logo

छठ महापर्व: नहाय-खाय के साथ शुरू महापर्व, घाट पर होने लगी तैयारी

पीथमपुर (धार, मप्र)। नहाय-खाय के साथ बुधवार से छठ महापर्व की शुरुआत हो गई। पर्व को लेकर उत्तर भारतीय लोगों में विशेष उत्साह है। यहां करीब 50 हजार उत्तर भारतीय रहते है और इसमें से 20 हजार से ज्यादा लोग यह पर्व मनाते हैं। नहाय-खाय के दिन व्रतधारियों ने स्नान कर नए कपड़े पहने।

उन्होंने लौकी की सब्जी और चनेे की दाल शुद्ध घी में बनाकर भोग लगाया और इसे ही ग्रहण किया। व्रत के दूूसरे दिन गुरुवार को खरना है। इसमें गन्ने के रस मे खीर एवं घी में चुपड़ी हुई रोटी का भोग लगाया जाता है। इसे व्रतधारी खाते हैं। इसके साथ ही निर्जला उपवास रखते हैं।

पं देवेश शर्मा ने बताया कि धार्मिक मान्यताओं के अनुसार,छठी माता को सूूूर्य देेवता की बहन माना जाता है। कहा जाता है कि छठ पर्व में सूर्य की उपासना करने से छठ माता प्रसन्न होती है। यह पूूजन संतान के सुुुखी जीवन के लिए की जाती है। 

छठ पर्व को लेकर नगरपालिका द्वारा तालाबों की साफ-सफाई, घाटों पर लाइटिंग और अन्य सुविधाएं करवाई जा रही है। कोरोना को देखते हुए प्रशासन ने कोरोना प्रोटोकॉल के पालन की अपील की है इसी के मद्देनजर पुलिस की टीम व निगम अमला पूरी तरह मुस्तैद रहेगा।

All News