logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

रीवा/ सतना। राष्ट्रीय ग्रामीण पत्रकार संघ के सदस्य व कटनी के प्रेस संवाददाता दिनेश सोनी के साथ मैहर निवासी एक कथित पत्रकार द्वारा गाली गलौज करने व अभद्र भाषा का उपयोग करने के विरोध में आज सोमवार को सतना के पत्रकारों ने एकजुट होकर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा।

बताया जाता है कि कटनी निवासी दिनेश सोनी जो अपने मैहर निवासी मित्र व पत्रकार मुकेश श्रीवास्तव के साथ मैहर में दर्शन के लिए मंदिर गए थे तभी वहां ड्यूटी पर तैनात ए एस आई आर एल चौधरी ने उन्हें रोका। इस पर श्री सोनी व मुकेश श्रीवास्तव ने उन्हें अपना प्रेस कार्ड दिखाया।

इस पर एसआई श्री चौधरी के बगल में खड़े एक सावन जायसवाल नामक व्यक्ति ने दिनेश के हाथ से प्रेस का कार्ड लेकर फेकते हुए कहा कि मुझे प्रेस का कार्ड दिखाते हो मैं भी पत्रकार हूं। ऐसे लल्लू झल्लू कार्ड मैंने बहुत देखे हैं, चलो किनारे हटो और गाली गलौज की। तब मुकेश श्रीवास्तव व दिनेश सोनी ने गाली देने से मना करते हुए कहा कि हम पुलिस से बात कर रहे हैं तुम कौन हो ।उसने कहा मुझे नहीं पहचानते हो और पुनः गालियां देने लगा। इस पर ए एसआई द्वारा भी रोका गया, किंतु कथित पत्रकार    सावन जायसवाल धाराप्रवाह गालियां देता गया मारपीट करने के लिए भी उतारू हो रहा था, किंतु ए एसआई द्वारा बीच-बचाव करने पर दोनों लोग वहां से मैहर दर्शन करने चले गए।

उक्त घटना के विरोध में सोमवार को सतना के कुछ पत्रकारों ने एकत्र होकर सावन जायसवाल के विरुद्ध पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की है। 

राष्ट्रीय ग्रामीण पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष ननकू यादव ने कहा है कि पत्रकारिता की एक मर्यादा होती है। सावन जयसवाल जैसे लोग पत्रकार हो ही नहीं सकते। जो एक पत्रकार से इस प्रकार की भाषा में बात करेंगे तो वह आम जनमानस के बीच में किस प्रकार पत्रकारिता करेंगे। यह सोचा जा सकता है। ऐसे लोगों को पत्रकारिता करने का कोई हक नहीं है।

18
959 views
  
10 shares