logo

लर्निंग लाइफ लांग जर्नी है, ज्ञान की खोज कभी रुकनी नहीं चाहिए : मनोहर राघवन जमशेदपुर: एक्सएलआरआइ के पीजीडीएम ( जीएम

लर्निंग लाइफ लांग जर्नी है, ज्ञान की खोज कभी रुकनी नहीं चाहिए : मनोहर राघवन

जमशेदपुर: एक्सएलआरआइ के पीजीडीएम ( जीएम ) की ओर से सीएक्सओ सिरीज के तहत एक व्याख्यान का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में 3 M एशिया पैसिफिक पीटीइ लिमिटेड के पूर्व डायरेक्टर मनोहर राघवन उपस्थित थे. बीएम, एचआरएम व जीएम के प्लेसमेंट के कन्वेनर प्रोफेसर कनगराज ने उनका स्वागत किया. बड़े भौगोलिक क्षेत्रों में भी एक लीडर के तौर पर रणनीति बनाना व उसके कार्यान्वयन की बारीकियों से संबंधित विषय पर आयोजित उक्त कार्यक्रम में श्री राघवन ने अपनी बातों को विस्तार पूर्वक रखा. इस दौरान उन्होंने कहा कि किसी भी बिजनेस का प्राइमरी ऑब्जेक्टिव अपने कस्टमर व शेयरहोल्डर के लिए वैल्यू क्रिएट करना है. इसके अलावा, उन्होंने व्यवसाय परिदृश्य के लगातार विकसित होने वाली प्रकृति पर प्रकाश डाला. कहा कि जीवन में सीखना एक लाइफ लांग जर्नी है, ज्ञान की खोज कभी भी किसी भी परिस्थिति में रुकनी नहीं चाहिए. उन्होंने महत्वाकांक्षी बिजनेस लीडरों के लिए नेटवर्किंग के महत्वपूर्ण कौशल पर भी जोर दिया, क्योंकि यह उन्हें अवसरों, सलाहकारों और एक व्यापक पेशेवर समुदाय से जोड़ता है. इन बिंदुओं को स्पष्ट करने के लिए राघवन ने एक व्यक्तिगत कहानी भी साझा किया. जिसमें उन्होंने एथिक्स के प्रति कमिटमेंट, अच्छी चीजों को एडॉप्ट करने की प्रवृत्ति, पर्सनल व प्रोफेशनल लाइफ को अलग रखने का आह्वान किया. इस दौरान विद्यार्थियों ने कई सवाल भी किए, जिसका उन्होंने बखूबी जवाब दिया.

5
2088 views
  
1 shares