logo
(Trust Registration No. 393)
अपने विचार लिखें....

रीवा। जिले के जवा तहसील के जवा थाना अन्तर्गत कुटिया टोला जनकहाई खुर्द गांव में  आज सुवह करीव 5 बजे के आसपास लोगो द्वारा शव को देखा गया, जिसकी जानकारी ग्रामीणों द्वारा तत्काल जवा पुलिस को दी गयी थी जहा पर जवा पुलिस ने शव को  जवा थाने लाकर पीएम हेतु सामुदायिक  स्वास्थ्य केंद्र जवा भेजा गया। 

मामला उस समय उलझ गया जब मृतक के भाई भगवान दास मांझी ने पीएम कराने से मना कर दिए, किसी तरह से तो पीएम हो गया लेकिन परिवारजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए जवा चौराहे  11 बजे से 2 बजे तक चक्काजाम कर सही जांचकर कार्यवाही की मांग करते रहे।

वहा पर  त्योंथर एसडीएम संजीव कुमार पांडेय और एसडीओपी समरजीत सिंह  जवा थाना प्रभारी कन्हैया सिंह  के समझाइस के बाद 2 बजकर  30 मिनट पर चक्काजाम को खोला गया।     और अस्वाशन दिया गया कि उक्त मामले की सही जांच कर मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद सख्त कार्यवाही की जाएगी। बताया जाता है विजय मांझी पिता रामसागर मांझी उम्र 30 वर्ष निवासी जेरव जो कल कुठिला पैरा अपने जीजा के यहा गया हुआ था और शाम को 6 बजे के आसपास वहा से अपने घर जेरव आ रहा था लेकिन सुवह तक घर नहीं पहुचा। सुवह घर वालो को मरने की  सूचना मिली।      जहा पर त्योंथर एसडीएम संजीव कुमार पांडे त्योंथर एसडीओपी समरजीत सिंह सहित सभी थानों के थाना प्रभारी और पुलिस बल मौजूद रहे । वही मृतक के भाई का कहना कि शव जनकहाई खुर्द के पास रोड किनारे मे मिला।   विजय अपने आप नही मरा बल्कि उसको जहर देकर मारा गया है,इसी बात को लेकर परिजन और गांव वालों  जवा चौराहे में चक्काजाम कर सही जांच कर न्याय की गुहार लगाई है। जहा पर जवा थाना प्रभारी का कहना है सुवह 5 बजे जनक हाई खुर्द गांव से शव मिलने की जानकारी मिली थी  घटना स्थल पर पहुचकर शव को जवा थाने में लाया गया और पीएम  कराया गया लेकिन परिजन हत्या की आशंका जताते हुए जवा चौराहे में चक्काजाम कर दिए जो समझाइस के बाद परिजन शव को लेकर घर चले गए। जिसकी जांच की जा रही है  यदि इसमें कोई भी दोषी पाए गए तो सख्त कार्यवाही की जाएगी। हकीकत क्या है ये तो मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही कहा जा सकता है की हत्या हुई है नेचुरल मृतु।

6
555 views
  
1 shares