानजीभाई ने अपने नए जुड़े गाँव के पादर में शिवलिंग के आकार का पक्षी घर बनवाया है। उन्होंने लगभग 2500 पानी भरने वाले मटको से इस पक्षी घर का निर्माण किया और इन मटको को जोड़ने के लिए उन्होंने विशेष गैल्वेनाइज्ड पाइप का इस्तेमाल किया। इस चिड़िया घर को उन्होंने 20 लाख रुपए खर्च कर और खुद मेहनत करके बनाया है।500 से 600 स्क्वेयर मे बने इस पक्षी घर के लिए जमीन ग्राम पंचायत ने दी है।जब उन्होंने पक्षी घर बनाने के लिए 20 लाख रुपये खर्च किए, तो उनके परिवार के सदस्यों ने उनकी मदद की और ग्राम पंचायत ने भी उन्हें जमीन देकर उनकी मदद की। तो भगवानजीभाई का चिड़िया घर का सपना साकार हुआ।भगवानजीभाई द्वारा बनाए गए इस पक्षी घर को देखने के लिए लोग गाँव के बाहर से आते हैं और यह देखना अद्भुत है। इस चिड़िया घर को देखकर लोग अनोखे अनुभव महसूस करते है।पूरे भारत में कहीं और नहीं ददेखाएसदा है चिड़ियाघर इस तरह यह स्वर्ग जैसा चिड़ियाघर सबके लिए यादगार बन जाता है।

..........
25
1208 views    0 comment
0 Shares

15 से 18 साल तक के किशोर के लिए वैक्सीन डोज देने के लिए बनासकांठा आरोग्य विभाग तैयार 

बनासकांठा जिले में 15 से 18 वर्ष की आयु के 2 लाख 20 हजार किशोर को सोमवार 3 जनवरी 2022 से कोरोना का टीका लगाया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल के निर्देश और मार्गदर्शन के अनुसार बनासकांठा जिला स्वास्थ्य प्रणाली द्वारा पहला डोज देने की तैयारी की जा रही है।15 से 18 वर्ष की आयु के किशोरों के लिए टीके के लिए आरोग्य विभाग तैयार है।
बनासकांठा के मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एस एम देव एवं जिला आरसीएचओ डॉ जिग्नेश कुमार हरियाणी के नेतृत्व मे बनासकांठा जिले में किशोरो के टीकाकरण के लिए जिला शिक्षा अधिकारी के समन्वय से 759 उपकेन्द्र, 125 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और जिले के सभी माध्यमिक विद्यालयों मे टीकाकरण कार्यक्रम आयोजन किया जाएगे। 

..........
4
606 views    0 comment
0 Shares

14
701 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा की मैत्रिय ने नेशनल फेंसिंग चैंपियनशिप खेल मे दूसरा स्थान प्राप्त कर डीसा शहेर को गौरवान्वित किया

हरियाणा सोनीपत मे 29वीं जूनियर नेशनल फेंसिंग चैंपियनशिप-2021 ता-25 से 28 दिसंबर 2021 तक आयोजित की गई थी। इस प्रतियोगिता में फॉइल, ईपी और सेबर जैसे आयोजन होते हैं। जिसमें डीसा की DNP आर्ट्स एन्ड कॉमर्स कॉलेज की खिलाड़ी मैत्रिय चावड़ा ने सेबर इवेंट में भाग लिया था।
मैत्रिय चावड़ा ने इस प्रतियोगिता में आंध्र प्रदेश और हरियाणा जैसे राज्यों के खिलाफ उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है और दूसरे स्थान पर रहते हुए रजत पदक हासिल किया।खेल क्षेत्र में रजत पदक प्राप्त करते हुए गुजरात के साथ बनासकांठा और डीसा कॉलेज का गौरव भी बढ़ा दिया। डीसा डीएनपी कॉलेज मे मैत्रिय चावड़ा को सन्मानित करते हुए बधाई दी गई। 

..........
13
1047 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा के कांकरेज तहसील के वडिया गाँव की प्राथमिक विधालय पर ग्रामीणो ने मिलकर ताला लगा दिया

बनासकांठा जिले के कांकरेज तहसील के वडिया गाँव में वडिया प्राथमिक विद्यालय में पिछले 6 वर्षों से प्राथमिक सुविधाओं का अभाव है। इस विधालय मे विधार्थीओ को पेड के नीचे बैठाकर पढ़ाया जाता है।विधालय मे अच्छे ढंग का कमरा भी नहि है जो विधार्थी उनमे बैठकर अपनी पढ़ाई कर पाए।ईसी से तंग आकर स्थानीय ग्रामीणों द्वारा स्थानीय स्तर से गांधीनगर तक बार-बार आवेदन देने के बावजूद इन मांगों को पूरा नहीं किया गया और मंगलवार को स्थानीय ग्रामीणों ने स्कूल में ताला लगा दिया और बच्चों को अध्ययन के उद्देश्य से स्कूल भेजना बंद कर दिया।माता-पिता द्वारा स्कूल को बंद करने का फैसला करने के बाद स्कूल के शिक्षक भी माता-पिता को मनाने के लिए पहुंचे। लेकिन विधार्थीओ के माता-पिता ने भी शिक्षकों की बात नहीं मानी और स्कूल में अपने बच्चो को विधालय मे भेजने से इनकार कर दिआ।
इस संबंध में शिक्षकों ने कहा, ''यदि सरकार द्वारा विधार्थी के माता पिता की इन मांगों को शीघ्र पूरा किया जाता है तो स्कूल में पढ़ने वाले 170 बच्चों की बिगड़ती शिक्षा को रोका जा सकता है।   

..........
64
1580 views    0 comment
0 Shares

35
1651 views    0 comment
0 Shares

ACB ने हजार या लाख नहि सिर्फ 10 रूपये की रिश्वत लेते कर्मचारी को रंगेहाथ पकडा 

गुजरात मे सरकारी कार्यालय में आम लोगो के कोई भी कार्य मुक्त मे ही करने होते है।इस तरह बीपीएल कार्ड वाले लोगों को बीपीएल का दाखिला मुफ्त देना होता है। लेकिन इस बात पर ध्यान न देते हुए आम लोग से रिश्वतखोर कर्मचारी 10 रुपये से लेकर 200 रुपये तक की रिश्वत ले लेते है और अगर रिश्वत की रकम नहीं दी जाती है तो लोगों को धक्का खाना पडता है।आज हर जिले में नरेगा से लेकर हर छोटे मोटे काम के लिए कुछ करार आधारित कर्मचारी तो रिश्वतखोरी से डरते ही नहि है। किसानों और लाभार्थियों की शिकायत है कि बडे अधिकारी भी इनकी बाते नहि सुनते।इसलिए मजबूरन जागरूक नागरिकों को ऐसा कदम उठाना पड़ रहा है। 
ऐसा ही मामला नर्मदा जिले के नांदोद तहसील पंचायत के कार्यालय मे आया है । डी.आर.डी.ए शाखा के करार आधारित कम्प्यूटर ऑपरेटर प्रवीण शनाभाई तलार लाभार्थी से बीपीएल का दाख़िला के लिए 10 रुपये की रिश्वत लेते हुए ACB ने रंगेहाथ पकड़ लिया।रिश्वत लेते कम्प्यूटर ऑपरेटर पकडा गया है। वो भी 10 रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा गया है।और ईस कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जांच कर शुरु कर दी गई है।

..........
16
721 views    0 comment
0 Shares

बनासकांठा के डीसा मे दो साल से जब्त किए शराब को बुलडोजर चलाकर नष्ट कर दिआ। 

डीसा दक्षिण एवं शहेर उत्तर पुलिस द्वारा पिछले दो वर्षों में जब्त किए शराब की मात्रा को नष्ट कर दिया गया। इस तरह स्थानीय नायब कलेक्टर, नायब पुलिस अधीक्षक और नशेबंदी अधिकारीओ ने मिलकर 40 लाख रुपये की अनुमानित मात्रा में शराब को बुलडोजर से नष्ट करवा दिया गया।और नष्ट हुए शराब की बोतल और अन्य सामाग्री को जे सी बी से गड्ढा खोदकर जमीन मे गाढ़ दिया
गुजरात में आमतौर पर शराब पर पूर्ण प्रतिबंध है। इस के बावजूद भी पुलिस द्वारा शराब की अवैध तस्करी पर लगाम लगाने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं।और इस बीच बड़ी मात्रा में विदेशी शराब भी पुलिस द्वारा जब्त कर ली जाती है।और शराब की मात्रा को नियमानुसार नष्ट भी कर दिया जाता है।  

..........
23
450 views    0 comment
0 Shares

अहमदाबाद महानगरपालिका वैक्सीन के लकी ड्रॉ मे एक सब्ज़ी वाले को मिला आईफोन मोबाइल।

अहमदाबाद महानगरपालिका ने वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के लिए लोगो को प्रेरित करने हेतु एक मोबाइल ड्रॉ का आयोजन किया था। जिसमे 1 से 7  दिसम्बर तक वैक्सीन का दूसरा डोज लेने पर आईफोन मोबाइल के ड्रॉ मे रजिस्ट्रर होगे। ईसी सराहनीय कदम से अंदाजे 75 हजार लोगो ने वैक्सीन का दुषरा डोज लिया था। ईसी वैक्सीन के दूसरा डोज लेने पर सब्जी बेचने वाले मकवाणा किशन आईफोन मोबाइल ड्रॉ के विजेते हुए।
अहमदाबाद महानगरपालिका ने आईफोन मोबाइल को किशन को बुलाकर उनके हाथ मे दे दिया। ईस आईफोन मोबाइल ड्रॉ मे विनर होने वाले किशन और उनके परिवार मे ख़ुशी का माहौल बन गया।

..........
23
746 views    0 comment
0 Shares