logo
logo
(Trust Registration No. 393)
aima profilepic
Kishori Sista
All India Media Association
4
3016 views    0 comment
1 Shares

0
136 views    0 comment
1 Shares

पर्यटन नगरी मनाली में बीएसएनल कार्यलय से होकर गुजरने वाले बाईपास मार्ग पर वीरवार सुबह एक ट्रक को बैक करते वक्त राह चल रहा युवक कुचला गया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस पर गुस्साए लोगों ने कुछ देर के लिए हंगामा किया। वे ट्रक चालक को उनके हवाले करने की मांग कर रहे थे। पुलिस के मुताबिक मनाली शहर के बीचों बीच बाईपास सड़क में सामान से लदा एक ट्रक बैक किया जा रहा था। इस दौरान चंबा का एक युवक पिछले टायर की चपेट में आ गया। युवक की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।दुर्घटना के बाद गुस्साए लोगों ने कुछ देर मौके पर हंगामा भी किया। जिसके बाद पुलिस बल बुलाना पड़ा। हालांकि, बाद में पुलिस ने मामला शांत करवा दिया। डीएसपी मनाली हेमराज वर्मा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। ट्रक चालक पुलिस की हिरासत में है।

..........
0
0 views    0 comment
1 Shares

0
516 views    0 comment
1 Shares

4
5029 views    0 comment
1 Shares

2
1008 views    0 comment
0 Shares

0
0 views    0 comment
1 Shares

0
647 views    0 comment
1 Shares

*शिमला में आरोपी को पकडऩे गई महिला कांस्टेबल पर हमला*

शिमला में आरोपी को पकडऩे गई महिला पुलिस कर्मी पर हमला करने का मामला सामने आया है। इस घटना में पुलिस थाना बालूगंज थाना में महिला पुलिस कर्मी की शिकायत पर दो लोगों के खिलाफ सरकारी काम में बाधा पहुंचाने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है। शिमला में आरोपी को पकडऩे गई महिला पुलिस कर्मी पर दंपत्ति ने हमला कर दिया। महिला पुलिस कर्मी शिमला के घोड़ा चौकी के रहने वाले किशोर को पकडऩे गई थी। जैसे ही पुलिस कर्मी उसके घर पर पहुंचे और गिरफ्तारी वारंट के बारे में बताया तो पति-पत्नी दोनों भड़क गए। विवाद इतना बढ़ गया कि दंपत्ति ने महिला पुलिसकर्मी के साथ गाली-गलौज शुरू कर दी और उसके ऊपर हमला हमला बोल दिया। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने महिला पुलिस कर्मी को दांतों से काटा और नाखूनों से भी बुरी तरह से नोच दिया। हमले में महिला पुलिस कर्मी को काफी चोटें आईं हैं। उधर, एसपी शिमला मोनिका भुटूंगरु का कहना है कि पुलिस ने महिला पुलिस कर्मी की शिकायत के आधार पर आरोपी दंपति के खिलाफ मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

बच्चे की मौत पर एसपी आफिस में धरना, पुलिस प्रमुख के यह आदेश…*



धर्मशाला। पुलिस थाना भवारना के गुनेहड़ गांव में चार अप्रैल को संदिग्ध परिस्थितियों एक बच्चे की मौत मामले में परिजनों ने एसपी आफिस धर्मशाला के बाहर धरना दिया। लोगों ने पुलिस थाना भवारना की टीम की ओर से कोई उचित कार्रवाई न करने के आरोप लगाए हैं।
उन्होंने एसपी कांगड़ा को ज्ञापन सौंपते हुए मामले के भवारना पुलिस को शामिल न करते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की। मृतक मुनीष कुमार के पिता संतोष कुमार ने बताया कि वह गुनेहड़ में किराए के मकान में रहते हैं। चार अप्रैल वह अपनी पत्नी के साथ काम के लिए गए थे। दोपहर बाद उनके पड़ोसी का फोन आया और उसने गाली-गलौज किया। इसके अलावा जातिसूचक शब्द भी कहे। उसके बाद करीब चार बजे फिर फोन आया और कहा मुझसे गलती हो गई है, मुझे माफ कर दो।

यह सुनकर जब वह घबराकर घर पहुंचे तो बरामदे उनका 13 वर्षीय बेटा मुनीष मृत पाया गया। उन्होंने आरोप लगाए कि पड़ोसी ने उनके बेटे ही हत्या करके दुपट्टे से टांग दिया। उधर, पुलिस अधीक्षक कांगड़ा डा. खुशहाल शर्मा ने बताया कि एएसपी पुनीत रघु के नेतृत्व में एसआईटी गठित की जाएगी और भवारना पुलिस को उसमें शामिल नहीं किया जाएगा। मृतक के प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट के फंदा लगाने की बात आ रही है, लेकिन अंतिम रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति साफ होगी।

..........
0
0 views    0 comment
0 Shares

0
47 views    0 comment
0 Shares

5
2749 views    0 comment
2 Shares

1
0 views    0 comment
1 Shares

0
385 views    0 comment
0 Shares

0
357 views    0 comment
0 Shares

0
141 views    0 comment
0 Shares

*पत्नी ने पेट्रोल छिड़क कर जलाया पति, तीसा उपमंडल के खजुआ में पेश आया वाकया, 35 फीसदी झुलसा* 
किशोरी सिस्टा आनी कुल्लू 

जिला के तीसा उपमंडल की खजुआ पंचायत में कथित तौर पर मामूली कहासुनी से गुस्साई पत्नी ने पति के उपर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। पीडि़त पति को सिविल अस्पताल तीसा और मेडिकल कालेज चंबा में प्राथमिक उपचार के बाद टांडा रैफर कर दिया है। फिलहाल पुलिस ने आग से झुलसे पति के बयान पर आरोपी पत्नी के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। बर्फबारी के कारण घटना से जुड़े पहलुओं की बारीकी से जांच के लिए तीसा पुलिस थाना से एक टीम शनिवार को मौके के लिए रवाना होगी। इसके बाद ही घटना की सही वास्तविकता से पर्दा हट पाएगा। इस घटना को लेकर अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

खजुआ पंचायत के गोहटा गांव के चैनलाल की अपनी पत्नी संग किसी बात को लेकर तू-तू- मैं- मैं हो गई। इसी दौरान गुस्से में पत्नी ने घर में पड़ा पेट्रोल का कैन चैन लाल पर छिड़कर आग लगा दी। चैनलाल के चीखने- चिल्लाने की आवाज सुनकर मौके पर लोग पहुंच गए। उन्होंने तुरंत चैनलाल के कपड़ों को भड़की आग को बुझाने के साथ ही उसे तीसा अस्पताल पहुंचाया। सूचना मिलते ही तीसा पुलिस थाना से भी एक टीम सिविल अस्पताल तीसा पहुंच गई। जहां पुलिस ने चैनलाल के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया निपटाई। इस घटना में चैनलाल को करीब 35 फीसदी जल चुका है। पुलिस ने चैनलाल के बयान पर भादंसं की धारा-307 के तहत मामला दर्ज किया है। उधर, एसडीपीओ सलूणी आईपीएस मंयक चौधरी ने घटना की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि घटना की वास्तविकता जानने के लिए पुलिस टीम को मौके पर जाने के आदेश दे दिए गए हैं।

..........
0
8 views    0 comment
1 Shares

च्वाई पटवार घर की स्थिति दयनीय
● पटवार घर न होने से लोगों को आनी मुख्यालय जाकर करवाने पड़ रहे काम-काज 
● जल्द होगा मुरम्मत काम शुरू,आनी टुडे हर बार प्रमुखता से उठाता रहा उच्च अधिकारियों के समक्ष इस मामले को 

जिला कुल्लू में आउटर सिराज़ के  ग्राम पंचायत च्वाई में स्तिथ पटवारी भवन की स्थिति दयनीय है । आलम यह है कि भवन की खिड़की, दरवाज़ा सब टूट चुका है ।
राजस्व विभाग द्वारा लोगों की सहुलियत के लिए पटवार घर खोले गए हैं ताकि लोगों के भूमि,राजस्व संबंधी काम समेत अन्य कामों को आसानी से निपटाया जा सकें लेकिन च्वाई का पटवार भवन पूरी तरह से क्षतिग्रस्त है । 
●मुरम्मत की है आवश्यकता 

भवन की स्थिति ऐसी है कि यहां न तो पटवारी बैठ सकता है और न ही किसान-बागवान । इसके चलते भवन विरान पड़ा हुआ है।
भवन की स्थित खराब होने के कारण मौजूदा समय में पटवारी को मजबूरन आनी मुख्यालय में बैठकर किसानों का काम करने पड़ रहे हैं।

● 4 ग्राम पंचायतों के दर्जनों गांव आते हैं इस पटवार वृत के अंतर्गत 

पटवार वृत चवाई के तहत ग्राम पंचायत चवाई,शिल्ली,बखनाओ,देऊठी के लोगों को राजस्व, बंटवारा, सीमांकन संबंधी व प्रमाण पत्रों जैसे महत्वपूर्ण कार्यों के लिए रोजाना 15-20 किमी दूर आनी मुख्यालय के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इससे न केवल आने जाने में खर्च अधिक होता है। बल्कि समय भी लगता है। एक काम के लिए पूरा दिन का समय लग जाता है।

● क्या कहते हैं तहसीलदार दलीप शर्मा 

तहसीलदार आनी दलीप शर्मा ने बताया कि यह मामला उनके ध्यान में जब लाया गया था तो उच्च अधिकारियों से इस संबंध में पत्राचार करके अवगत करवाया गया था । जिसके बाद समस्त इस संबंध में अन्य औपचारिकताओं को पूरा करके दस्तावेज़ तैयार किए गए । 

अब , निदेशक,भू-अभिलेख हिमाचल प्रदेश द्वारा इसकी मरम्मत के लिए धनराशि उपायुक्त कुल्लू कार्यालय में जमा हो चुकी है । जैसे ही वहां से धनराशि ज़ारी होती है तो जल्द आने वाले एक डेढ़ महीने में इस पटवार भवन की मुरम्मत का काम शुरू कर दिया जाएगा  ताकि लोगों को असुविधाओं का सामना न करना पड़े ।

..........
1
2534 views    0 comment
9 Shares

आज दिनांक 12/12/21को अनुसूचित जाति उत्थान संगठन  आनी की पंचायत समिति आनी में प्रीतम सागर की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमे संगठन की कार्यकारणी का बिस्तर किया किया जिसमें अनुसूचित जाति उत्थान  संगठन की कार्यकारणी इस प्रकार से है
अध्यक्ष प्रीतम सागर,, महा सचिव किशोरी लाल, संगठन मंत्री राजकुमार, उपाध्यक्ष विकी चौहान, जीबत राम , तारा चंद, सचिव, दीपक, बालकृष्ण भारती,रूपेंद्र कुमार, मीडिया प्रभारी, डीपी रावत,मुख्य सलाहकार नीते राम, कानूनी सलाहकार विनोद कुमार, प्रैस सचिव एल आर अग्रवाल कोषाध्यक्ष ध्यान सिंह  प्रभारी जगत राम सह प्रभारी गीता राम, सदस्या , गुड्डू राम , नीतू राम, जोगिंद्र सिंह, जिया लाल, आदि 
बैठक में प्रीतम सागर ने कहा है कि वर्तमान समय में जो सामान्य वर्ग आयोग का गठन किया गया है उससे हमें कोई आपत्ति नही है परंतु यदि अनुसूचित जाति समाज के लोगों के अधिकारों व सबैधानिक प्रावधानों के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ की जाती है तो हमारे समाज के लोग किसी भी हद तक जा सकते है

..........
1
610 views    0 comment
0 Shares

आज दिनांक 12/12/21को अनुसूचित जाति उत्थान संगठन  आनी की पंचायत समिति आनी में प्रीतम सागर की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमे संगठन की कार्यकारणी का बिस्तर किया किया जिसमें अनुसूचित जाति उत्थान  संगठन की कार्यकारणी इस प्रकार से है।
अध्यक्ष प्रीतम सागर,, महा सचिव किशोरी लाल, संगठन मंत्री राजकुमार, उपाध्यक्ष विकी चौहान, जीबत राम , तारा चंद, सचिव, दीपक, बालकृष्ण भारती,रूपेंद्र कुमार, मीडिया प्रभारी, डीपी रावत,मुख्य सलाहकार नीते राम, कानूनी सलाहकार विनोद कुमार, प्रैस सचिव एल आर अग्रवाल कोषाध्यक्ष ध्यान सिंह  प्रभारी जगत राम सह प्रभारी गीता राम, सदस्या , गुड्डू राम , नीतू राम, जोगिंद्र सिंह, जिया लाल, आदि।
बैठक में प्रीतम सागर ने कहा है कि वर्तमान समय में जो सामान्य वर्ग आयोग का गठन किया गया है उससे हमें कोई आपत्ति नही है परंतु यदि अनुसूचित जाति समाज के लोगों के अधिकारों व सबैधानिक प्रावधानों के साथ किसी भी प्रकार की छेड़छाड़ की जाती है तो हमारे समाज के लोग किसी भी हद तक जा सकते है।

..........
2
260 views    0 comment
1 Shares

नवजात की मौत, सिर पर गहरे जख्म

मंडी में परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही के जड़े आरोप
  कुल्लू।

जन्म के पांच दिन बाद नवजात शिशु की मौत के लिए परिजनों ने अस्पताल में तैनात चिकित्सकों पर प्रसव के दौरान लापरवाही के गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हें नवजात की मौत का जिम्मेदार ठहराया है।

साथ ही मामले को लेकर परिजनों ने मुख्यमंत्री सेवा संकल्प व चाइल्डलाइन हेल्पलाइन में शिकायत दर्ज कर करवाई है। मामला जिला मंडी के एक बड़े दर्जे के सरकारी अस्पताल से जुड़ा है।

जहां बल्ह क्षेत्र के पाथा गांव की एक गर्भवती को गत दस नवंबर को प्रसव पीड़ा के चलते अस्पताल में दाखिल किया था। 18 नवंबर को महिला की सिजेरियन डिलिवरी करवाई गई थी।

डिलिवरी के बाद नवजात की तबीयत बिगड़ती देख चिकित्सक द्वारा 21 नवंबर को उसे पीजीआई रैफर कर दिया, लेकिन वहां से भी परिजनों को निराशा ही हाथ लगी।

परिजनों ने बताया कि शिशु के बचने का कोई उम्मीद न होने पर उन्हें अस्पताल से घर वापस भेज दिया गया तथा 23 नवंबर को नवजात शिशु की घर में मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि चिकित्सकों की टीम ने प्रसव पीड़ा के दौरान गर्भवती की गतल तरीके से सिजेरियन डिलिवरी करवाई थी। डिलिवरी के दौरान नवजात शिशु के सिर के पिछले हिस्से में गहरे जख्म पाए गए थे, जिनसे काफी खून बह रहा था। जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश चौधरी ने इस मामले पर गंभीरता से जांच की मांग की है । वहीं, लाल बहादुर शास्त्री मेडिकल कालेज नेरचौक के एमएस डा. पीएल वर्मा ने कहा कि मामला उनके ध्यान में आया है। आरोपों को लेकर जांच की जाएगी।

..........
1
1234 views    0 comment
0 Shares

4
1612 views    0 comment
0 Shares

व्यूनाओ ग्रुप ने कंपनी के प्रोजेक्ट को लेकर निवेश को लेकर सीएम जयराम ठाकुर से की मुलाकात

शिमला। व्यूनाओ समूह ने प्रदेश में करीब 600 करोड़ रुपए का निवेश करेगा। यहां कंपनी द्वारा स्थापित किए जाने वाले डाटा सेंटर से प्रदेश के करीब 700 लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित होंगे। शुक्रवार को इस बात का खुलासा खुद व्यूनाओ गु्रप के प्रतिनिधियों ने किया है। व्यूनाओ ग्रुप प्रबंधन ने अध्यक्ष सुखविंदर सिंह खरौर के नेतृत्व में शुक्रवार को शिमला में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से भेंट की।

इस अवसर पर सुखविंदर सिंह खरौर ने राज्य में आईटी और कौशल विकास क्षेत्र में कंपनी की निवेश योजना पर चर्चा की। दिसंबर महीने में होने वाली सेकंड ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में यह निवेश परियोजना भी आ सकती है। सुखविंदर सिंह ने कहा कि डीसी और ईडीसीएस की स्थापना के अलावा कंपनी युवाओं को आईटी कौशल में प्रशिक्षित करने और फिर उन्हें कंपनी के तकनीकी विभागों में एडजस्ट करने के लिए राज्य भर में कौशल विकास केंद्र खोलने की भी योजना बनाई गई है।

उन्होंने बताया कि यह डाटा सेंटर विभिन्न ई-गवर्नेंस और स्मार्ट-सरकारी परियोजनाओं की सुविधा प्रदान करेगा। हिमाचल व्यूनाओ इन्फोटेक प्राइवेट लिमिटेड का लक्ष्य भारत का सबसे पसंदीदा कम्प्यूट पावर और डाटा स्टोरेज प्रदाता बनना है। कंपनी 2025 तक सबसे बड़ा ऐज कम्प्यूटर नेटवर्क स्थापित करने की राह पर है। व्यूनाओ ग्रुप प्रबंधन द्वारा हिमाचल प्रदेश में ऐज डाटा सेंटर की असेंबली यूनिट को स्थानांतरित करेगा। व्यूनाओ ग्रुप ने ठियोग के औद्योगिक क्षेत्र में डाटा सेंटर प्लांट स्थापित करने की बात कही। एसीएस इंडस्ट्रीज ने आगामी सिंगल विंडो क्लीयरेंस एंड मॉनिटरिंग अथॉरिटी की बैठक में इस परियोजना को लाने के लिए उद्योग विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए। वहीं निदेशक उद्योग विभाग ने प्रोमोटर्ज के साथ फोन पर चर्चा की और परियोजना के तेजी से अनुमोदन का आश्वासन दिया। (एचडीएम)


उद्योगों को हरसंभव मदद देगी सरकार
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार हिमाचल प्रदेश में पर्यावरण अनुकूल उद्योगों को बढ़ावा दे रही है। हिमाचल प्रदेश एक सरप्लस ऊर्जा राज्य है और राज्य में निवेश को आकर्षित करने के लिए निवेशकों को विभिन्न प्रकार के प्रोत्साहन प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने प्रबंधन को राज्य के विभिन्न भागों में अत्याधुनिक कौशल विकास केंद्र स्थापित करने के लिए कहा। व्यूनाओ समूह ने मुख्यमंत्री को बताया कि कंपनी की योजना प्रदेश में चरणबद्ध तरीके से 600 करोड़ रुपये का निवेश करने की है, जिससे प्रदेश के 700 लोगों के लिए रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग आरडी धीमान भी उपस्थित थे।

..........
1
26 views    0 comment
0 Shares

कुल्लू। शैक्षणिक सत्र 2020-21 की 12वीं कक्षा की मेरिट लिस्ट स्कूल शिक्षा बोर्ड ने जारी कर दी है। बोर्ड की ओर से जारी की गई इस मेरिट लिस्ट में 75 फीसदी तक अंक हासिल करने वालों में इस बार 19,926 मेधावियों ने अपनी जगह बनाई है।

मेरिट लिस्ट में पिछले वर्ष के मुकाबले 1329 मेधावी अधिक है। बोर्ड की ओर से जारी की गई मेरिट लिस्ट में 500 में से 500 अंक हासिल करने वालों में कुल्लू के पुष्पेंद्र पहले नंबर पर हैं, जबकि 500 में से दो मेधावियों ने 499-499 अंक हासिल कर दूसरे स्थान पर कब्जा किया है, जिसमें साक्षी आनंद और हर्षित ठाकुर शामिल हैं। वहीं 498 अंक पांच मेधावियों ने हासिल किए हैं।

स्कूल शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुरेश कुमार सोनी ने बताया कि शैक्षणिक सत्र 2020-21 में इस बार 19,926 विद्यार्थियों ने मेरिट सूची में अपना स्थान बनाया है। इस वर्ष मेरिट सूची में पिछले वर्ष के मुकाबले 1329 विद्यार्थी अधिक आए हैं।

पिछले वर्ष बोर्ड की ओर से निकाली गई मेरिट लिस्ट में 18,597 विद्यार्थियों ने 75 फीसदी अंक हासिल करने वाले मेधावियों में जगह बनाई थी। इस बार इस संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है।

..........
0
1827 views    0 comment
0 Shares

शिमला। श्याम सरन नेगी, Shyam Saran Negi (जन्म:1 जुलाई 1917) कल्पा, हिमाचल प्रदेश में एक सेवानिवृत्त स्कूल शिक्षक हैं जिन्होंने 1951 में हुए स्वतंत्र भारत के पहले आम चुनाव में सबसे पहला मतदान किया। 1947 में ब्रिटिश राज के अंत के बाद देश के पहले चुनाव हालांकि फरवरी 1952 में हुए, किंतु सर्दी के मौसम में भारी बर्फबारी की संभावनाओं के कारण हिमाचल प्रदेश के निवासियों को पांच महीने पहले ही वोट करने के लिए का मौका दिया गया। नेगी ने 1951 के बाद से हर आम चुनाव में मतदान किया है, और उन्हें भारत के सबसे पुराने मतदाता के रूप में माना जा रहा है।

श्याम सरन ने एक हिंदी फिल्म सनम रे में एक विशेष उपस्थिति भी दर्ज कराई। सम्मान :- 2010 में, चुनाव आयोग के हीरक जयंती समारोह के अवसर पर तत्कालीन मुख्य चुनाव आयुक्त नवीन चावला ने नेगी के गांव का दौरा किया और उन्हें मतदान करने के प्रचार अभियान का दूत घोषित किया।

2014 में, गूगल इंडिया ने एक सार्वजनिक सेवा उद्घोषणा के रूप में एक वीडियो बनाया जिसमें नेगी ने पहले चुनाव में अपनी भागीदारी के बारे में बताया व दर्शकों को मतदान के महत्व के बारे में जागरूक किया।

..........
0
1314 views    0 comment
0 Shares

0
2046 views    0 comment
0 Shares

  कुल्लू। आनी प्रदेश में तीन विधानसभा सीट और एक लोकसभा सीट के लिए प्रचार बुधवार थम गया है। ऐसे में प्रचार के अंतिम दिन दोनों दल ताबड़तोड़ प्रचार में जुटे हैं।

इसी कड़ी में बुधवार को कांग्रेस सहप्रभारी ने शिमला में बीजेपी पर बड़ा हमला बोला है। मुख्यमंत्री पर हमलावर होते हुए संजय दत्त ने कहा कि मुख्यमंत्री हवाई प्रवास पर रहते हैं। उनको पता नहीं है कि सड़कों में गड्ढे हैं या गड्ढों में सड़क है। हिमाचल कांग्रेस सह-प्रभारी संजय दत्त ने कहा कि ये चुनाव असाधारण है, जिसमें कांग्रेस को अभूतपूर्व समर्थन मिल रहा है। यह चुनाव जनता और बीजेपी का है। चारों सीटों पर कांग्रेस जीत हासिल करेगी। इसमें भाजपा की जमानत जब्त होने वाली हैं।

मुख्यमंत्री ने भी अपनी हार स्वीकार कर ली है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने चुनावों में जनता का ध्यान असल मुद्दों से भटकाने का प्रयास किया है। भाजपा हार सामने देखकर सत्ता का दुरुपयोग कर रही है।

..........
1
27 views    0 comment
0 Shares

कुल्लू। एचपीयू में अधिकारियों और कर्मचारियों के बच्चों के लिए बिना नेट, जेआरएफ के पीएचडी में सीधे प्रवेश देने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। जानकारी के मुताबिक ईसी की अलग-अलग हुई बैठक में तीन तरह की कैटेगरी के लिए पीएचडी में सीधे प्रवेश को मंजूरी दी गई है।

पहला इसमें जेआरएफ या इसके समकक्ष डिग्री करने वाले पात्र होते हैं दूसरा, दिव्यांग वर्ग के लिए एक-एक सीट आरक्षित है और तीसरा शिक्षक और कर्मचारियों के बच्चों के लिए सीधे प्रवेश का प्रावधान है। इसमें पहली दो कैटेगरी के लिए ईसी से मंजूरी मिलने के बाद इसके लिए विज्ञापन निकाला गया लेकिन तीसरी कैटेगरी जिसमें कर्मचारियों और शिक्षकों के बच्चों को बिना एंट्रेंस के एडमिशन दी जानी थी उसके लिए कोई विज्ञापन नहीं निकाला गया। इसका सीधा मतलब ये है कि विभागों में बाकी कर्मचारियों के बच्चे आवेदन न करें इसके लिए चुपचाप एडमिशन करवाई गई। एचपीयू की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय द्वारा पीएचडी दाखिले में विश्वविद्यालय अध्यापकों के बच्चों को बिना नेट, जेआरएफ व प्रवेश परीक्षा के दाखिला देना के निर्णय का विरोध किया है।


अभाविप हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय इकाई अध्यक्ष विशाल सकलानी ने बताया कि विश्वविद्यालय के द्वारा अध्यापकों के बच्चों को पीएचडी दाखिलों में अनुचित तवज्जो देना आम छात्रों के साथ धोखा है और संविधान के अंतर्गत समानता के अधिकार के विरुद्ध भी है। उधर, एनएसयूआई के अध्यक्ष छतर सिंह का कहना है कि इस मामले में छात्र संगठन उग्र आंदोलन करेंगे। एचपीयू में इस प्रकार की धांधली कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

..........
0
1003 views    0 comment
0 Shares

0
640 views    0 comment
0 Shares