logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

करनाल। मां बनने का सौभाग्य जिस महिला को नहीं मिल पाता है वही समझ सकती है कि एक बच्चे को जन्म देना कितना सुकून देने वाला क्षण होता है। लेकिन यहां तो एक मां ने ही अपने तीन-चार दिन के नवजात शिशु को गांव में ईंट के भट्ठे के समीप खतों में ठंड में मरने के लिए फेंक दिया। झकझोर देने वाली यह घटना गांव बीजना की है। 

ठंड के बीच अबोध नवजात शिशु (लड़का) रोता रहा। रोने की आवाज सुनकर ईंट भट्ठे पर काम करने वाले मजदूरों ने उसे अपनी गोद में उठाया और चुप कराने का प्रयास किया लेकिन वह चुप नहीं हुआ।

इसके बाद मजदूरों ने इसकी सूचना ग्रामीणों को दी। ग्रामीणों ने एंबुलेंस को सूचना देकर बुलाया और शिशु को जिला नागरिक अस्पताल करनाल में दाखिल कराया। जहां उसका इलाज चल रहा है।

डॉक्टरों ने बताया कि शिशु को सांस लेेने में परेशानी हो रही है। मामले की सूचना सदर थाना पुलिस को दे दी है।

पुलिस शिशु की मां को तलाश रही है। पुलिस का कहना है कि शिशु की मां को लेकर उन्हें कुछ सुराग मिले हैं। जल्द मामले का खुलासा कर देंगे।


0
249 views