logo
(Trust Registration No. 393)
Write Your Expression

क्या इस वर्ष लग पाएगा नौचंदी मेला

मार्च के आखिरी और अप्रैल के पहले सप्ताह में नागरिकों की भावनओं से जुड़े कई त्योहार मनाए जाने की बात सामने आ रही है। इनसे सांप्रदायिक सौहार्द और भाईचारा बढ़ेगा यह विश्वास के साथ कहा जा सकता है। शांति और कानून व्यवस्था भी बनी रहेगी क्योंकि पुलिस प्रशासन द्वारा खबरों के अनुसार मौहल्ला स्तर तक नागरिकों के सहयोग से चाक चैबंद कानून व्यवस्था बनाए रखने की जो तैयारी की जा रही है अगर वो लागू रही तो भयमुक्त वातावरण भी बना रहेगा। कोरोना को ध्यान में रखते हुए शब ए बारात पर आतिशबाजी चलाने और पटाखे फोड़ने पर कई जिलों में रोक लगाई गई बतायी जा रही है तो दूसरी तरफ बुलंदशहर में लगी जिला प्रदर्शनी में होने व वाली स्टार नाइट को प्रशासन द्वारा रद कर दिया गया है। अधिकारी कह रहे हैं कि अब सख्ती करनी होगी और अफसरों द्वारा निरंतर अधिकारियों की बैठकें ली जा रही हैं।
कोरोना के बढ़ते प्रभाव और प्रशासनिक अधिकारियेां द्वारा लिये जा रहे निर्णयों के चलते एक चर्चा विशेष रूप से सुनने को मिली कि हर वर्ष परंपरागत रूप से होली से एक रविवार छोड़ दूसरे रविवार को शुरू होने वाला मेला नौचदी इस वर्ष लग पाएगा या नहीं। जब इस पर ध्यान दिया गया तो लगा कि मेले मेें भीड़ भी जुटेगी। पूरी तौर पर सामूहिक रूप से लाॅकडाउन की गाइडलाइन का पालन कराना संभव नहीं होगा क्योकि मेले मे सभी आते जाते हैं तथा प्रशासन 10 साल से कम के बच्चों और 65 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को इससे दूर करने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में यह सोचने वालो की बात मे दम नजर आता है कि क्या मेला नौचंदी लग पाएगा।

वैसे भी इस वर्ष जिला पंचायत और नगर निगम के स्थान पर जिलाधिकारी की देखरेख मे यह मेला लगना है और इसकी व्यवस्था नगर निगम को करनी है जो पहले ही अपनी जिम्मेदारियों को सही प्रकार से अंजाम नहीं दे पा रहा है। अब देखना है कि अगले 20 दिन मंें नौचंदी को लेकर सरकार शासन प्रशासन और पुलिस क्या निर्णय लेती है।

– रवि कुमार विश्नोई
सम्पादक – दैनिक केसर खुशबू टाईम्स
अध्यक्ष – ऑल इंडिया न्यूज पेपर्स एसोसिएशन
आईना, सोशल मीडिया एसोसिएशन (एसएमए)
MD – www.tazzakhabar.com

13
8371 Views
13
8500 Views
0 Shares
Comment
13
8347 Views
16 Shares
Comment
13
8394 Views
0 Shares
Comment
15
8785 Views
0 Shares
Comment
13
8400 Views
36 Shares
Comment