logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Jitesh thakre
All India Media Association

छिंदवाड़ा । टीकाकरण महाअभियान 3.0 के अंतर्गत लोग पूरे उत्साह के साथ वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचकर टीकाकरण करा रहे हैं। इसका एक अनुपम उदाहरण छिंदवाड़ा जिले के विकासखंड जुन्नारदेव की ग्राम पंचायत करनपिपरिया के ग्राम गुद्दम में देखने को तब मिला, जब इस गांव की रहने वाली 71 वर्षीय श्रीमती दुक्खो बाई भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सुश्री संध्या परतेती की प्रेरणा से 18 सितंबर को वैक्सीन लगवाने टीकाकरण सेंटर पहुंचीं।।

श्रीमती दुक्खो बाई के पैरों में दर्द रहता है और वह ठीक से चल नहीं पाती हैं, किन्तु टीकाकरण के प्रति उत्साह होने के कारण वे अपने घर के घोड़े पर सवार होकर वैक्सीनेशन सेंटर पहुंची। इस दौरान वहां मौजूद कर्मचारियों द्वारा श्रीमती दुक्खो बाई को वैक्सीन लगाई गई। श्रीमती दुक्खो बाई का टीकाकरण को लेकर जो उत्साह है, वह अन्य लोगों को भी टीकाकरण के लिये प्रेरित कर रहा है।

..........
29
81 views    0 comment
0 Shares

राज्यपाल सुश्री उइके तामिया महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं से गूगल मीट के माध्यम से हुई रूबरू
छिंदवाड़ा । छत्तीसगढ़ राज्य की राज्यपाल सुश्री अनुसुइया उइके अपने चार दशक पुराने छिन्दवाड़ा जिले के तामिया महाविद्यालय के सहयोगियों से मिलकर और प्राचार्य डॉ.महेन्द्र गिरि के मार्गदर्शन में छात्र हित में किये जा रहे नवाचारों को जानकार अत्यंत प्रसन्न हुई।

यह महत्वपूर्ण मुलाकात छिन्दवाड़ा आई राज्यपाल से सर्किट हाउस में हुई। राज्यपाल सुश्री उइके ने कहा कि उनका सार्वजनिक और राजनीतिक सफर तामिया से ही प्रारम्भ हुआ। उन्होंने बताया कि 1982 से तीन वर्ष तक वे तामिया महाविद्यालय में प्राध्यापक पद पर कार्यरत रही ।

महाविद्यालय का वह प्रारम्भिक दौर था । स्टूडेंट्स कम ही थे, किंतु उन्होंने सेवा भावना से उच्च शिक्षा के लिये वातावरण बनाने का काम किया । सुश्री उइके ने राष्ट्रीय सेवा योजना के संस्थापक डॉ.सुब्बाराव और डॉ.आई.एम.एन.गोयल की याद करते हुये बताया कि वे राष्ट्रीय सेवा योजना की गतिविधियों में सक्रिय रहीं ।

।उन्होंने कहा कि तामिया से देलाखारी और बिजौरी तक रोड के किनारे जो हरियाली है, उसमें उस दौर के राष्ट्रीय सेवा योजना में उनकी बडी भूमिका रही है।

राज्यपाल सुश्री उइके ने महाविद्यालय के वर्तमान प्राचार्य डॉ.गिरि के कुशल मार्गदर्शन में महाविद्यालय द्वारा छात्रहित मे किये जा रहे विभिन्न नवाचारों, लॉकडाउन अवधि में 12 वेबीनारों का आयोजन कर प्रदेश में रिकार्ड बनाने व गूगल मीट द्वारा निरन्तर छात्र संवाद कर छात्रों को मार्गदर्शन प्रदान करने, समस्या के त्वरित समाधान करने, चालीस वर्षो की जानकारी को संकलित कर पत्रिका आदितरंग के प्रकाशन जैसे श्रमसाध्य कार्यो की प्रशंसा करते हुए महाविद्यालय के स्टाफ व विद्यार्थियों को छत्तीसगढ़ आने के लिये आमंत्रित किया।

उन्होंने गूगल मीट के माध्यम से तामिया महाविद्यालय के विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि यह गर्व के साथ याद रखना कि तुम्हारे कॉलेज से प्राध्यापक की नौकरी प्रारंभ कर मैं आज राज्यपाल जैसे उच्च पद पर पहुँची हूँ। आप सब भी पूरी तन्मयता से पढ़ाई कर सफलता की नई बुलन्दी को छूकर तामिया का नाम रोशन करें। अपने तामिया महाविद्यालय की प्राध्यापक रही सुश्री उइके से रूबरू होकर छात्र-छात्राएं अभिभूत हो गए।

इस अवसर पर महाविद्यालय में राज्यपाल सुश्री उइके के साथ तामिया महाविद्यालय में रहे प्राध्यापक डॉ.एस.पी.बिनाकिया और कार्यालय सहायक श्री लोखंडे के साथ उन्होंने पुरानी स्मृतियों को साझा किया । महाविद्यालय के अन्य उपस्थित सदस्यों डॉ.मालती बनारसे, प्रो.नवीन यादव व क्रीडा अधिकारी श्री राजेन्द्र झाझोट सहित प्राचार्य ने उन्हें महाविद्यालय की बुनियादी आवश्यकताओं बाउंड्रीवाल, पीजी कक्षाओं, जीर्ण शीर्ण भवन, खेल मैदान, कंप्यूटर लैब, छात्रावास, स्टाफ क्वाटर की जरूरतों से रूबरू कराया। इस पर उन्होंने सहयोग का आश्वासन देते हुये शीघ्र तामिया आने के लिये कहा।

..........
0
727 views    0 comment
0 Shares

वाराणसी । देश के यशस्वी प्रधानमंत्री विश्व के सबसे ताकतवर नेता "आदरणीय नरेंद्र मोदी जी का जन्मदिवस भाजपा मंडल नादनवाडी के द्वारा "सेवा समर्पण के अन्तर्गतआज ग्राम सिराठा में सुभ सुरभा गैस एजेंसी द्वारा प्रधानमंत्री #उज्जवला योजना 2.0 के अंतर्गत निःशुल्क गैस कनेक्शन वितरण के कार्यक्रम में सम्मिलित हुआ।

इस अवसर पर माताओं-बहनों को सम्बोधित किया और सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी। एवं हितग्राही बहनों को मुफ़्त गैस कनेक्शन वितरित किये।

जिसमे मंडल अध्यक्ष नीरज सिंह चौहान विधायक नीलेश उईके जी मंडल महामंत्री कैलाश घाघरे जी मंडल उपाध्यक्ष शेषराव बारंगे जी it सेल मंडल प्रभारी सचिन पोहने मौजूद थे।

..........
0
230 views    0 comment
0 Shares

1
225 views    0 comment
0 Shares

3
2060 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा तहसील में आज वर्षों पुरानी परंपरा को निभाते हुए आज हुआ विश्व प्रसिद्ध गोटमार मेला पुलिस प्रशासन बना रहा मूकदर्शक इस गोटमार मेले में 583 पुलिस बल 12 एंबुलेंस 25 डॉक्टर व 85 स्वास्थ्य कर्मी की तैनाती में गोटमार मेले की कमान संभाली गई 

गोटमार मेले में आज पांढुर्णा व सावरगांव के बीच खेले जाने वाला खूनी खेल में पांढुर्णा तथा सावरगांव के दोनों पक्ष के लोगों द्वारा एक दूसरे पर पत्थरों से वार किया जाता है जिसमें आज 500 से अधिक लोगों की घायल होने की पुष्टि हुई है तथा 3 लोगों की हालत गंभीर बताई जा रही है जिनको नागपुर रेफर किया गया !!

क्यों होता है गोटमार मेला जानते हैं !!

300 साल पुरानी एक परंपरा है पुराने लोगों द्वारा बताया जाता है कि यह एक प्रेम कथा पर आधारित हैं पांढुर्णा का युवक तथा सावरगांव की युवती आपस में प्रेम करते थे एक दिन मध्य रात्रि के समय दोनों ने घर से भागने का प्लान बनाया और भागते हुए जाम नदी के बीच में जाकर फस गए यह देख लोगों ने दोनों पक्षों की आपसी रंजिश के चलते पत्थरों से वार करने लगे जिससे युवक युवती दोनों की मौत नदी के बीच हो गई
 इसका अफसोस मनाते हुए दोनों ही गांव की लोगों ने इनकी आत्मा शांति के लिए नदी किनारे स्थित मां चंडिका देवी के मंदिर में दोनों का पार्थिव शरीर ले जाकर समर्पित कर उनकी समाधि बना दी गई इसी पर हर वर्ष पांडू ना तथा सावरगांव के बीच में भोले के दूसरे दिन गोटमार के रूप में इनकी यादगार पर्व मनाया जाता है जिसमे प्लस का पौधा को काटकर बीच नदी में झंडे के रूप में जाना जाता है मां चंडिका देवी की पूजा अर्चना कर दोनों पक्ष आपस में एक दूसरे के ऊपर पत्थरों से वार करते हैं तथा शाम 6:00 बजे तक झंडा गिरा लिया जाता है उसके पश्चात झंडा को मां चंडिका देवी के मंदिर में लाकर समर्पित करते हैं आरती करने के पश्चात गोटमार मेला का समापन किया जाता है जिस में प्रतिवर्ष सैकड़ों की संख्या में लोग घायल होते हैं लेकिन यह परंपरा लोगों ने आज इस कोरोना महामारी में भी कायम रखी!

#छिंदवाड़ा जिले के पांढुर्णा नगर में आज आयोजित गोटमार मेला कार्यक्रम में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए कलेक्टर श्री सुमन,एसपी श्री अग्रवाल,जिला पंचायत सीईओ श्री नारायण,एडीएम श्रीमती बाटड, एसडीएम पांढुर्णा सुश्री शर्मा सहित पुलिस व प्रशासन का अमला सुबह से मुस्तैद है

..........
2
1780 views    0 comment
0 Shares

गणेश उत्सव एवं अन्य पर्व मनाए जाने के संबंध में जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक  आयोजित ==================================== छिंदवाड़ा ।कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन की अध्यक्षता में आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में गणेश उत्सव के मद्देनजर कानून एवं शांति व्यवस्था और अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं बनाए रखने के लिए शांति समिति की बैठक     हुई। बैठक में सदस्यों को शासन की नवीन गाइड लाइन से अवगत कराते हुए चर्चा की गई व विभिन्न सुझाव लिए गए और गणेश उत्सव एवं अन्य पर्व शांति व सद्भावनापूर्वक कोविड गाईड लाईन के तहत मनाने की अपील की गई।

बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री विवेक अग्रवाल, अतिरिक्त कलेक्टर श्रीमती रानी बाटड, सहायक कलेक्टर श्री अभिषेक सराफ, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री संजीव उईके, एसडीएम श्री अतुल सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री अजीत तिर्की, नगर निगम आयुक्त श्री हिमांशु सिंह व आरटीओ श्रीमती नेहा चौहान सहित अन्य अधिकारी और शांति समिति के सदस्यगण उपस्थित थे।

बैठक में बताया गया कि गणेश उत्सव कार्यक्रम का आयोजन 10 सितंबर से प्रारंभ होकर 20 सितंबर को पूर्वान्ह तक किया जायेगा। राज्य शासन द्वारा धार्मिक कार्यक्रम एवं त्योहारों के दृष्टिगत नवीन अतिरिक्त दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। प्रतिमा के लिए पंडाल का आकार अधिकतम 30x45 फीट नियत किया गया है।

झांकी निर्माताओं को आवश्यक रूप से यह सलाह दी गई कि वह ऐसी झांकियों की स्थापना एवं प्रदर्शन नहीं करें जिनमें संकुचित जगह के कारण श्रध्दालुओं/दर्शकों की भीड़ की स्थिति बने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना हो सके। झांकी स्थल पर श्रध्दालुओं/दर्शकों की भीड़ एकत्रित ना हो तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो, इसकी व्यवस्था आयोजकों को सुनिश्चित करनी होगी।


मूर्ति का विसर्जन संबंधित आयोजन समिति द्वारा किया जायेगा। विसर्जन स्थल पर ले जाने के लिए अधिकतम 10 व्यक्तियों के समूह की अनुमति होगी। इसके लिए आयोजकों को पृथक से संबंधित राजस्व अनुविभागीय अधिकारी से लिखित अनुमति प्राप्त करना आवश्यक होगा। गणेश समिति द्वारा गणेश प्रतिमा की स्थापना, विसर्जन स्थल, दिनांक, समय की सूचना सहित विसर्जन के लिए अधिकतम 10 व्यक्तियों की सूची आवेदन पत्र के साथ प्रस्तुत करनी होगी। आवेदन पत्र पर विभिन्न विभागों से अनापत्ति प्राप्त कर अनुमति प्रदान करने के लिए एकल विंडो व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए।


पंडाल में अस्थाई विद्युत कनेक्शन के लिए म.प्र.विद्युत मंडल के वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा कर पृथक से निर्देश प्रसारित किए जाएंगे। बैठक में सदस्यों को अवगत कराया गया कि भगवान गणेश की मूर्ति निर्धारित सीमा से अधिक उँचाई की निर्मित ना हो। मूर्तियों/प्रतिमाओं के निर्माण में परम्परागत मिट्टी का ही उपयोग किया जाये, पकी हुई मिट्टी पी.ओ.पी. (प्लास्टर आफ पेरिस) या किसी प्रकार के केमिकल एवं रासायनिक वस्तुओं का उपयोग मूर्ति निर्माण में नहीं किया जाये। साथ ही पूजन सामग्री जैसे फल-फूल, नारियल, वस्त्र आभूषण, सजावट के सामान जिनमें कागज एवं प्लास्टिक से निर्मित वस्तुएं शामिल हैं, को मूर्ति/प्रतिमाओं के विसर्जन के पूर्व निकालकर उन्हें अलग-अलग एकत्रित किया जाये ।


कोविड संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुये धार्मिक, सामाजिक आयोजन के लिये चल समारोह निकालने की अनुमति नहीं होगी । विसर्जन के लिये सामूहिक चल समारोह भी अनुमत्य नहीं होगा । सार्वजनिक स्थानों पर कोविड संक्रमण से बचाव के तारतम्य में झॉकियों, पण्डालों, विसर्जन के आयोजन में श्रध्दालु/दर्शक फेस कवर, सोशल डिस्टेसिंग एवं सेनेटाईजर का प्रयोग के साथ ही राज्य शासन व्दारा समय-समय पर जारी किये गये निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाये । लाउड स्पीकर बजाने के संबंध में माननीय सर्वोच्च न्यायालय व्दारा जारी की गई गाईड लाईन का पालन किया जाना अनिवार्य होगा । बैठक में निर्देश दिए गए कि मूर्ति विसर्जन मार्ग पोला ग्राउण्ड, फव्वारा चौक, गोल गंज, छोटा बाजार, चार फाटक, साकेत होटल छोटा तालाब, बरारीपुरा, छापाखाना में साफ-सफाई एवं प्रकाश व्यवस्था एवं मार्ग के गड्ढों की मरम्मत करायें । विद्युत विभाग द्वारा लाइट कनेक्शन की व्यवस्था करें। गणेश विसर्जन 19 सितंबर से प्रारंभ होकर 20 सितंबर को पूर्वान्ह तक किया जायेगा । विसर्जन स्थल छोटा तालाब, नागपुर रोड की कुलबेहरा नदी, शिकारपुर की कुलबेहरा नदी, गांगीवाड़ा के पास कुलबेहरा नदी, सिंगोड़ी की पेंच नदी में पुलिस व्यवस्था, केन की व्यवस्था, गोताखोर व्यवस्था तथा नाव की व्यवस्था कराएं एवं साफ सफाई की जाये। नगर निरीक्षक गोताखोरों की एक बैठक लेकर व्यवस्था बनायें । विसर्जन स्थल पर मछुआरों द्वारा अस्थाई रूप से लकडियों के रैम्प (प्लेटफार्म) बनवाये जायें। छोटे तालाब में गंदे पानी का प्रवेश बंद कराया जाये । विसर्जन स्थल पर साफ-सफाई करायें । विसर्जन स्थल पर बेरियर होमगार्ड की तैनाती की जाये । इसी प्रकार की व्यवस्था जिले के समस्त राजस्व अनुविभागीय अधिकारी अपने स्तर से सुनिश्चित करायें। गणेश उत्सव पर्व के दौरान मोबाईल एम्बुलेंस/फायर ब्रिगेड एवं पुलिस प्रशासन की व्यवस्था की जाये । आकस्मिक चिकित्सा व्यवस्था रखना सुनिश्चित किया जाये । गणेश प्रतिमा मिट्टी की हो, गणेश पंडाल में एक सदस्य की उपस्थिति आवश्यक है। प्रतिमा एक रूट से ले जाकर विसर्जित की जायेगी। छोटा तालाब में एक बोट रखी जाये तथा कुलबेहरा नदी में दोनों तरफ घाट पर रोशनी एवं गोताखोरों की व्यवस्था किये जाने हेतु संबंधित विभागों को निर्देशित किया गया। साथ ही सभी को यह निर्देशित किया गया कि छोटी मूर्तियों का विसर्जन घर पर ही किया जाये ताकि पानी का दुरूपयोग न हो । पोला पर्व-कोविड-19 गाईड लाईन का पालन करते हुये प्रतीकात्मक रूप से पोला पर्व मनाया जायेगा। पोला पर्व में गुढी यात्रा के लिये अनुमत्य संख्या में ही यात्रा की अनुमति होगी । तीजा पर्व में पूजा व तीजा विसर्जन का कार्यक्रम होता है। आमजन/महिलाओं की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये लगातार पुलिस पेट्रोलिंग के निर्देश दिये गये । गणेश स्थापना के पश्चात ऋषि पंचमी का पर्व होता है, जिसमें कढ़ाई/भंडारा का कार्यक्रम होता है । सार्वजनिक कार्यक्रम की अनुमति नहीं होगी । कोविड-19 गाईड लाईन का पालन करते हुये ऋषि पंचमी का पर्व मनाना सुनिश्चित करें। जैन समुदाय व्दारा पर्यूषण पर्व मनाया जाता है। छोटी बाजार, गंज, गुलाबरा स्थित जैन मंदिरों में सुरक्षा व्यवस्था के लिये पुलिस प्रशासन को निर्देशित किया गया । बैठक में बताया गया कि पोला, तीजा एवं अन्य धार्मिक उत्सव में चल समारोह की अनुमति नहीं होगी ।

..........
0
251 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा। नगर पालिका परिषद पाढुर्णा के सभाकक्ष में आज गोटमार मेले के शांतिपूर्ण आयोजन के संबंध में बैठक संपन्न हुई, जिसमें कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन, पुलिस अधीक्षक श्री विवेक अग्रवाल, पाढुर्णा विधायक श्री निलेश उईके, एसडीएम पाढुर्णा सुश्री मेघा शर्मा, जिला आबकारी अधिकारी, जिला खनिज अधिकारी, जिला चिकित्सा अधिकारी, अनुभाग स्तरीय सभी अधिकारी तथा उपाध्यक्ष, सभापति, नगर पालिका परिषद पाढुर्णा के पार्षदगण, शांति समिति, झण्डा समिति, चंडीमाता मंदिर समिति के सदस्य, पत्रकार एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित हुए।


।बैठक में पाढुर्णा विधायक श्री उईके द्वारा शांतिपूर्ण गोटमार मेला सम्पन्न कराने एवं प्रशासन को सहयोग प्रदान करने का सुझाव दिया गया । कलेक्टर श्री सुमन द्वारा उपस्थित जनों को यह अवगत कराया कि जनता की सुरक्षा की दृष्टि से शासन प्रशासन को विशेष व्यवस्थाएँ करनी होती है, जो जन मानस के हित से जुड़ी होती हैं। प्रशासन विरोध में नहीं रहता लेकिन माननीय न्यायालय एवं आयोगों के दिशा-निर्देशों का पालन कराया जाना अनिवार्य है।

उनके द्वारा यह भी अपील की गई कि पाढुर्णा नगर महाराष्ट्र राज्य की सीमा से लगा हुआ है और वर्तमान में कोरोना के नये वैरियेंट का प्रवेश महाराष्ट्र में हो चुका है, जिससे पांढुर्णा नगर में अधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता है। पुलिस अधीक्षक श्री अग्रवाल ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुये सावधानी बरतने की आवश्यकता है और माननीय उच्च न्यायालय एवं माननीय आयोग के दिशा निर्देशों का पालन कराया जाना भी अनिवार्य है। बैठक में प्रायवेट ड्रोन का उपयोग पूर्णतः प्रतिबंधित होने की जानकारी भी संबंधितों को प्रदाय की गई ।

..........
19
665 views    0 comment
15 Shares

मुख्यमंत्री श्री चौहान से मंत्री श्री सारंग के नेतृत्व में मिला प्रतिनिधि-मण्डल

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज के साथ बनने वाले सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के संबंध में आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। मेडिकल कॉलेज से संबंधित आवश्यक अधोसंरचनात्मक कार्य पूर्ण किए जाएंगे।

इस संबंध में आज चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग के नेतृत्व में मुख्यमंत्री श्री चौहान से मिले प्रतिनिधि-मण्डल ने उन्हें जानकारी दी कि वर्तमान में मेडिकल कॉलेज में शिक्षण कार्य तो हो रहा है, किंतु कॉलेज का अपना हॉस्पिटल न होने से प्रेक्टिकल कक्षाएँ जिला चिकित्सालय में लग रही हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस विसंगति को दूर किया जाएगा। प्रतिनिधि-मण्डल ने बताया कि छिंदवाड़ा में मेडिकल कॉलेज खोलने की मंजूरी और कॉलेज के निर्माण के बाद वर्ष 2019 से शिक्षण कार्य आरंभ हो चुका है, किंतु कॉलेज का अपना हॉस्पिटल न होने से शिक्षण कार्य में बाधा आ रही है।

प्रतिनिधि-मण्डल ने नई कार्य-योजना के माध्यम से बजट मंजूर कर इस कार्य को संपन्न करवाने का आग्रह किया। प्रतिनिधि-मण्डल के सदस्यों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान से छिंदवाड़ा नगर के सौंदर्यीकरण और रेल सुविधाओं के विकास में सहयोग की अपेक्षा की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि छिंदवाड़ा के व्यवस्थित विकास के सभी संभव कदम उठाए जाएंगे। प्रतिनिधि-मण्डल में श्री विवेक बंटी साहू, श्री नाना मोहोड़, श्री शेषराव यादव, श्रीमती कांता ठाकुर, श्री योगेश सदारंग, श्री आशीष ठाकुर और श्री शैलेंद्र रघुवंशी आदि शामिल थे।

..........
10
2849 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा। भारत सरकार के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय कृषि, सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा किसानों का डाटाबेस तैयार किया जा रहा है। इसके अंतर्गत प्रत्येक किसान का एक यूनिक फार्मर आईडी (एफआईडी) तैयार किया जायेगा जिससे किसानों के हित में शासन की योजनाओं का बेहतर नियोजन, निगरानी, नीति निर्माण, रणनीति तैयार करना और योजनाओं का सुचारू कार्यान्वयन किया जा सके।


इस योजना के अंर्तगत देश के 100 ग्रामों का चयन किया गया है। इस संदर्भ में छिंदवाड़ा जिले की तहसील छिंदवाडा के 5 ग्रामों इमलीखेड़ा, रोहनाकला, गुरैया, थुनियाभांड व थुनिया उदना एवं तहसील मोहखेड के 5 ग्रामों शिकारपुर, मुरमारी, खुनाझिरकलाँ, जैतपुरखुर्द व खैरवाड़ा इस प्रकार कुल 10 ग्रामों का चयन किया गया है। इस संबंध में अतिरिक्त सचिव (डिजीटल कृषि) विवेक अग्रवाल की अध्यक्षता में आज वीडियो कांफ्रेंसिंग का आयोजन किया गया, जिसमें वीडियो कॉफ्रेसिंग में चयनित 10 ग्रामों के किसानों का एक यूनिक फार्मर आईडी (एफआईडी) बनाये जाने के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।
इस वीडियो कांफ्रेंस में कलेक्टर सौरभ कुमार सुमन, सहायक कलेक्टर अभिषेक सराफ, प्रभारी अधिकारी भू-अभिलेख डिप्टी कलेक्टर अजीत तिर्की, उप संचालक कृषि, जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी सुश्री दीप्ति यादव, अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती स्मृति खंडेलवाल एवं तहसीलदार मोहखेड़ कलेक्ट्रेट के मिनी संवाद कक्ष से शामिल हुए।

..........
0
133 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा । कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन ने  आज कलेक्टर कार्यालय प्रागंण से परिवार एजुकेशन सोसाइटी की एक नई एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर जिले की तामिया तहसील के देलाखारी के लिये रवाना किया।

यह एम्बुलेंस स्वास्थ्य मोबाईल क्लीनिक के रूप में ग्राम तामिया, देलाखारी, भूराभगत, झिरपा, चावलपानी और मटकुली क्षेत्र में के गरीब व निर्धन ग्रामीणों के नि:शुल्क उपचार और दवाईयों के वितरण के उपयोग के लिये 24 घंटे उपलब्ध रहेगी और लोगों को निःशुल्क सेवा देगी।

इस अवसर पर संस्था के सर्वश्री भानु प्रताप सिंह, रमेश बारेला, भीम सिंह, रोहित प्रजापति, जितेंद्र यादव और अन्य स्टॉफ मौजूद था । प्राप्त जानकारी के अनुसार परिवार एजुकेशन सोसायटी एक मानवतावादी संस्था है जो कि श्री रामकृष्ण और स्वामी विवेकानंद के आध्यात्मिक एवं मानवतावादी आदर्शों से प्रेरित है ।

परिवार संस्था की शुरुआत वर्ष 2003 में पश्चिम बंगाल में हुई है। बंगाल में परिवार की दो आवासीय शैक्षणिक संस्थायें हैं जो पश्चिम बंगाल राज्य के गरीब और वंचित वर्गों के 3 हजार से भी ज्यादा आवासीय बच्चों के लिए सबसे बड़े नि:शुल्क आवासी संस्थान है।

परिवार संस्था, उनके संस्थापक व चीफ श्री विनायक लोहानी को वर्ष 2011 का राष्ट्रीय बाल कल्याण पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति द्वारा दिया गया है । वर्ष 2016 में परिवार ने मध्यप्रदेश में अपना कार्य शुरू किया और वर्ष 2017 से मध्यप्रदेश के देवास, सीहोर, मंडला, श्योपुर, छिन्दवाड़ा, खंडवा, विदिशा, डिंडोरी, अनूपपुर औऱ बैतूल जिले के गरीब और आदिवासी ग्रामीण इलाकों में श्री रामकृष्ण विवेकानंद सेवा कुटीर के नाम से बच्चों के लिए 331 भोजन सह शिक्षा केंद्र शुरू किए गए हैं ।

इन सेवा कुटीरों में 30 हजार से भी ज्यादा बच्चों को पौष्टिक भोजन, सुबह का नाश्ता और रात के भोजन के साथ ही सुबह और शाम में मजबूत शिक्षा दी जा रही है । छिंदवाड़ा जिले के तामिया, परासिया और हर्रई विकासखंडों में 43 सेवा कुटीर हैं जहां लगभग 4 हजार से ज्यादा बच्चों को दिन में दो बार भोजन व शिक्षा दी जाती है । इसी श्रंखला में परिवार संस्था द्वारा छिंदवाड़ा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य संबंधी कई सेवाओं का शुभारंभ किया जा रहा है ।

मोबाइल क्लीनिक डॉक्टर और संस्था के स्टॉफ के द्वारा गांव-गांव में निःशुल्क उपचार व दवाईयां दी जा रही हैं। नेत्र शिविर-परिवार श्रवण कुमार प्रकल्प के द्वारा श्री सतगुरु संघ सेवा ट्रस्ट-आनंदपुर जिला विदिशा के माध्यम से निःशुल्क मोतियाबिंद का ऑपरेशन एवं चश्मा वितरित करवाया जा रहा है ।

संस्थान द्वारा तामिया, पातालकोट, बटकाखापा, देलाखारी आदि क्षेत्र में 3 एम्बुलेंस के माध्यम से जन-जन तक 24 घंटे नि:शुल्क एंबुलेंस सुविधा दी जा रही है।

..........
6
3661 views    0 comment
4 Shares

जिले के जनप्रतिनिधियों, गणमान्य नागरिकों व जनसमुदाय के साथ ही कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन के मार्गदर्शन में राजस्व, स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास और महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा प्रेरित किये जाने पर जिले के हेल्थ केयर वर्कर्स व फ्रंट लाईन वर्कर्स, 18 से 44 वर्ष के व्यक्तियों के साथ ही 45 से 59 वर्ष के व्यक्तियों और 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों द्वारा उत्साहपूर्वक कोविड-19 का टीका लगवाया जा रहा है तथा अभी तक 11 लाख 73 हजार 163 व्यक्तियों द्वारा कोविड-19 टीके की प्रथम और व्दितीय डोज लगवाई जा चुकी है जिसमें 9 लाख 92 हजार 438 व्यक्तियों की प्रथम व एक लाख 80 हजार 725 व्यक्तियों की व्दितीय डोज शामिल है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.जी.सी.चौरसिया ने बताया कि जिले में अभी तक 13 हजार 8 हेल्थ केयर वर्करों को प्रथम व 10 हजार 661 हेल्थ केयर वर्करों को व्दितीय, 13 हजार 91 फ्रंट लाईन वर्करों को प्रथम व 10 हजार 266 फ्रंट लाईन वर्करों को व्दितीय, 18 से 44 वर्ष के 5 लाख 97 हजार 540 व्यक्तियों को प्रथम व 43 हजार 450 व्यक्तियों को व्दितीय तथा 45 वर्ष से अधिक के 3 लाख 68 हजार 804 को प्रथम व एक लाख 17 हजार 441 व्यक्तियों को कोविड-19 का व्दितीय डोज लगाया जा चुका है।

..........
8
840 views    0 comment
0 Shares

1
185 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा । कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन के मार्गनिर्देशन में जिले में “मैं कोरोना वॉलिंटियर्स“ अभियान चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत जिले के पंजीकृत 3 हजार 42 कोरोना वॉलिंटियर्स उत्साह के साथ समर्पित भाव से कोरोना संक्रमण से बचाव करने और वैक्सीन लगवाने के लिये लोगों को प्रेरित करने का कार्य कर रहे हैं।

इन कोरोना वॉलेंटियर्स द्वारा कोविड वैक्सीन लगवाने में शासकीय अमले और लाभार्थियों की मदद भी की जा रही है। इसी कड़ी में म.प्र.जन अभियान परिषद के पंजीकृत कोरोना वॉलिंटियर्स श्री सुनील विश्वकर्मा और श्री शिवा कैथवास द्वारा व्दितीय टीकाकरण महाअभियान के दौरान जिले के विकासखंड परासिया की ग्राम पंचायत रावनवाडा की 82 वर्षीय श्रीमती फुल्लो बाई को प्रेरित कर बाईक पर बैठाकर वैकसीनेशन सेंटर पर लाया गया, जहां पर 82 वर्षीय बुजुर्ग ने उत्साहपूर्वक कोविड-19 की वैक्सीन लगवाई।

कोरोना वॉलेंटियर्स द्वारा दी जा रही इन नि:स्वार्थ सेवाओं के लिये उनकी सर्वत्र सराहना की जा रही है।

..........
0
714 views    0 comment
0 Shares

 छिंदवाड़ा । कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा आज जिले के विकासखंड सौंसर के ग्राम टेमनी में सृजन संस्था द्वारा निर्मित एफ.पी.ओ.कोफे प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड और प्रेरणा महिला मंडल के सेल्को फाउंडेशन से नवनिर्मित कोल्ड स्टोर और सोलर सिस्टम का शुभारंभ किया गया।

।उन्होंने आस्था नर्सरी जूनापानी में नैनो ऑर्चर्ड का अवलोकन भी किया। इस दौरान मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री हरेन्द्र नारायण और जिला प्रबंधक नाबार्ड श्रीमती श्वेता सिंह भी साथ में थी। कलेक्टर श्री सुमन ने एफ.पी.ओ.कोफे प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड और प्रेरणा महिला मंडल की गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा की और महिलाओं की विभिन्न गतिविधियों के संचालन के लिये जमीन आवंटन और ऋण स्वीकृति के लिये आश्वस्त किया।

सृजन संस्था के टीम लीडर श्री राजेश सूर्यवंशी द्वारा बताया गया कि महिला समूह द्वारा आस्था नर्सरी जूनापानी में नैनो ऑर्चर्ड का संचालन किया जा रहा है जिसमें महिलायें लगातार क्षेत्र के आस-पास के सभी किसानों को जैविक सब्जियों के रोप ओर जैविक दवाइयां उपलब्ध कराती हैं। आस्था समूह के 11 सदस्य और कोफे कंपनी मिलकर कार्य करते हैं जिससे समूह के सदस्यों की आय में बढ़ोतरी हो रही है।

प्रेरणा महिला मंडल की अध्यक्ष सुश्री प्रीति विश्वकर्मा ने मंडल और कोफे की ओर से प्रेजेंटेशन द्वारा विस्तार से जानकारी देते हुये बताया कि कोफे से जुड़कर लगभग 2 हजार परिवार अपनी अलग-अलग गतिविधि के माध्यम से जैसे सीताफल का गूदा जाम का गूदा, जामुन का गूदा, उन्नत कृषि बीज आदि किसानों को अच्छे दाम में उनके ग्राम में ही उपलब्ध कराते हैं जिससे उनकी आय बढ़ रही है। प्रेरणा महिला मंडल द्वारा गरीब परिवार की सहायता के लिए एक बैंक की शुरुआत भी की गई है जिसमें समूह के खाते खोले जाते है और उन्हें छोटे-छोटे लघु व्यवसाय के लिये ऋण उपलब्ध कराया जाता है। इस दौरान सृजन संस्था के सर्वश्री पंकज तिवारी, हिमांशु गुप्ता, योगेश साहू, शेख अबरार मंसूरी, दुर्गेश उइके, राजेश धुर्वे व अजय कोडले उपस्थित थे।

..........
0
13 views    0 comment
0 Shares

कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री हरेन्द्र नारायण के मार्गनिर्देशन और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत छिन्दवाड़ा श्री सी.एल.मरावी के नेतृत्व में आज छिन्दवाड़ा में विकासखंड स्तरीय रोजगार मेला संपन्न हुआ ।

मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा जनपद पंचायत छिन्दवाड़ा के प्रांगण में आयोजित इस रोजगार मेले में 49 युवक-युवतियों को जहां सीधे रोजगार मिला, वहीं 88 आवेदकों का पंजीयन किया गया।

मध्यप्रदेश डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन की जिला परियोजना प्रबंधक सुश्री रेखा अहिरवार ने बताया कि निजी क्षेत्र की कंपनियों में क्षेत्रीय युवक एवं युवतियों को रोजगार के अवसर दिलाने के उद्देश्य से इस रोजगार मेले में 6 कंपनियों द्वारा 49 आवेदकों का चयन किया गया ।

इसमें वर्धमान यार्नस मंडीदीप भोपाल द्वारा 2, बीरा बी 9 बेवरेज प्रा.लि. कंपनी नागपुर द्वारा 10, वन क्लिक एच.आर. सर्विस ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट छिन्दवाड़ा द्वारा 3, जय अंबे बायोप्लांट कंपनी छिन्दवाड़ा द्वारा 13, एल.आई.सी. छिन्दवाड़ा द्वारा 9 और अंबुजा सीमेंट फाउडेंशन छिन्दवाड़ा द्वारा 12 युवाओं को डायरेक्ट नौकरी दी गई।

रोजगार मेले में जिला प्रबंधक रोजगार श्री सुक्कन कुमार कवड़े, विकासखंड प्रबंधक, सहायक विकासखंड प्रबंधक और आवेदक उपस्थित थे।

..........
0
85 views    0 comment
0 Shares

प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास श्री अशोक शाह ने गत‍ 25 व 26 अगस्‍त को जिले के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण किया और विभागीय योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की व आंगनवाड़ी केंद्रों का निरीक्षण किया। साथ ही हितग्राहियों से चर्चा कर आंगनवाड़ी से प्राप्त होने वाली सेवाओं की जानकारी प्राप्त की। भ्रमण के दौरान दल के अन्य सदस्‍य, जनजातीय कार्य विभाग के अधिकारी व कर्मचारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती कल्‍पना तिवारी रिछारिया, परियोजना अधिकारी जुन्‍नारदेव सुश्री प्रेरणा मर्सकोले, प्रभारी परियोजना अधिकारी तामिया श्री प्रेमनारायण गढेवाल, सेक्‍टर सुपरवाईजर, आंगनवाडी कार्यकर्ता और स्‍थानीय समुदाय उपस्थित था। प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास श्री शाह ने प्रथम दिवस तामिया परियोजना के ग्राम आडिटोरिया एवं देलाखारी में आंगनवाडी केन्‍द्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने आंगनवाडी केन्‍द्रों में स्‍व-सहायता समूहों के सदस्‍यों से चर्चा की और नवीन दिशा-निर्देशों के अनुसार पोषण आहार के नवीन मीनू रेडी-टू-ईट और टेक होम राशन वितरण की समीक्षा की। रेडी-टू-ईट के अंतर्गत प्रदाय मक्‍का व चावल मिक्‍स खिचडी के सैम्‍पल और आंगनवाडी केन्‍द्र में निर्मित पोषण वाटिका का निरीक्षण किया गया। उन्होंने आईमेम कार्यक्रम के अंतर्गत अति कम वजन से सामान्‍य श्रेणी में आये बच्‍चों के ग्रेड परिवर्तन की समीक्षा की और शाम के समय छिन्‍दवाडा के सर्किट हाउस में छिन्‍दवाडा परियोजना के अंतर्गत अति कम वजन से सामान्‍य श्रेणी में आये बच्‍चों व परिवारों से चर्चा कर उन्‍हें स्‍वस्‍थ होने की बधाई व शुभकामनायें देते हुये उपहार प्रदान किया। उन्होंने अंतरा फाउडेंशन के अधिकारियों से स्‍वास्‍थ्‍य एवं महिला एवं बाल विकास के आंकडो का एकीकरण और पोषण प्रबंधन नीति के अंतर्गत आईमेम कार्यक्रम की जानकारी प्राप्‍त की। प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास श्री शाह ने व्दितीय दिवस जिले के जुन्‍नारदेव विकासखण्‍ड के सुदूर आदिवासी अंचल सांगाखेडा से 15 किलोमीटर दूर बिचबेहरी ग्राम पंचायत के ग्राम ईमरतीखेडा का आकस्मिक भम्रण कर हितग्राहियों से आंगनवाडी की सेवाओं से लाभांवित होने की जानकारी प्राप्त की जिसमें हितग्रहियों द्वारा गांव में मिनी आंगनवाड़ी केन्‍द्र के माध्यम से महिला एवं बाल विकास की सभी योजनाओं की जानकारी प्राप्‍त होना बताया। उन्होंने निर्देश दिये कि जिले में कुपोषण कम करने के लिये विभागीय योजनाओं और सेवाओं के माध्‍यम से आगामी 3 माहों में अति कम वजन के बच्‍चों का सामान्‍य ग्रेड में परिवर्तन किया जाये।

..........
0
318 views    0 comment
0 Shares

छिंदवाड़ा। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक की शाखाओं से संबद्ध समितियों के प्रबंधकों और ऑपरेटरों के लिये आज ऋणों की प्रविष्टि राजस्व विभाग के भू-अभिलेख पोर्टल https://mpbhulekg.gov.in पर करने के उद्देश्य से बैंक मुख्यालय पर प्रशिक्षण कार्यक्रम संपन्न हुआ। बैंक कर्मियों ने प्रोजेक्टर व स्क्रीन के माध्यम से बैंक की शाखाओं की समितियों के प्रबंधकों और ऑपरेटरों को प्रशिक्षण देकर उनकी समस्याओं का समाधान किया।
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के महाप्रबंधक श्री सोनी ने बताया कि राज्य स्तरीय बैंकर्स कमेटी द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार वितरित ऋणों की प्रविष्टि के कार्य को पूर्ण किया जाना है। उन्होंने बताया कि मध्यप्रदेश भू-राजस्व संहिता 1959 की धारा 109 (2) के अंतर्गत कृषि भूमि पर बंधक दर्ज किए जाने का प्रावधान है। बैंक से संबद्ध समितियों द्वारा कृषक सदस्यों को फसल के दृष्टि बंधन के विरुध्द फसल ऋण एवं भूमि बंधन के विरुध्द कृषि सावधि ऋण उपलब्ध कराया जाता है। मध्यप्रदेश सहकारी सोसायटी नियम 1962 के नियम क्रमांक 25-ए/क के अनुसार भी प्रत्येक सोसायटी द्वारा अपने ऋणी सदस्यों की सूचना संबंधित तहसीलदार को प्रेषित करने का प्रावधान है जिसके अनुसार आयुक्त सहकारिता द्वारा बैंक से संबध्द शाखा व उसकी समितियों को अपने वितरित ऋण की प्रविष्टि के निर्देश दिये गये हैं। इसी परिप्रेक्ष्य में यह प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया।

..........
0
271 views    0 comment
0 Shares

राज्य शासन द्वारा प्रदेश में चल रहे मिलावट से मुक्ति अभियान के अंतर्गत संभागीय मुख्यालय जबलपुर से मौके पर ही खाद्य पदार्थों में मिलावट की जांच किये जाने के लिये चलित खाद्य जांच प्रयोगशाला दो दिवसीय छिंदवाड़ा जिला भ्रमण के दौरान आज छिन्दवाड़ा पहुंची।

कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा दिये गये निर्देशों के परिपालन में उप संचालक खाद्य एवं औषधि प्रशासन डॉ.जी.सी.चौरसिया के मार्गनिर्देशन में विभागीय दल के साथ चलित प्रयोगशाला द्वारा छिन्दवाड़ा नगर में भ्रमण किया गया । उप संचालक खाद्य एवं औषधि प्रशासन डॉ.चौरसिया ने बताया कि विभागीय दल और चलित प्रयोगशाला द्वारा शहर में बस स्टैंड स्थित विभिन्न भोजनालय, किराना स्टोर व मिष्ठान भंडार, पोला ग्राउंड के पास नागपुर रोड स्थित चौपाटी से विभिन्न चाट, दाबेली, चाइनीस आदि के विक्रेता एवं नागपुर रोड चित्रकूट कांप्लेक्स के पास विभिन्न स्ट्रीट फूड वेन्डरों और रेस्टोरेंट से 126 नमूने लेकर मौके पर ही जांच की गई । जांच के दौरान दो खाद्य पदार्थों पनीर एवं फ्रूट बेवरेज के नमूने अमानक पाए जाने पर इन दोनों खाद्य पदार्थों के रेगुलेटरी नमूने लेकर अग्रिम जांच के लिये राज्य खाद्य जांच प्रयोगशाला ईदगाह हिल्स भोपाल प्रेषित किये जा रहे हैं । इस दौरान 4 खाद्य पदार्थो की जांच उपभोक्ताओं द्वारा मौके पर ही शुल्क जमा कर करवाई गई । राज्य खाद्य प्रयोगशाला से रेगुलेटरी नमूनों का जांच प्रतिवेदन प्राप्त होने पर अग्रिम वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

..........
0
154 views    0 comment
0 Shares

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा-144 में प्रदत्त शक्तियों को प्रयोग में लाते हुये पूर्व में जारी 15 जुलाई के कार्यालयीन आदेश की कंडिका क्रमांक-4 और 4 अगस्त के कार्यालयीन आदेश की कंडिका क्रमांक-9 में उल्लेखित शर्तो में आंशिक संशोधन करते हुये कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन किये जाने की शर्तो पर जिले में कोचिंग संस्थान उपलब्ध क्षमता के अधिकतम 50 प्रतिशत की सीमा के साथ संचालित किये जाने के आदेश जारी किये गये हैं । 

यह आदेश तत्काल प्रभावशील हो गया है । प्रतिबंधित गतिविधियों का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति के विरूध्द भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अंतर्गत वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। यह आदेश आम जनता को सम्बोधित है और वर्तमान में ऐसी परिस्थितियां नहीं हैं एवं ना ही यह सम्भव है कि इस आदेश की पूर्व सूचना प्रत्येक व्यक्ति को दी जाये, इसलिये यह आदेश एक पक्षीय पारित किया गया है।

..........
1
454 views    0 comment
2 Shares

छिंदवाडा। कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन की अध्यक्षता में गत दिवस कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में जनजातीय कार्य विभाग की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में जिले में संचालित सभी शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालयों में अध्ययनरत अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं की वर्ष 2018-19, 2019-20 व 2020-21 की लंबित पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति और आवास योजना के बैंक खातों की प्रगति की समीक्षा की गई।

बैठक में सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्री एन.एस.बरकड़े, सभी महाविद्यालयों के प्राचार्य और विभागीय अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर श्री सुमन ने सभी प्राचार्यों को निर्देश दिये कि वर्ष 2018-19, 2019-20 व 2020-21 की पोर्टल पर दिखाई दे रही लंबित छात्रवृत्ति का तत्काल निराकरण करें और जो छात्रवृत्ति स्वीकृति योग्य हो उसे तत्काल स्वीकृत करें ताकि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्र-छात्राओं को शासन की ओर से मिलने वाली छात्रवृत्ति योजना का लाभ मिल सके।

उन्होंने अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनाओं की प्रगति की भी समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने सभी प्राचार्यों को निर्देश दिये कि आवास योजना के एमपी टॉस के अंतर्गत इनएक्टिव बैंक खातों को एन.पी.सी.आई. के अंतर्गत एक्टिव करायें। साथ ही छात्र-छात्राओं के सतत संपर्क में रहें और उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई होने पर गूगल शीट में दर्ज कर छात्र-छात्राओं को लाभांवित करें

..........