logo
अपने विचार लिखें....

सरकार की गाइडलाइ का पालन करें

सरकार की गाइडलाइन का पालन करें लोग

कोरोना वायरस के चलते दो गज की दूरी व मास्क जरूरी था जो कि करीब हम भूल चुके हैं

फरीदकोट।  कोरोना वायरस के चलते दो गज की दूरी व मास्क जरूरी था जो कि करीब हम भूल चुके हैं लेकिन भारत में एंट्री कर चुके ओमिक्रोन वायरस ने फिर से एक बार देशवासियों को चौंका दिया है।

 यह कितना खतरनाक है इस बात का तो अभी तक पता नहीं लग पाया परंतु हमें सतर्क रहने की जरूरत है व सरकार द्वारा बताई गई गाइडलाइंस का उपयोग करना बहुत जरूरी है। डाक्टर विश्वदीप गोयल का कहना है इसके जो लक्षण हैं वह कोरोना के मुकाबले कम हैं। इस वायरस में सूंघने की शक्ति या स्वाद में किसी तरह का कोई प्रभावी असर नहीं पड़ता। इसमें हल्का बुखार गले में हल्की खराश, हल्का जुखाम मामूली लक्षण ही दिखाई देते हैं। इसका बचाव मात्र मास्क लगाना है व दो गज की दूरी है। 

सरकार के द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस को अपने जीवन का एक हिस्सा बनाएं समाजसेवी महेंद्र कुमार बंसल का कहना है कोरोना वायरस से पहले हमने बहुत बड़ा नुकसान झेला है परंतु अब राज्य सरकारों को चाहिए कि पहले से ही पुख्ता इंतजाम कर लिए जाएं। लोगों से उन्होंने अपील की कि मास्क लगाकर रखें व सैनिटाइजर का प्रयोग करें भीड़ भाड़ में जाने से बचें वह बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति से दो गज की दूरी बनाए रखों। 

समाजसेवी डा. बलजीत शर्मा प्रधान नेशनल यूथ क्लब फरीदकोट ने कहा सरकार को चाहिए कि राज्य के सभी स्कूलों में नई गाइडलाइंस जारी की जाए व बच्चों को मास्क लगवाए जाएं। दो गज की दूरी के साथ बैठाया जाए वह सैनिटाइजर का प्रयोग किया जाए क्योंकि कुछ दिनों से फिर से स्कूलों में पूरी तरह लापरवाही बरती जा रही है बच्चों की बात तो क्या करें अध्यापकों के भी मास्क नहीं लगा होता। गाइडलाइन का पालन करना जरूरी : मनीष मित्तल

भाजपा युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष मनीष मित्तल का कहना है कि हमें डब्ल्यूएचओ की गाइडलाइंस का पूरी सतर्कता के साथ पालन करना होगा। राज्य के सभी अस्पतालों को पूरी तरह से सतर्क  रहना होगा। अपने पुख्ता प्रबंध करने होंगे, जिसमें टेस्टिग, वेंटिलेटर, वएक्स्ट्रा बैंड की सुविधा हास्पिटलों में की जाए।





 

1
14664 views
  
2 shares