logo
(Trust Registration No. 393)
Write Your Expression

रीवा/देवतालाब परंपरागत एवं सादगी पूर्ण मनाया गया विजयादशमी का पर्व

रीवा।  देवतालाब के स्टेडियम में गत वर्षो की भांति वाराणसी। व्यापारियों के हित की बात हो रही है इस मुद्दे पर जाने माने व्यापारी नेता एवमं आईटी सेल अध्यक्ष श्री संतोष सिंह द्वारा प्रेस से गयी वार्ता में उन्होंने अपना पहलू रखा श्री संतोष सिंह के अनुसार आजकल यह देखा जा रहा है कि अलग-अलग व्यापारिक - राजनीति संगठनों द्वारा ऑनलाइन सामान के बॉयकॉट की मांग की जा रही हैं जो कि यथार्थ में कोई असर नही करती और धरातल पर जाकर दम तोड़ देती है वस्तुतः असल मुद्दा ये है कि क्या यह संभव है कि आज के परिवेश में सिर्फ अपील कर देने से यह ऑनलाइन शॉपिंग रुक सकती है ? क्या लोग ऑनलाइन शॉपिंग करना बंद कर देंगे ? देखा जाए तो यह सही है की ऑनलाइन शॉपिंग ने स्थानीय बाजार को काफी नुकसान पहुँचाया है शहर छोड़ गांव में भी लोगों ने अपने मनपसंद की चीजें ऑनलाइन मंगाने चालू कर दी है और इन कंपनियों का डिलीवरी सिस्टम गांवों तक सामान पहुंचाने में अपनी मजबूत पकड़ बना चुका है एक और जहां पर इन ऑनलाइन कंपनियों की वजह से लोगों को काफी सहूलियत हुई है - समय की बचत हुई है कम मूल्यों में उत्पादन को पाने का मंच मिला है , और जो सामान पूरे दिन शहर भर में घूम के भी नहीं मिलता था वह समान महज एक क्लिक पर उपलब्ध होने लगा है लेकिन इसी के साथ दूसरी तरफ बाजार में एक गंभीर समस्या भी उभर कर आई है भारतीय बाजारों ने कभी प्रतिस्पर्धा की प्रक्रिया को अपनाया ही नहीं इन्होंने हमेशा यह मान के रखा कि हम बेचेंगे और खरीदार हमारे यहां से लेता जाएगा उन्होंने अपने आप को अपडेट करने की कोशिश नहीं की और आज उसी का नतीजा है कि अधिकांश व्यवसाय जिसमें इलेक्ट्रॉनिक्स -इलेक्ट्रिकल -वस्त्र व्यवसाय- मोबाइल एसेसरीज ब्रांडेड जूते चप्पल जैसे उत्पादों में ,उन्होंने स्थानीय दुकानदारों ग्राहकी खराब कर दी है आखिर इसका हल क्या है ? क्या सिर्फ अपील कर देने से उपभोक्ता इन दुकानों पर जाना चालू कर देंगे ! आखिर ऑनलाइन उत्पाद अपने ग्राहकों को जो सुविधाएं देते हैं, क्या वह स्थानीय बाजार के दुकानदार दे पा रहे हैं ? आखिर क्यों उपभोक्ता ऑनलाइन मंच पर अपनी भागीदारी बढ़ाते जा रहे हैं? आज जरूरत है इस पहलू पर सोचने की है उस प्लेटफार्म से कंपटीशन करने की है , बॉयकॉट की अपील पर स्थानीय उपभोक्ता भी ध्यान नहीं देता है क्या स्थानीय बाजार ने इस दिशा में कोई पहल करने की कोशिश की ? क्या स्थानीय व्यापार मंडल होने इस दिशा में कोई व्यापक आधुनिक एवं इलेक्ट्रॉनिक्स माध्यम को अपनाने की दिशा में कोई कार्य किया है ? कुछ जगहों पर दिशा में काम हुआ जैसे कि दिल्ली चावड़ी बाजार ऑनलाइन प्लेटफॉर्म , करोल बाग ,कनॉट प्लेस बाजार ऑनलाइन एसोसिएशन इन जगहों पर उपभोक्ताओं को वही सुविधाएं मिलनी चालू हुई और उन्होंने इस दिशा में अपने कदम इन जगहों पर बढ़ा दिए क्या इससे सबक लेकर हमारे स्थानीय बाजार कोई ऑनलाइन प्लेटफॉर्म चालू नहीं कर सकते जिससे ग्राहकों को उनके उत्पादों को चुनने देखने और समझने की समझ मिले और वे अपनी मनपसंद वस्तु ऑनलाइन स्थानीय बाजार से मंगा सके आज जरूरत ऑनलाइन बाजार को कोसने से नहीं बल्कि उससे लड़ने का है प्रतिस्पर्धा हर एक बाजार की जरूरत होती है और इसी प्रतिस्पर्धा से लड़कर ही बाजार को बचाया जा सकता है जरूरत आज स्थानीय बाजारों को एक मंच पर लाकर इलेक्ट्रॉनिक्स माध्यम से ग्राहकों को आकर्षित करने की है और यही वक्त का और आने वाला समय का तकाजा है प्रतिस्पर्धी बनिए अपने आप को बचाइए। वर्ष भी दशहरा का पर्व बड़ी भव्यता एवं धूमधाम के साथ परंतु सादगी पूर्ण तरीके से मनाया गया।


जबलपुर से आए गायक कलाकारों की टीम द्वारा देवी गीत एवं अन्य धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम बड़े मनमोहक तरीके से प्रस्तुत किए गए। सर्वप्रथम झांकियों का चल समारोह खासकर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी विश्वविद्यालय द्वारा मनाई गई जीवंत झांकी एवं अन्य झांकियां आकर्षण का केंद्र रही कई उत्कृष्ट एवं धार्मिक विशेषताओं को आवरण करते हुए महत्वपूर्ण झांकियों को मुख्य अतिथि द्वारा पुरस्कृत किया गया स्टेडियम में भाई भ्रष्टाचार अन्याय असत्य और अत्याचार का प्रतीक रावण कुंभकरण एवं मेघनाथ की प्रतीकात्मक पुतले का दहन वेदाचार्य पंडित आनंद शास्त्री एवं आचार्य संपूर्णानंद के मंत्रोच्चार के साथ मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम ने तीर चला कर असत्य पर सत्य की विजय का एवं राम राज्य की स्थापना का संदेश दिया। उक्त गरिमा में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि देवतालाब विधानसभा के समाजसेवी डॉ एसएस तिवारी रहे अध्यक्षता देवेंद्र मिश्रा घोरहा महाराज जी ने किया विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला पंचायत सदस्य आशीष पटेल केपी शर्मा जी उपाध्यक्ष जनपद सदस्य दिनेश गुड्डू गुप्ता घुघरी सरपंच विशंभर तिवारी राजकुमार मिश्रा ब्रह्म प्रकाश शुक्ला दिनेश तिवारी रामलाल पटेल शिव बहोर मिश्रासंजय शुक्ला पंकज तोमर दीनदयाल जायसवाल दिनेश मिश्रा राजू गुप्ता लखन लाल गुप्ता गिरधारी लाल गुप्ता बस गोपाल तिवारी जय कुमार सिंह संतोष शुक्ला वीरेंद्र गुप्ता आनंद गुप्ता अजय गुप्ता राजभर गुप्ता रामचंद्र गुप्ता देवतालाब एवं एवं आसपास के सभी वर्ग के गणमान्य लोग महिलाएं एवं बच्चे उपस्थित रहे । कार्यक्रम के आयोजक देवतालाब सरपंच राजेंद्र गुप्ता एवं उनकी पूरी टीम कार्यक्रम के संयोजक देवा भारतीय एवं उनकी पूरी टीम तथा मंच का सफल संचालन डॉ शिवकुमार शुक्ला ने किया ।

24
99 views
  
3 shares